1. हिन्दी समाचार
  2. दुनिया
  3. कोरोना संकट के दौरान रूस ने फिर दिखाई दोस्ती, वैक्सीन Sputnik V की भेजेगा दूसरी खेप

कोरोना संकट के दौरान रूस ने फिर दिखाई दोस्ती, वैक्सीन Sputnik V की भेजेगा दूसरी खेप

देश में कोरोना से हाहाकार मचाा हुआ है। दूसरी लहर के कारण हर तरफ तबाही मची हुई है। हालांकि, कोरोना से जंग जीतने में वैक्सीन अहम हथियार बनी हुई है। देश में तेजी से वैक्सीनेशन का काम जारी है। इस बीच रूस ने एक बार फिर भारत के सबसे अच्‍छे दोस्‍त की भूमिका में उसके साथ खड़ा है।

By शिव मौर्या 
Updated Date

Russia Again Shows Friendship During The Corona Crisis The Vaccine Will Send Sputnik Vs Second Shipment

नई दिल्‍ली। देश में कोरोना से हाहाकार मचाा हुआ है। दूसरी लहर के कारण हर तरफ तबाही मची हुई है। हालांकि, कोरोना से जंग जीतने में वैक्सीन अहम हथियार बनी हुई है। देश में तेजी से वैक्सीनेशन का काम जारी है। इस बीच रूस ने एक बार फिर भारत के सबसे अच्‍छे दोस्‍त की भूमिका में उसके साथ खड़ा है।

पढ़ें :- सर्वे में खुलासा : एक बार कोविड पॉजिटिव होने वालों को दोबारा संक्रमण का खतरा कम

रूस अगले दो दिनों में कोरोना वैक्सीन स्पूतनिक वी (Sputnik V) के टीकों 150,000 खुराकों की दूसरी खेप भेज रहा है। इसके साथ ही तीस लाख खुराक मई के अंत तक हैदराबाद स्थित डॉ. रेड्डीज लैब में उतरने वाली है। रूस की ओर से कहा गया है कि वह जून के महीने में भारत को 50 लाख जबकि जुलाई में एक करोड़ से अधिक वैक्‍सीन भेजेगा।

इसके साथ ही चार ऑक्‍सीजन उत्‍पन्‍न करने वाले ट्रक भी भेज रहा है। इनकी खासियत ये है कि प्रति घंटे 70 किलोग्राम ऑक्‍सीजन और प्रतिदिन 50,000 किलोग्राम ऑक्‍सीजन का उत्पादन कर सकते हैं। भारत की ओर से बताया गया कि चार ऐसे ट्रकों की खरीद पहले ही की जा चुकी है, जिससे ऑक्‍सीजन की कमी को पूरा किया जा सके। ये ट्रक रूसी आईएल-76 विमान से इस सप्ताह के अंत तक भारत में उतरेंगे।

 

पढ़ें :- भारत-चीन के बीच विवाद पर रूस के राष्ट्रपति का आया बयान, कहा-कोई भी तीसरी ताकत न दें दखल

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
X