1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. 20th Anniversary of 9/11 Terrorist Attack :  PM Modi ने दिया बड़ा संदेश, बोले- इसने दुनिया को बहुत कुछ सिखाया

20th Anniversary of 9/11 Terrorist Attack :  PM Modi ने दिया बड़ा संदेश, बोले- इसने दुनिया को बहुत कुछ सिखाया

अमेरिका (America)  में 11 सितंबर 2001 में हुए आतंकी हमले के 20 साल पूरे हो गए हैं। आज ही के दिन हुए आतंकी हमले (Terrorist Attack) ने पूरी दुनिया को झकझोर दिया था। इस दर्दनाक दिन की बरसी पर शनिवार को भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने कहा कि अब पूरी दुनिया महसूस कर चुकी है कि 9/11 आतंकी हमले (9/11 Terrorist Attack) जैसी त्रासदियों का स्थायी समाधान भारत के मानवीय मूल्यों के माध्यम से मिलेगा।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। अमेरिका (America)  में 11 सितंबर 2001 में हुए आतंकी हमले के 20 साल पूरे हो गए हैं। आज ही के दिन हुए आतंकी हमले (Terrorist Attack) ने पूरी दुनिया को झकझोर दिया था। इस दर्दनाक दिन की बरसी पर शनिवार को भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने कहा कि अब पूरी दुनिया महसूस कर चुकी है कि 9/11 आतंकी हमले (9/11 Terrorist Attack) जैसी त्रासदियों का स्थायी समाधान भारत के मानवीय मूल्यों के माध्यम से मिलेगा।

पढ़ें :- पीएम मोदी ने की यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की से फोन पर बातचीत, संघर्ष खत्म करने की बात दोहराई

उन्होंने कहा कि 9/11 एक ऐसी तारीख है, जिसे मानवता पर हमले के लिए याद किया जाता है। इसने दुनिया को बहुत कुछ सिखाया है। मोदी अहमदाबाद में सरदारधाम भवन परिसर में वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए उद्घाटन करने के बाद बोल रहे थे।

बता दें कि 11 सितंबर 2001 का दिन अमेरिका (America) के इतिहास में काले दिन के रूप में दर्ज है। इसी दिन दुनिया का सबसे बड़ा आतंकी हमला हुआ था, जिसने 2996 लोगों की जान ले ली। तत्कालीन अमेरिकी राष्ट्रपति जॉर्ज बुश (US President George Bush) ने इस घटना को अमेरिकी इतिहास का सबसे काला दिन (Darkest Day in American History) करार दिया था। 11 सितंबर 2001 की उस सुबह को कोई भी भूला नहीं है।

इस हमले के लिए 19 अल कायदा आतंकियों (Al Qaeda terrorists) ने 4 पैसेंजर एयरक्राफ्ट हाईजैक किए थे। जानबूझकर उनमें से दो विमानों को वर्ल्ड ट्रेड सेंटर(World Trade Center), न्यूयॉर्क शहर के ट्विन टावर्स के साथ टकरा दिया, जिससे विमानों पर सवार सभी लोग तथा बिल्डिंग के अंदर काम करने वाले हजारों लोग भी मारे गए। हमला जिन विमानों से किया गया उनकी रफ्तार 987.6 किमी/घंटा से ज्यादा थी। दोनों इमारतें दो घंटे के अंदर ढह गए, पास की इमारतें नष्ट हो गईं और अन्य क्षतिग्रस्त हुईं।

पढ़ें :- पीएम मोदी की रैली से पहले जिला प्रशासन की नई शर्त पत्रकारों को देना होगा चरित्र प्रमाण पत्र
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...