1. हिन्दी समाचार
  2. क्रिकेट
  3. युवराज छ: बाल पर छ: छक्के मारने के थे करीब, उन्होंने बताया क्यों नहीं किया फिर ऐसा

युवराज छ: बाल पर छ: छक्के मारने के थे करीब, उन्होंने बताया क्यों नहीं किया फिर ऐसा

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व क्रिकेटर और भारत को 2007 टी20 विश्व कप और 2011 वन डे विश्व कप जिताने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले पंजाब के क्रिकेटर युवराज सिंह ने कल खेली जा रही रोड सेफ्टी वर्ल्ड सीरीज में जोरदार फिफ्टी जड़ी। युवराज ने अपनी इस पारी के दौरान ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करते हुए महज 21 गेंदों में अपना अर्धशतक पूरा किया।

By शिव मौर्या 
Updated Date

Yuvraj Was Close To Hitting Six Sixes On Six Hairs Why Did He Not Do It Again

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व क्रिकेटर और भारत को 2007 टी20 विश्व कप और 2011 वन डे विश्व कप जिताने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले पंजाब के क्रिकेटर युवराज सिंह ने कल खेली जा रही रोड सेफ्टी वर्ल्ड सीरीज में जोरदार फिफ्टी जड़ी। युवराज ने अपनी इस पारी के दौरान ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करते हुए महज 21 गेंदों में अपना अर्धशतक पूरा किया।

पढ़ें :- धोनी के साथ तालमेल अच्छा क्यों रहा उनके टीम के दोस्त ने बताई वजह

युवराज की तूफानी पारी के चलते भारत की टीम ने आखिरी के पांच ओवरों में महज एक विकेट खोकर 80 रन बनाए और 200 का आंकड़ा पार कर लिया। इस मैच के दौरान लगा की 2007 विश्व कप में उनके द्वारा खेली गई इंग्लैंड के खिलाफ जोरादार पारी की याद ताजा हो गयी। कल के मैच में युवराज ने दक्षिण अफ्रीकी गेंदबाज जानडेर डि ब्रून के एक ही ओवर मे लगातार चार छक्के जड़कर उन्होंने अपनी पारी को यादगार बना दिया।

जब उन्होंने चार गेंदो पर चार छक्के जड़े तब लगा 2007 के इतिहास को वो दोहरायेंगे। उन्होंने 2007 में खेले गए टी-20 वर्ल्ड कप के उस मैच की यादें ताजा कर दीं, जब उनके बल्ले से इंग्लैंड के तेज गेंदबाज स्टुअर्ट ब्रॉड के एक ही ओवर में छह छक्के निकले थे। लेकिन उन्होंने बताया है कि उन्होंने वैसा क्यों नही किया। यहां अपनी पारी को लेकर उन्होंने कहा कि, लगातार चार छक्के जड़ने के बाद मैं पांचवें की तलाश में था।

उस समय मैं सोच रहा था कि गेंदबाज गेंद मेरे एरिया में डाले। लेकिन तभी मुझे यह याद आया कि अभी पारी के आखिरी दो ओवर बाकी हैं। इसलिए मैंने आखिरी गेंद पर स्ट्राइक रोटेट करने का फैसला किया क्योंकि मैं पारी के आखिर तक बल्लेबाजी करना चाहता था। मैं खुश हूं कि ऐसा मैं कर पाया।

 

पढ़ें :- WTC: इंग्लैंड के पूर्व क्रिकेटर ने बताया, टीम साउथी हो सकते हैं भारत के लिए खतरा

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
X