1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. कोरोना का बढ़ा प्रकोप : केजरीवाल सरकार ने स्कूलों के लिए जारी की SOP, जानें किस पर लगा प्रतिबंध

कोरोना का बढ़ा प्रकोप : केजरीवाल सरकार ने स्कूलों के लिए जारी की SOP, जानें किस पर लगा प्रतिबंध

देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस के प्रकोप बढ़ता जा रहा है। इसके बीच दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल कहा कि अभी स्कूलों को बंद नहीं किया जाएगा। हालांकि, केजरीवाल सरकार ने स्कूलों के लिए कोरोना वायरस के रोकथाम और इससे बचने के उपायों के तहत शुक्रवार को एक एसओपी जारी कर दी है। दिल्ली सरकार की ओर से जारी कोविड19 एसओपी के मुताबिक, स्कूल में बच्चे न तो अब लंच बॉक्स और किताबें शेयर कर पाएंगे और न ही बगैर थर्मल स्कैनिंग के एंट्री होगी।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस के प्रकोप बढ़ता जा रहा है। इसके बीच दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल कहा कि अभी स्कूलों को बंद नहीं किया जाएगा। हालांकि, केजरीवाल सरकार ने स्कूलों के लिए कोरोना वायरस के रोकथाम और इससे बचने के उपायों के तहत शुक्रवार को एक एसओपी जारी कर दी है। दिल्ली सरकार की ओर से जारी कोविड19 एसओपी के मुताबिक, स्कूल में बच्चे न तो अब लंच बॉक्स और किताबें शेयर कर पाएंगे और न ही बगैर थर्मल स्कैनिंग के एंट्री होगी।

पढ़ें :- गौतम अडानी का साम्राज्य तबाह करने वाले नाथन एंडरसन जानें कौन हैं?

दिल्ली सरकार ने शुक्रवार को स्कूलों के लिए कोविड-19 संबंधी दिशा निर्देश जारी किया है। कहा कि छात्रों व कर्मचारियों को बिना थर्मल स्कैनिंग के स्कूल परिसर में प्रवेश करने नहीं दिया जाए। इसमें यह भी कहा गया है कि अभिभावकों को सलाह दी जानी चाहिए कि वे बच्चों के कोरोना वायरस संक्रमित पाए जाने पर उन्हें स्कूल न भेजें।

दिल्ली सरकार द्वारा जारी कोरोना एसओपी में क्या-क्या है?

-स्कूल में बच्चे लंच बॉक्स और किताबें साझा नहीं करेंगे।
-थर्मल स्कैनिंग के बिना स्कूलों में एंट्री नहीं होगी।
-छात्रों की हर दिन होगी हेल्थ निगरानी।
-स्कूलों में अलग से क्वारंटाइन रूम बनाया जाएगा।
-छात्रों का टीकाकरण उनकी उम्र के हिसाब से अनिवार्य।
-स्कूल से निकलते वक्त या स्कूल में प्रवेश करते वक्त कोई भीड़-भाड़ न हो, इसके लिए सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल रखना होगा।

बता दें कि दिल्ली में कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के उपायों पर विचार करने के लिए बीते दिनों डीडीएमए की बैठक हुई थी। इस बैठक में स्कूलों को खुले रखने का फैसला लिया गया था। बैठक के बाद ही केजरीवाल सरकार ने कहा था कि स्कूलों को बंद तो नहीं किया जाएगा, मगर कोरोना वायरस के प्रसार के बीच कैसे स्कूलों का बेहतर संचालन हो, इसके लिए एक एसओपी जारी की जाएगी।

पढ़ें :- जिस देश के युवा उत्साह और जोश से भरे हुए हों, उस देश की प्राथमिकता सदैव युवा ही होंगे: पीएम मोदी

डीडीएमए ने दिल्ली के स्कूलों में दर्ज किए जा रहे कोरोना वायरस के मामलों का संज्ञान लिया है। विशेष रूप से दिल्ली एनसीआर क्षेत्र के स्कूलों में कर्मचारियों और छात्रों में कोरना ​​संक्रमण की सूचना के बाद इस पर ध्यान दिया। इन्हीं बातों के चलते मास्क को अनिवार्य किया गया है और सभी से इसे पालन करने की अपील की गई है। बता दें कि इसी बैठक में दिल्ली में सार्वजनिक जगहों पर मास्क को अनिवार्य कर दिया गया।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...