1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. झूठे वादे और गलत निर्णय की वजह से पूरा देश संकट के दौर से गुजर रहा है: Shivpal Singh Yadav

झूठे वादे और गलत निर्णय की वजह से पूरा देश संकट के दौर से गुजर रहा है: Shivpal Singh Yadav

यूपी की सत्ता से बीजेपी को बेदखल करने के लिये सेक्युलर विचारधारा (secular ideology) के दलों की एकता के संकल्प के साथ प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (प्रसपा) अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव (Shivpal Singh Yadav)  ने मंगलवार को कान्हा की नगरी मथुरा से 'सामाजिक परिवर्तन यात्रा' (Samajik Parivartan Yatra) की शुरू की है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

मथुरा । यूपी की सत्ता से बीजेपी को बेदखल करने के लिये सेक्युलर विचारधारा (secular ideology) के दलों की एकता के संकल्प के साथ प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (प्रसपा) अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव (Shivpal Singh Yadav)  ने मंगलवार को कान्हा की नगरी मथुरा से ‘सामाजिक परिवर्तन यात्रा’ (Samajik Parivartan Yatra) की शुरू की है।

पढ़ें :- Murder: मॉर्निंग वॉक निकले अखिलेश का बदमाशों ने पूछा नाम, फिर गोली मारकर कर दी हत्या

इस अवसर पर शिवपाल सिंह यादव (Shivpal Singh Yadav)  ने कहा कि आज परिवर्तन की जरूरत है। इसीलिए रथ का नाम सामाजिक परिवर्तन रथ रखा गया है। आज शुभ दिन से हमने इसे मथुरा वृंदावन से शुरू किया है। अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) के कानपुर से ‘समाजवादी विजय रथ यात्रा’ (Samajwadi Vijay Rath Yatra) शुरू करने को लेकर सवाल पर उन्होंने कहा कि चुनाव का समय है तो सभी लोग अपनी-अपनी यात्रा शुरू करेंगे, लेकिन एक बात तो है कि जितनी बातें की गई थीं, जितने वादे किए गए थे, वे पूरे नहीं किए गए। शिवपाल ने कहा कि झूठे वादे और गलत निर्णय की वजह से पूरा देश संकट के दौर से गुजर रहा है।

शिवपाल सिंह यादव (Shivpal Singh Yadav)  ने सभी सेक्युलर दलों से सत्ता परिवर्तन के लिए एक हो जाने की अपील की और अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav)  से मतभेद पर भी बात की। उन्होंने कहा कि अगर सभी एक हो जाएं तो सत्ता परिवर्तन बहुत आसान हो जाएगा। मैंने बहुत प्रयास किया है और अभी संभावनाएं हैं और राजनीति में संभावनाएं कभी खत्म नहीं होतीं। उन्होंने कहा कि 40 साल तक समाजवादी पार्टी (Samajwadi  Party) में काम किया और नेताजी के साथ पार्टी को बुलंदी तक पहुंचाया है। कई बार कहा है कि मेरी पहली प्राथमिकता समाजवादी पार्टी है लेकिन साथ ही साथ और पार्टियां भी हैं जिनकी विचारधारा एक जैसी है। वक्त आएगा तो इसका खुलासा भी हो जाएगा कि और कौन-कौन सी पार्टियां हैं?

शिवपाल सिंह यादव (Shivpal Singh Yadav) ने इसे धर्म युद्ध बताया और कहा कि हम जनता के बीच जाएंगे और कहीं न कहीं जनता हमें कृष्ण के रूप में सारथी जरुर मानेगी। नेताजी का आशीर्वाद तो हमारे ऊपर हमेशा रहा ही है। वे हमेशा हमारे दिल में हैं। अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) को अर्जुन बनाने के सवाल पर उन्होंने कहा कि मैंने तो बहुत प्रयास किया है। हमारे पास बहुत लोग हैं हमारी पार्टी में भी। सपा को कई बार सत्ता में लेकर आए हैं। 2022 में प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (Progressive Samajwadi Party) सत्ता में आए। जैसे-जैसे चुनाव नजदीक आएगा, छोटी पार्टियों से बात करेंगे।

श्री यादव ने सुबह वृन्दावन में श्री बांके बिहारी मंदिर में पूजा अर्चना के बाद अत्याधुनिक उपकरणों से सुसज्जित पार्टी के रंग में रंगी डीलक्स बस में सवार हो गये। बस में सपा संस्थापक मुलायम सिंह यादव और शिवपाल के साथ पार्टी महासचिव आदित्य यादव की फोटो लगी हुयी है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश की जनता महंगाई, बेरोजगारी, भ्रष्टाचार और महिला सुरक्षा जैसी तमाम ज्वलंत समस्यायों से जूझ रही है। इससे निजात तभी पायी जा सकती है, जब सत्ता में काबिज भाजपा का सफाया हो।

पढ़ें :- अखिलेश यादव पर बीजेपी का तंज, कहा-रामनवमी और महानवमी में क्या अंतर है, वो 'राम' और 'परशुराम' की बात करते हैं

पार्टी महासचिव रघुराज शाक्य (Party General Secretary Raghuraj Shakya) ने बताया कि 27 नवम्बर तक चलने वाली यह यात्रा सात चरणों में सम्पन्न होगी। इस दौरान पार्टी अध्यक्ष शिवपाल यादव जगह जगह जनसभा को संबोधित करेंगे। उन्होने कहा कि आज शाम आगरा विश्राम के बाद यात्रा कल यानी बुधवार को इटावा के लिए रवाना होगी। 14 अक्टूबर को औरैया में यात्रा के पहले चरण का समापन होगा। अटल्ला चुंगी, वृन्दावन से भव्य कार्यक्रम और सैकड़ो ब्राम्हणों के शंखनाद के बाद मथुरा की ओर यात्रा अग्रसर है। रथ यात्रा के चलते हालांकि वृंदावन और मथुरा में यातायात व्यवस्था बुरी तरह प्रभावित हुयी। रथ यात्रा निकलने के बाद घंटों लोग जाम में फंसे रहे। इससे विदेशी श्रद्धालुओं को भी मुसीबत का सामना करना पड़ा।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...