भारत को दो वर्ल्ड कप जिताने वाले युवराज सिंह ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से लिया संन्यास

yuvraj singh
भारत को दो वर्ल्ड कप जिताने वाले युवराज सिंह ने क्रिकेट से लिया संन्यास

नई दिल्ली। भारत के 2011 विश्व कप में नायक रहे युवराज सिंह के संन्यास ले लिया। वनडे में टीम इंडिया के बेस्ट क्रिकेटरों में से एक युवराज इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास पर काफी गंभीरता से विचार कर रहे थे, और वह ICC से मान्यता प्राप्त विदेशी टी20 लीग में फ्रीलांस करियर बनाना चाहते हैं। युवराज इस साल IPL में मुंबई इंडियंस के लिए खेले थे। हालांकि उन्हें ज्यादा मौके नहीं मिले। वह आईसीसी से मान्यता प्राप्त विदेशी टी-20 लीग में फ्रीलांस करियर बनाना चाहते हैं।

Yuvraj Singh Who Won Two World Cups For India Retired From Cricket :

बीसीसीआई के एक सीनियर अधिकारी ने हाल में बताया था कि युवराज अंतरराष्ट्रीय और प्रथम श्रेणी क्रिकेट से संन्यास के बारे में सोच रहे हैं। इसकी जानकारी रखने वाले बीसीसीआई के एक सूत्र ने कहा, ‘वह बीसीसीआई से बात करना चाहेंगे और जीटी20 (कनाडा) और आयरलैंड व हॉलैंड में यूरो टी20 स्लैम में खेलने के बारे में चीजें स्पष्ट बरना चाहेंगे, क्योंकि उन्हें इसमें खेलने की पेशकश मिल रही हैं।’

युवराज इस साल आईपीएल में मुंबई इंडियंस की ओर से खेले, लेकिन उन्हें अधिक मौके नहीं मिले और संभवत: यही कारण है कि वह अपनी भविष्य की योजनाओं पर गंभीरता से विचार कर रहे हैं। इस बीच कुछ लोगों का मानना है कि अगर जहीर खान और वीरेंदर सहवाग दुबई में टी10 लीग का हिस्सा हो सकते हैं तो फिर युवराज को स्वीकृति क्यों नहीं मिल सकती।

नई दिल्ली। भारत के 2011 विश्व कप में नायक रहे युवराज सिंह के संन्यास ले लिया। वनडे में टीम इंडिया के बेस्ट क्रिकेटरों में से एक युवराज इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास पर काफी गंभीरता से विचार कर रहे थे, और वह ICC से मान्यता प्राप्त विदेशी टी20 लीग में फ्रीलांस करियर बनाना चाहते हैं। युवराज इस साल IPL में मुंबई इंडियंस के लिए खेले थे। हालांकि उन्हें ज्यादा मौके नहीं मिले। वह आईसीसी से मान्यता प्राप्त विदेशी टी-20 लीग में फ्रीलांस करियर बनाना चाहते हैं। बीसीसीआई के एक सीनियर अधिकारी ने हाल में बताया था कि युवराज अंतरराष्ट्रीय और प्रथम श्रेणी क्रिकेट से संन्यास के बारे में सोच रहे हैं। इसकी जानकारी रखने वाले बीसीसीआई के एक सूत्र ने कहा, ‘वह बीसीसीआई से बात करना चाहेंगे और जीटी20 (कनाडा) और आयरलैंड व हॉलैंड में यूरो टी20 स्लैम में खेलने के बारे में चीजें स्पष्ट बरना चाहेंगे, क्योंकि उन्हें इसमें खेलने की पेशकश मिल रही हैं।’ युवराज इस साल आईपीएल में मुंबई इंडियंस की ओर से खेले, लेकिन उन्हें अधिक मौके नहीं मिले और संभवत: यही कारण है कि वह अपनी भविष्य की योजनाओं पर गंभीरता से विचार कर रहे हैं। इस बीच कुछ लोगों का मानना है कि अगर जहीर खान और वीरेंदर सहवाग दुबई में टी10 लीग का हिस्सा हो सकते हैं तो फिर युवराज को स्वीकृति क्यों नहीं मिल सकती।