आईपीएल-10: युवराज के तूफ़ान में बहा बैंगलोर, सनराइजर्स को 35 रनों से मिली जीत

हैदराबाद| मौजूदा चैम्पियन सनराइजर्स हैदराबाद ने बुधवार को यहां उप्पल में राजीव गांधी अंतर्राष्ट्रीय स्टेडियम में बुधवार को हुए इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 10वें संस्करण के पहले मैच में युवराज सिंह (62) की धुआंधार पारी की बदौलत रॉयल चैलेंजर्स बैंग्लोर को 35 रनों से हरा दिया। सनराइजर्स से मिले 208 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए चैलेंजर्स टीम दो गेंद पहले ही में 172 रन बनाकर ऑल आउट हो गई।




युवराज को उनकी आतिशी पारी के लिए मैन ऑफ द मैच चुना गया। युवराज ने आईपीएल के इतिहास में अपना सबसे तेज अर्धशतक जड़ा।
लक्ष्य का पीछा करने उतरी चैलेंजर्स को मंदीप सिंह (24) और क्रिस गेल (32) ने अच्छी शुरुआत दिलाई। दोनों ने 10 के करीब औसत से 52 रन जोड़े। हालांकि दोनों ही खिलाड़ियों ने लगातार अंतराल पर अपने-अपने विकेट गंवा दिए।

मंदीप छठे ओवर की चौथी गेंद पर अफगानिस्तान के राशिद खान का शिकार हुए, जबकि गेल सातवें ओवर की तीसरी गेंद पर दीपक हुडा का शिकार बने। 21 गेंदों में दो चौके और तीन छक्के लगाकर अपने चिर-परिचित विस्फोटक अंदाज में नजर आ रहे गेल बड़ा शॉट खेलने के प्रयास में सीमा के पास सनराइजर्स के कप्तान डेविड वार्नर के हाथों लपके गए।

इसके बाद केदार जाधव (31) और ट्रेविस हेड (30) ने तीसरे विकेट के लिए 56 रनों की साझेदारी कर टीम को लक्ष्य की दिशा में बनाए रखने की पूरी कोशिश की। जाधव और हेड ने 10.83 की तेज रन गति से यह रन बटोरे। लेकिन जाधव दुर्भाग्यशाली रहे और बेन कटिंग के तेज थ्रो ने रन लेते हुए उनकी गिल्लियां बिखेर दीं। वह रनआउट हो पवेलियन लौटे। आईपीएल में पदार्पण मैच खेल रहे राशिद खान ने हेड को भी जल्द ही पवेलियन की राह दिखा दी और आईपीएल में अपना दूसरा विकेट लिया।




यहां से चैलेंजर्स के विकेट लगातार गिरने शुरू हो गए। चैलेंजर्स के कप्तान शेन वाटसन (22) भी खास नहीं कर सके। राशिद के अलावा आशीष नेहरा और भुवनेश्वर कुमार ने दो-दो विकेट चटकाए। बिपुल शर्मा ने मात्र एक ओवर गेंदबाजी की, जिसमें उन्होंने चार रन देकर एक विकेट भी हासिल किया। भुवनेश्वर हमेशा की तरह किफायती रहे। उन्होंने चार ओवरों के अपने स्पेल में 27 रन दिए।

इससे पहले, टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी सनराइजर्स ने निर्धारित 20 ओवरों में चार विकेट पर 207 रनों का चुनौतीपूर्ण स्कोर खड़ा किया। कप्तान वार्नर (14) का विकेट सस्ते में गंवाने के बाद सनराइजर्स ने जबरदस्त वापसी की, जिसमें मोइजेज हेनरिक्स (52) और युवराज के अर्धशतकीय योगदान शामिल हैं।

वार्नर का विकेट 19 के कुल स्कोर पर अनिकेत चौधरी ने लिया। दूसरे ओवर की दूसरी और तीसरी गेंद पर क्रमश: चौका और छक्का लगाने के बाद वार्नर चौथी गेंद पर चूक गए और उनके बल्ले से लगकर बैकवर्ड प्वाइंट पर गई गेंद को मंदीप सिंह ने लपक लिया। वार्नर पहली बार आईपीएल में चैलेंजर्स के खिलाफ बिना अर्धशतक बनाए लौटे। इससे पहले उन्होंने आईपीएल में चैलेंजर्स के खिलाफ सात मैच खेले थे और सातों बार अर्धशतक जमाया था।

वार्नर का विकेट गिरने का हालांकि सनराइजर्स पर कोई फर्क नहीं पड़ा। शिखर धवन (40) ने हेनरिक्स के साथ दूसरे विकेट के लिए 74 रनों की साझेदारी की। दोनों ने 8.37 के औसत से यह रन बटोरे। वाटसन द्वारा लाए गए छठे ओवर में 17 रन बटोरने वाले धवन 31 गेंद पर पांच चौके लगाकर स्टुअर्ट बिन्नी का शिकार बने। सचिन बेबी ने उनका कैच लपका।

इसके बाद हेनरिक्स का साथ देने युवराज उतरे। दोनों ने रनों की गति तेज करते हुए मात्र 29 गेंदों में 58 रन जोड़ डाले। 37 गेंदों में तीन चौका और दो छक्के की मदद से अर्धशतक जमा चुके हेनरिक्स तीसरे विकेट के तौर पर 151 के कुल योग पर पवेलियन लौटे। युजवेंद्र चहल की गेंद पर उनका कैच सचिन ने लपका।




युवराज ने इसके बाद कमान संभाली और आईपीएल इतिहास में अपना सबसे तेज अर्धशतक जड़ा। युवराज ने 25वीं गेंद पर चौके की मदद से अपना अर्धशतक पूरा किया। 27 गेंदों में सात चौके और तीन छक्के लगाने वाले युवराज की तूफानी पारी पर टाइमल मिल्स ने लगाम लगाया। 190 के कुल स्कोर पर युवराज क्लीन बोल्ड होकर पवेलियन लौटे।

चैलेंजर्स के कप्तान वाटसन ने अपने सात गेंदबाजों की इस्तेमाल किया, जिसमें अनिकेत और खुद वाटसन सबसे महंगे साबित हुए। दोनों 13 से अधिक की इकॉनमी से रन लुटाए।

Loading...