1. हिन्दी समाचार
  2. दुनिया
  3. Afghanistan: अफगान मीडिया केंद्र के प्रमुख दावा खान मिनापाल की तालिबान ने की हत्या, आतंकियों ने मारी गोली

Afghanistan: अफगान मीडिया केंद्र के प्रमुख दावा खान मिनापाल की तालिबान ने की हत्या, आतंकियों ने मारी गोली

तालिबान ने अफगानिस्तान में हिंसा करके आम नागरिकों को आतंक के साये में रहने के लिए मजबूर कर दिया है। तालिबानी अपनी कूरता को छिपाने के लिए मीडिया को निशाना बना रहा है।

By अनूप कुमार 
Updated Date

अफगानिस्तान: तालिबान (Taliban)ने अफगानिस्तान (Afghanistan) में हिंसा करके आम नागरिकों को आतंक (terror) के साये में रहने के लिए मजबूर कर दिया है। तालिबानी अपनी क्रूरता (Taliban brutality)को छिपाने के लिए मीडिया को निशाना बना रहा है। टीबी स्टेशन,रेडियो स्टेशन पर कब्जे के साथ पत्रकारों (TB stations, radio stations, journalists) की हत्या के बाद अब ये आतंकी अफगानिस्तान के सरकारी सूचना मीडिया केंद्र के निदेशक की गोली मारकर हत्या कर दी। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, तालिबान के प्रवक्ता जबीहुल्लाह मुजाहिद ने द एसोसिएटेड प्रेस को बताया कि समूह के लड़ाकों ने दावा खान मिनापाल (Dawa Khan Minapal) की हत्या कर डाली, जो स्थानीय और विदेशी मीडिया के लिए सरकार के प्रेस अभियान चलाते थे। तालिबान ने पहले ही कह दिया था वह अब सरकार के वरिष्ठ अधिकारियों को निशाना बनाएगा।

पढ़ें :- Afghanistan News: नमाज के बाद मदरसे में हुआ बम धमाका, 15 लोगों की मौत, 27 घायल

अफगान गृह मंत्रालय के प्रवक्ता मीरवाइज स्तेनकजई(Afghan Interior Ministry spokesman Mirwaiz Stankzai) ने बताया कि शुक्रवार को जुमे के नमाज के दौरान कुछ अज्ञात बंदूकधारियों ने सरकारी सूचना मीडिया केंद्र के निदेशक दावा खान मिनापाल (Dawa Khan Minapal)पर अंधाधुंध गोलियां बरसाकर उनकी हत्या कर दी

खबरों के अनुसार,दावा खान मिनापाल अफगान सरकार के प्रबल समर्थक और तालिबान और उनकी नीतियों के विरोधी थे। पूर्व पत्रकार और वित्त मंत्रालय के मीडिया प्रमुख हेकमत रावन की भी दो महीने पहले कंधार शहर में अज्ञात बंदूकधारियों ने हत्या कर दी थी।

अफगानिस्तान पत्रकारों के लिए दुनिया के सबसे खतरनाक देशों में से एक है। वहीं, हाल के समय में नागरिकों के खिलाफ किए गए हमलों की जिम्मेदारी इस्लामिक स्टेट  ने ली है। हालांकि, अफगानिस्तान की सरकार देश में होने वाले हमलों के लिए तालिबान को जिम्मेदार ठहराती रही है। विदेशी बलों की वापसी के बाद से ही तालिबान ने देशभर में हमले तेज कर दिए हैं।

पढ़ें :- तालिबानी फरमान से डरी महिला ने कर लिया सुसाइड, शादीशुदा पुरूष के साथ भागने पर सुनाई गई थी पत्थरों से मारने की सजा
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...