1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. Agra News : आगरा जिले का लाल बना ब्रिटिश कैबिनेट में मंत्री, परिवार में छाई खुशी की लहर

Agra News : आगरा जिले का लाल बना ब्रिटिश कैबिनेट में मंत्री, परिवार में छाई खुशी की लहर

Agra News : यूपी के आगरा जिले में जन्मे आलोक शर्मा (Alok Sharma) ब्रिटेन की संसद में मंत्री बनकर प्रदेश के लिए नया कीर्तिमान स्थापित किया है। उनके मंत्री बनने के बाद आगरा में रहने वाले उनके पारिवारिक सदस्यों में बेहद खुशी का माहौल है। बता दें कि आलोक शर्मा का जन्म 7 सितंबर 1967 को आगरा में हुआ था।

By संतोष सिंह 
Updated Date

Agra News : यूपी के आगरा जिले में जन्मे आलोक शर्मा (Alok Sharma) ब्रिटेन की संसद में मंत्री बनकर प्रदेश के लिए नया कीर्तिमान स्थापित किया है। उनके मंत्री बनने के बाद आगरा में रहने वाले उनके पारिवारिक सदस्यों में बेहद खुशी का माहौल है। बता दें कि आलोक शर्मा का जन्म 7 सितंबर 1967 को आगरा में हुआ था। बुधवार को जब कैबिनेट में शामिल होने का ऐलान हुआ, उस दिन आलोक बर्थडे भी था। आलोक शर्मा के पिता 5 भाई थे। सभी मीना बाजार मैदान के सामने बनी कोठी में रहते थे।

पढ़ें :- पठानकोट में लगे सनी देओल के लापता होने के पोस्टर, लोगों का आरोप-एक भी काम नहीं किए

आलोक के पिता डॉ. प्रेम दत्त शर्मा परिवार में चौथे नंबर पर थे। आलोक शर्मा के ताऊ स्व. रमेश दत्त शर्मा उत्तर प्रदेश पुलिस में एडिशनल एसपी थे और दूसरे नंबर के ताऊ चंद्रशेखर दत्त शर्मा भारतीय फौज में कर्नल रहे। आलोक शर्मा की शुरुआती शिक्षा सामान्य स्कूल से हुई और उसके बाद देहरादून के सर वेलेम्स में पढ़ाई के लिए भर्ती करा दिए गए। जब आलोक 5 साल के थे, तब उनके पिता डॉ. प्रेम दत्त शर्मा ब्रिटेन चले गए और वहीं बस गए।

आलोक शर्मा की जुड़वां बहन डॉ. अर्चना शर्मा लंदन में रहती हैं। आलोक के कजिन  विश्वनाथ शर्मा से जब आलोक के बारे में पूछा तो अतीत की यादों में डूब गए। दीवार पर टंगी घड़ी पर निगाह जमाकर धीरे से बोले कि आलोक को मिठाई बहुत पसंद है और लड्डू आलोक का प्रिय मिष्ठान है । बचपन में हम लोग साथ घूमते और साथ खेलते थे । आलोक शर्मा के कजिन विश्वनाथ शर्मा मंडल रेल प्रबंधक कार्यालय (Divisional Railway Manager Office) में कार्यरत हैं।

 

अभी 20 दिन पहले ही आलोक से उनकी फोन पर बातचीत हुई थी: विश्वनाथ शर्मा

पढ़ें :- एयरपोर्ट पर कस्टम ने बरामद की बेशकीमती घड़ियां, एक की कीमत 27.9 करोड़ रुपये

विश्वनाथ शर्मा ने बताया कि अभी 20 दिन पहले ही आलोक से उनकी फोन पर बातचीत हुई थी। एक दूसरे का कुशल क्षेम पूछा था। विश्वनाथ शर्मा स्पष्ट करते हुए बताते हैं कि जब भी हमारी बात होती है। वह पारिवारिक होती है । राजनीति के विषय में कोई बात नहीं होती। विश्वनाथ शर्मा ने बताया कि आलोक मानव सेवा में लगे हुए हैं और पर्यावरण पर विशेष काम करते हैं।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...