भारत को युद्ध की धमकी देने वाले ‘ड्रैगन’ के अचानक बदल गये सुर

नई दिल्ली। सीमा पर बढ़ते विवाद के बीच चीन भारत के खिलाफ जहर उगल रहा है लेकिन अचानक आज चीन के हाव-भाव बदल गए। चीनी मीडिया के माध्यम से युद्ध की धम्की देने वाला चीन आज भारत की विदेशी नीतियों की तारीफ करता नज़र आया। बताते चलें कि राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल के​ ब्रिक्स के लिए चीनी दौरे पर हैं। इस दौरान चीन ने पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व और विदेश निवेश के लिए आर्थिक नीति की तारीफ की है।

बता दें​ कि चीन और भारत के बीच सिक्किम सीमा पर डोकलाम क्षेत्र को लेकर गतिरोध अब भी बना हुआ है। चीनी मीडिया लगातार भारतीय सेना को हटाने की धमकी दे रहा है। अब चीनी न्यूज एजेंसी सिन्हुआ ने ‘चीन-भारत सहयोग से खुले वैश्विक व्यापार, संरक्षणवाद के विरोध को प्रोत्साहन’ नाम की एक विशलेषणात्मक न्यूज रिर्पोट पर टिप्पणी की है।

इसमें कहा गया है कि वर्तमान विश्व में जहां संरक्षणवाद बढ़ रहा है उसके लिए भारत की खुली विदेश आर्थिक नीति एक महत्वपूर्ण ताकत है। भारत के लिए लिखा है कि इस दक्षिण एशियाई राष्ट्र ने एक सकारात्मक और खुली विदेश आर्थिक ​नीति अपनाई है और खुली विदेश व्यापार नीति का अहम समर्थक भी रहा है।

भारत सक्रिय रूप से विदेशी निवेश को आकर्षित कर रहा है, उसने अनुकूल निवेश वातावरण बनाया है और पिछले दो सालों से दुनिया में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश के लिए सबसे बड़ा स्थान रहा है। भारत में चीनी राजदूत लुओ झाओहुई ने कहा, ‘भारत की वर्तमान सुधार और खुली नीतियां बहुत आकर्षक हैं, जो ‘मेड इन इंडिया’ रणनीतिक कार्यक्रम को आगे बढ़ाती हैं।’

इसमें लिखा है कि ये दोनों विकासशील देशों का अंतरराष्ट्रीय अफेयर्स में समान नजरिया और पक्ष रखते हैं।उदाहरण के तौर पर भारत ने ग्रीन इकॉनोमी विकसित करने के लिए स्पष्ट प्रतिबद्धता जताई है और पेरिस जलवायु समझौते का चैंपियन रहा है।