पूर्व मंत्री बादशाह सिंह के आवास से मिला लखनऊ से अपहृत व्यापारी पुत्र

लखनऊ। राजधानी लखनऊ से अपहृत व्यापारी पुत्र शिवम जायसवाल को पुलिस ने महोबा से बरामद कर लिया है। चौंकाने वाली बात यह है कि पुलिस ने छात्र शिवम को प्रदेश में पूर्व मंत्री रहे बादशाह सिंह के महोबा स्थित आवास से बरामद किया है। इस मामले में बादशाह सिंह के बेटे सूर्यदेव सिंह का नाम सामने आया है। पुलिस ने सूर्यदेव समेत एक अन्य को हिरासत में लिया है। बता दें कि इससे पहले लखनऊ के बहुचर्चित वैभव हत्याकांड मामले में भी पूर्व मंत्री बादशाह सिंह का नाम सामने आ चुका है।

Youth Kidnapped From Lucknow Recovered From House Of Ex Minister Badshah Singh In Mahoba :

महोबा में बादशाह सिंह के आवास पर पुलिस ने छापामार कर लखनऊ के व्यापारी अमित जायसवाल के पुत्र आयुष को बरामद कर लिया है। आरोप है कि बादशाह के बेटे सूर्यदेव उर्फ शिवा ने अपने तीन साथियों के साथ उसका अपहरण किया था। छापेमारी में लखनऊ क्राइम ब्रांच,सीओ चरखारी की संयुक्त टीम लगी रही। पुलिस ने वहां से तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। इन लोगों ने आयुष को खरेला वृद्ध आश्रम में रखा था।

सुबह तीन बजे पूर्व मंत्री बादशाह के बेटे सूर्यदेव सिंह उर्फ शिवा के साथ ही उसे साथी राजेश सविता को गिरफ्तार कर पुलिस टीम लखनऊ रवाना हुई। वहीं शिवम के पिता अमित का कहना है कि अपहरण के बाद 50 लाख की फिरौती की मांग की गयी थी।

पूरी कहानी में है झोल

इस मामले में कई तथ्य सामने आए है। पुलिस की पड़ताल में पता चला है कि अपहरण से पहले शिवम ने ही फोन कर आरोपी सूर्यदेव को लखनऊ के जनेश्वर मिश्र पार्क में बुलाया था। सूर्यदेव और शिवम के बीच फेसबुक पर दोस्ती थी। वहीं शिवम ने खुद के साथ मारपीट और अपहरण की जो कहानी बताई है, पुलिस को उस पर भी शक है।

लखनऊ। राजधानी लखनऊ से अपहृत व्यापारी पुत्र शिवम जायसवाल को पुलिस ने महोबा से बरामद कर लिया है। चौंकाने वाली बात यह है कि पुलिस ने छात्र शिवम को प्रदेश में पूर्व मंत्री रहे बादशाह सिंह के महोबा स्थित आवास से बरामद किया है। इस मामले में बादशाह सिंह के बेटे सूर्यदेव सिंह का नाम सामने आया है। पुलिस ने सूर्यदेव समेत एक अन्य को हिरासत में लिया है। बता दें कि इससे पहले लखनऊ के बहुचर्चित वैभव हत्याकांड मामले में भी पूर्व मंत्री बादशाह सिंह का नाम सामने आ चुका है। महोबा में बादशाह सिंह के आवास पर पुलिस ने छापामार कर लखनऊ के व्यापारी अमित जायसवाल के पुत्र आयुष को बरामद कर लिया है। आरोप है कि बादशाह के बेटे सूर्यदेव उर्फ शिवा ने अपने तीन साथियों के साथ उसका अपहरण किया था। छापेमारी में लखनऊ क्राइम ब्रांच,सीओ चरखारी की संयुक्त टीम लगी रही। पुलिस ने वहां से तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। इन लोगों ने आयुष को खरेला वृद्ध आश्रम में रखा था। सुबह तीन बजे पूर्व मंत्री बादशाह के बेटे सूर्यदेव सिंह उर्फ शिवा के साथ ही उसे साथी राजेश सविता को गिरफ्तार कर पुलिस टीम लखनऊ रवाना हुई। वहीं शिवम के पिता अमित का कहना है कि अपहरण के बाद 50 लाख की फिरौती की मांग की गयी थी। पूरी कहानी में है झोल इस मामले में कई तथ्य सामने आए है। पुलिस की पड़ताल में पता चला है कि अपहरण से पहले शिवम ने ही फोन कर आरोपी सूर्यदेव को लखनऊ के जनेश्वर मिश्र पार्क में बुलाया था। सूर्यदेव और शिवम के बीच फेसबुक पर दोस्ती थी। वहीं शिवम ने खुद के साथ मारपीट और अपहरण की जो कहानी बताई है, पुलिस को उस पर भी शक है।