1. हिन्दी समाचार
  2. दुनिया
  3. अफगानिस्तान: कंधार में कवरेज के दौरान भारतीय पत्रकार दानिश सिद्दिकी की हत्या, पुलित्जर अवार्ड विजेता थे

अफगानिस्तान: कंधार में कवरेज के दौरान भारतीय पत्रकार दानिश सिद्दिकी की हत्या, पुलित्जर अवार्ड विजेता थे

अफगानिस्तान में भारतीय पत्रकार दानिश सिद्दिकी की हत्या हो गई है। वह रॉयटर्स के लिए काम करते थे। अफगानिस्तान के समाचार चैनल टोलो न्यूज ने सूत्रों के हवाले से बताया है, सिद्दीकी की मौत स्पिन बोल्डक इलाके में हुई है।

By अनूप कुमार 
Updated Date

नई दिल्ली: अफगानिस्तान में भारतीय पत्रकार दानिश सिद्दिकी की हत्या हो गई है। वह रॉयटर्स के लिए काम करते थे। अफगानिस्तान के समाचार चैनल टोलो न्यूज ने सूत्रों के हवाले से बताया है, सिद्दीकी की मौत स्पिन बोल्डक इलाके में हुई है। जो कंधार प्रांत में स्थित है। यहां इस समय भीषण हिंसा हो रही है। सिद्दिकी बीते कुछ दिनों से कंधार में जारी हालात की कवरेज कर रहे थे।

पढ़ें :- नकली दूध पर Supreme Court आदेश का दरकिनार, भारत का भविष्य बन रहा है भयानक बीमारियों का शिकार

 

अफगानिस्तान के प्रमुख टीवी चैनल टोलो न्यूज के संपादक लोतफुल्ला नजफिदा ने दानिश सिद्धिकी की मौत की पुष्टि ट्विटर पर की है। उन्होंने दानिश सिद्धिकी की मौत की पुष्टि करते हुए ट्विटर पर लिखा है कि ”ये सुनकर गहरा आघात लगा है कि मेरे भारतीय दोस्त, पुलित्जर अवार्ड विजेता पत्रकार, दानिश सिद्धिकी की कंधार में हत्या कर दी गई है।

 

 

 

दानिश सिद्दीकी की गिनती दुनिया के बेहतरीन फोटो जर्नलिस्ट में होती थी। वह मौजूदा वक्त में अंतरराष्ट्रीय एजेंसी के साथ कार्यरत थे। साल 2018 में दानिश सिद्दीकी को Pulitzer Prize से नवाजा गया था, ये अवॉर्ड उन्हें रोहिंग्या मामले में कवरेज के लिए मिला था। दानिश सिद्दीकी ने अपने करियर की शुरुआत एक टीवी जर्नलिस्ट के रूप में की थी, बाद में वह फोटो जर्नलिस्ट बन गए थे।दानिश सिद्दीकी ने साल 2008 से 2010 के बीच इंडिया टुडे ग्रुप के साथ भी काम किया है।

पढ़ें :- कैब चालक की पिटाई का मामला: 10 हजार की वसूली का आरोप लगाकार आपस में भिड़े इंस्पेक्टर और दारोगा

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...