1. हिन्दी समाचार
  2. जीवन मंत्रा
  3. एक्ने की समस्या से ऐसे जल्द पाना चाहतें हैं छुटकारा, करें इन घरेलू नुस्खों का इस्तेमाल

एक्ने की समस्या से ऐसे जल्द पाना चाहतें हैं छुटकारा, करें इन घरेलू नुस्खों का इस्तेमाल

एक्ने और पिम्पल्स की समस्या बार-बार चेहरे को छूने, कॉस्मेटिक्स के इस्तेमाल और हाइजिन की कमी के कारण बढ़ जाती है। वैसे तो बैलेंस्ड डाइट और पानी पीने की मात्रा बढ़ाने से पिंपल्स से छुटकारा पाया जा सकता है।

By आराधना शर्मा 
Updated Date

नई दिल्ली: पिंपल्स की समस्या होने से हमारा चेहरा दाग धब्बों वाला दिखाई देता है। जिसके कारण हमारा मूड अक्सर खराब हो जाता है। एक्ने और पिम्पल्स की समस्या बार-बार चेहरे को छूने, कॉस्मेटिक्स के इस्तेमाल और हाइजिन की कमी के कारण बढ़ जाती है। वैसे तो बैलेंस्ड डाइट और पानी पीने की मात्रा बढ़ाने से पिंपल्स से छुटकारा पाया जा सकता है।

पढ़ें :- High Energy : दिनभर भरपूर ऊर्जा के लिए खाएं ऐसा भोजन, थकान और तनाव से मुक्त हो जाएंगे

लेकिन कुछ ऐसे घरेलू उपाय है जिनकी मदद से आप पिंपल्स की समस्या से राहत पा सकते हैं। तो चलिए हम आपको बताते हैं कि कैसे आप इन पिंपल्स की समस्या से छुटकारा पाए…

बेकिंग सोडा

एक्ने की समस्या दूर करने के लिए सबसे पहले बेकिंग सोडा को पानी के साथ मिलाकर उसका पेस्ट बना लें। इस पेस्ट को चेहरे पर लगाने से एक्ने की समस्या से आसानी से निजात मिल सकती है। इस पेस्ट को चेहरे पर लगाकर सूखने दें। जब यह अच्छे से सूख जाए तो चेहरे को गुनगुने पानी से धो लें।

पिसा पपीता

पढ़ें :- इस तरह से हटाइए अपने चेहरे की झुर्रियां, देखें पूरी प्रक्रिया

पपीता चेहरे की पिंपल्स को दूर करने के साथ-साथ डेड स्किन को भी हटाता है। यदि आप इसे पीस कर चेहरे पर लगाकर 15 से 20 मिनट के लिए छोड़ दें और सूख के बाद गुनगुने पानी से धो कर कोई अच्छा सा मॉइश्चराइजर लगा लें, तो ऐसा करने से आपके चेहरे पर आने वाले पिंपल कुछ ही हफ्तों में दूर हो सकते हैं।

नीम

जैसा कि नीम के फल, पत्तियां और यहां तक की छाल भी पॉवरफुल एंटी-बैक्टेरियल तत्वों से भरपूर होती है। इसीलिए, यह पिम्पल्स फैलाने वाले बैक्टेरिया को खत्म करती है। नीम की पत्तियों या छाल के पाउडर को हल्दी के साथ मिलाएं। इसमें, गुलाब जल मिलाएं और पेस्ट तैयार करें। इस पेस्ट को पिम्पल्स पर लगाएं। 15-20 मिनट बाद इसे साफ करें।

ग्रीन टी

ग्रीन टी स्किन के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है । ग्रीन टी बनाने के लिए ग्रीन टी या टी बैग को गर्म पानी में डालकर रख दें। और इसे ठंडा होने के लिए छोड़ दें। जब ये ठंडा हो जाए, तो इसे पिंपल्स पर लगाएं। ये पिंपल्स को बहुत जल्द खत्म कर देता है। ग्रीन टी के एंटीइंफ्लेमेटरी गुण पिंपल्स के सूजन को कम करने में मददगार माने जाते हैं।

पढ़ें :- पानी के अंदर चलती हैं यहाँ मेट्रो, आप भी देखें पूरी खबर

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...