1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. मायावती बोलीं- Yogi cabinet expansion भाजपा का छल, इनके दोहरे चाल-चरित्र से बहुजन समाज रहे सावधान

मायावती बोलीं- Yogi cabinet expansion भाजपा का छल, इनके दोहरे चाल-चरित्र से बहुजन समाज रहे सावधान

बहुजन समाज पार्टी (Bahujan samaj party) सुप्रीमो मायावती (Mayawati ) ने योगी मंत्रिमंडल विस्तार (Yogi cabinet expansion) को लेकर भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party) पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि भाजपा (BJP) ने जातिगत आधार (Caste Basis) पर सिर्फ वोट बैंक (Vote Bank) को साधने के लिए नए मंत्री बनाए हैं।

By संतोष सिंह 
Updated Date

लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी (Bahujan samaj party) सुप्रीमो मायावती (Mayawati ) ने योगी मंत्रिमंडल विस्तार (Yogi cabinet expansion) को लेकर भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party) पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि भाजपा (BJP) ने जातिगत आधार (Caste Basis) पर सिर्फ वोट बैंक (Vote Bank) को साधने के लिए नए मंत्री बनाए हैं।

पढ़ें :- सरकारी कृपादृष्टि से भारत के उद्योगपतियों की पूंजी में अभूतपूर्व वृद्धि लेकिन 130 करोड़ जनता की स्थिति में सुधार नहीं : मायावती

मायावती (Mayawati ) ने सोमवार को ट्वीट कर कहा कि भाजपा ने रविवार को उत्तर प्रदेश में जातिगत आधार (Caste Basis) पर वोटों को साधने के लिए जिनको भी मंत्री बनाया है। उन्होंने कहा कि बेहतर होता कि वे लोग इसे स्वीकार नहीं करते,क्योंकि जब तक वे अपने-अपने मंत्रालय को समझकर कुछ करना भी चाहेंगे, तब तक यहाँ चुनाव आचार संहिता (Election code of conduct ) लागू हो जायेगी।

पढ़ें :- क्या फिर बसपा और सपा आ सकते हैं साथ, लोकसभा चुनाव 2024 से पहले हो सकता है गठबंधन

उन्होंने कहा कि पिछड़े समाज के विकास तथा उत्थान के लिए अभी तक वर्तमान भाजपा सरकार (BJP Government) ने कोई भी ठोस कदम नहीं उठाये हैं, बल्कि इनके हितों में पूर्व की बसपा सरकार (BSP Government) ने जो भी कार्य शुरू किये थे, उन्हें भी अधिकांश बन्द कर दिया गया है। इनके इस दोहरे चाल-चरित्र से इन वर्गाें को सावधान रहने की सलाह है।

मायावती (Mayawati )  ने योगी सरकार (Yogi Government)  पर किसानों के हितों की अनदेखी का आरोप लगाया है। कहा कि भाजपा सरकार (BJP Government)पूरे साढ़े चार वर्षों तक यहाँ के किसानों की घोर अनदेखी करती रही व गन्ना का समर्थन मूल्य नहीं बढ़ाया, जिस उपेक्षा की ओर सात सितम्बर को बसपा (BSP) के प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन में मेरे द्वारा इंगित किया गया। अब चुनाव से पहले इनको गन्ना किसान की याद आई है, जो इनके स्वार्थ को दर्शाता है।

पढ़ें :- अखिलेश ने चली बड़ी चाल, बोले- बाबा साहब व लोहिया के सिद्धांतों पर चलने वाले लोग संविधान और लोकतंत्र बचाने का करें काम

उन्होंने कहा कि केन्द्र व योगी सरकार (Yogi Government) की किसान-विरोधी नीतियों (Anti-Farmer Policies) से पूरा किसान समाज काफी दुःखी व त्रस्त है, लेकिन अब चुनाव से पहले गन्ना का समर्थन मूल्य को थोड़ा सा बढ़ाना खेती-किसानी की मूल समस्या का सही समाधान नहीं। ऐसे में किसान इनके किसी भी बहकावे में आने वाला नहीं है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...