1. हिन्दी समाचार
  2. ताजा खबरें

ताजा खबरें

गुलाम नबी आजाद ने की नरेंद्र मोदी की तारीफ, देखें क्या कहा

गुलाम नबी आजाद ने की नरेंद्र मोदी की तारीफ, देखें क्या कहा

नई दिल्ली। गुलाम नबी आजाद की विदाई समारोह में राज्यसभा में पीएम नरेंद्र मोदी ने उनकी जमकर तारीफ की थी। उनसे जुड़ी एक घटना को याद करके पीएम भावुक भी हो गए थे। पीएम मोदी ने आजाद को सैल्यूट किया था। बाद में गुलाम नबी आजाद भी भावुक हो गए

WTC : पाकिस्तान को पूरा विश्वास, भारत ही खेलेगा विश्व टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल

WTC : पाकिस्तान को पूरा विश्वास, भारत ही खेलेगा विश्व टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल

नई दिल्ली। भारत और इंग्लैंड के बीच चार टेस्ट मैचों की सीरीज के परिणाम से ही विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के दूसरे फाइनलिस्ट का फैसला होना है। फाइनल में न्यूजीलैंड की टीम पहले ही पहुंच चुकि है। इसके लिए किसी भी टीम को सीरीज को कम से कम 2—1 से जीतना

विषेश राज्य का दर्जा पुन: वापस पाने के लिए जम्मू-कश्मीर में हो सकता है किसानों जैसा आंदोलन

विषेश राज्य का दर्जा पुन: वापस पाने के लिए जम्मू-कश्मीर में हो सकता है किसानों जैसा आंदोलन

जम्मू। देश में भाजपा की केंद्र सरकार के द्वारा लाये गये तीन कृषि कानूनों के विरोध में किसान करीब तीन महीनों से आंदोलनरत हैं। इस आंदोलन को सफल बनाने के लिए उन्होंने हर संभव प्रयास किया है। सरकार से ग्यारह दौर की वार्ता होने के बाद भी कोई निष्कर्ष नहीं

IND Vs ENG test series: सामने आई बुमराह के अंतिम टेस्ट में ना खेलने की वजह

IND Vs ENG test series: सामने आई बुमराह के अंतिम टेस्ट में ना खेलने की वजह

नई दिल्ली। भारत और इंग्लैंड के बीच चार टेस्ट मैचों की सीरीज खेली जा रही है। इस सीरीज से विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के दूसरे फाइनलिस्ट का फैसला होना है। फाइनल में न्यूजीलैंड की टीम पहले ही जगह बना चुकि है। भारत या इंग्लैंड को फाइनल में पहुंचने के लिए इस

जब Petrol diesel हुआ 100 के पार, शख्स ने बांटे लड्डू मनाया… देखें VIDEO

जब Petrol diesel हुआ 100 के पार, शख्स ने बांटे लड्डू मनाया… देखें VIDEO

नई दिल्ली: महंगाई की मार आमादमी को कई तरह के संकट में डाल रही है। दरअसल, जबसे पेट्रोल और डीजल की कीमत 100 के पार हुई है तबसे मानो आम आदमी की कमर टूटने लगी है। आपको बता दें, पेट्रोल 100 रुपये प्रति लीटर बिकने लगा है और इसी के चलते

Gold rate: कल सोना होगा अब तक सबसे सस्ता, जानिए कितना गिरेगा होगा सोना- चांदी का भाव

Gold rate: कल सोना होगा अब तक सबसे सस्ता, जानिए कितना गिरेगा होगा सोना- चांदी का भाव

नईदिल्ली। केंद्र सरकार ने सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम की शुरुआत एक मार्च से करने जा रही है, इस योजना की शुरुआत नवंबर 2015 में हुई थी, इसका मकसद भौतिक रूप से सोने की मांगों में कमी लाना है, यानी कि इस योजना में लोग ज्वेलरी के बदले गोल्ड बॉन्ड खरीद सकते

BJP नेता के मछली से जुड़ी तंज के बाद, मतस्य विभाग की जानकारी ना होने पर अमित शाह ने RAHUL को घेरा

BJP नेता के मछली से जुड़ी तंज के बाद, मतस्य विभाग की जानकारी ना होने पर अमित शाह ने RAHUL को घेरा

कराइकल। देश के गृहमंत्री अमित शाह आज पुदुच्चेरी के दौरे पर है। जहां वो चुनावी सभा को संबोधित कर रहे थे। आपको बता दें कि देश के 4 राज्यों और 1 केंद्र शासित प्रदेश में विधान सभा के चुनाव होने वाले हैं। अभी कुछ दिनों पहले पुदुच्चेरी में कांग्रेस की

सुंदरता के लिए बेहतरीन चीज़ें मिल जाएंगी आपके किचन में, बस करें सही तरीके का इस्तेमाल

सुंदरता के लिए बेहतरीन चीज़ें मिल जाएंगी आपके किचन में, बस करें सही तरीके का इस्तेमाल

नई दिल्ली:  दाग-धब्बों के इलाज के लिए क्रीम लगाकर और बाकी तरीके आजमाकर थक गए हैं तो क्यों न एक बार नजर दौड़ाएं अपने घर के किचन में। किचन में मौजूद कई घरेलू चीजें दाग हटाने में मदद कर सकती हैं। आपको बता दें, सदियों से घरेलू उपचार के जरिए कई

Kangana Ranaut का Twitter के सीईओ पर फूटा गुस्सा, कहा- चाचा जैक और उनकी टीम मुझसे डर गई

Kangana Ranaut का Twitter के सीईओ पर फूटा गुस्सा, कहा- चाचा जैक और उनकी टीम मुझसे डर गई

नई दिल्ली: बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत अपने विवादित बयानो के चलते अक्सर सुर्खियों में बनी रहतीं हैं। दरअसल, कंगना शनिवार को ट्विटर पर आंशिक रूप से उनके अकाउंट को बैन किए जाने की बात पर कंपनी के सीईओ जैक डोर्सी को जमकर खरी-खोटी सुनाई है। कंगना ने शनिवार को ट्वीट किया, “मैं आंशिक रूप

कर्ज के बोझ तले दबा जा रहा है पाकिस्तान, दिवालिया हो गई कई कंपनियां

कर्ज के बोझ तले दबा जा रहा है पाकिस्तान, दिवालिया हो गई कई कंपनियां

इस्लामाबाद। पाकिस्तानी संसद अपने निर्वाचन क्षेत्रों के लिए विकास निधि का आवंटन ‘कम और लड़ाई अधिक’ करती है। पाक के सत्ता में आने वाली सभी सरकारों में विभिन्न हित समूह शामिल होते हैं, जो अपने स्वार्थों को बढ़ावा देते हैं और शासन के आर्थिक पक्ष पर थोड़ा भी ध्यान नहीं