1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. Ajay Pratap Singh (Lalla Bhaiya) Jeevan Parichay : अजय प्रताप सिंह को विरासत में मिली राजनीति, जानें अब तक का सफर

Ajay Pratap Singh (Lalla Bhaiya) Jeevan Parichay : अजय प्रताप सिंह को विरासत में मिली राजनीति, जानें अब तक का सफर

Kunwar Ajay Pratap Singh (Lalla Bhaiya) Jeevan Parichay : यूपी के गोण्‍डा जिले की करनैलगंज विधान सभा निर्वाचन क्षेत्र (Colonelganj Assembly Constituency) के बीजेपी विधायक कुंवर अजय प्रताप सिंह उर्फ लल्ला भैया (BJP MLA Kunwar Ajay Pratap Singh alias Lalla Bhaiya) बरगदी कोट करनैलगंज के कुंवर कन्हैया कहे जाते हैं।

By संतोष सिंह 
Updated Date

Kunwar Ajay Pratap Singh (Lalla Bhaiya) Jeevan Parichay : यूपी के गोण्‍डा जिले की करनैलगंज विधान सभा निर्वाचन क्षेत्र (Colonelganj Assembly Constituency) के बीजेपी विधायक कुंवर अजय प्रताप सिंह उर्फ लल्ला भैया (BJP MLA Kunwar Ajay Pratap Singh alias Lalla Bhaiya) बरगदी कोट करनैलगंज के कुंवर कन्हैया कहे जाते हैं। राजनीति इनको विरासत में मिली है। इनके पिता स्व. कुंवर मदन मोहन सिंह 1967 में निर्दलीय चुनाव लड़े और अच्छे मतों से जीत दर्ज की। कुंवर अजय प्रताप सिंह लल्ला भैया ने भी पिता के तर्ज पर अपना राजनीतिक सफर निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में शुरू किया और चुनाव जीतने में भी सफल रहे।

पढ़ें :- Rama Shankar Singh Patel jeevan parichay : रमाशंकर दिग्गज कांग्रेसी को हराकर बने विधायक, योगी ने दिया मंत्री पद

राजनीतिक इतिहास…

वर्ष 1989 के चुनाव में करनैलगंज विधानसभा क्षेत्र से कुंवर अजय प्रताप सिंह उर्फ लल्ला भैया ने निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में राजनीति में कदम रखा और कांग्रेस प्रत्याशी को हराया। उस समय युवा वर्ग सबसे ज्यादा उत्साहित रहा है, जब लल्ला भैया सबसे कम उम्र के विधायक बने थे। लल्ला भैया वर्ष 1991 में पाला बदल कर भाजपा में शामिल हुए। 1993 में कुंवर अजय प्रताप सिंह चुनाव जीत गए। 1996 में अजय प्रताप सिंह चुनाव लड़े और जीते। वर्ष 2002 में भाजपा ने अंतिम समय पर टिकट दिया क्योंकि वह बीमार भी थे, इसलिए जनता के बीच जा भी नहीं पाए और कुंवर अजय प्रताप सिंह उर्फ लल्ला भैया कुछ वोट से हार गए।

कुंवर अजय प्रताप सिंह उर्फ लल्‍ला भैया ,2007 में करनैलगंज विधान सभा निर्वाचन क्षेत्र से कांग्रेस विधायक चुने गए,लेकिन वर्ष 2012 के चुनाव में अजय प्रताप सिंह को फिर हार का सामना करना पड़ा। 2017 के चुनाव में अजय प्रताप सिंह ने बसपा से पाला बदलकर भाजपा का दामन थाम लिया और बीजेपी झंडा बुलंद करने में कामयाब रहे। अजय प्रताप सिंह उर्फ लल्ला भैया वर्ष 89,91,93 और 96 ,2007 में बीजेपी के 2017 में विधायक बने।

देखें अब तक का सफर

पढ़ें :- Ratnakar Mishra jeevan parichay : मां विंध्यवासिनी मंदिर के पुरोहित रत्नाकर मिश्रा बने विधायक, 20 साल बाद खिलाया कमल

1989, नवम्बर दसवीं विधान सभा के सदस्य प्रथम बार निर्वाचित
1991,मई-जून ग्यारहवीं विधान सभा के सदस्य दूसरी बार निर्वाचित
1993, नवम्बर बारहवीं विधान सभा के सदस्य तीसरी बार निर्वाचित
1996, सितम्बर-अक्टूबर तेरहवीं विधान सभा के सदस्य चौथी बार निर्वाचित

2007, अप्रैल-मई पन्द्रहवीं विधान सभा के सदस्य पांचवीं बार निर्वाचित
मार्च, 2017 सत्रहवीं विधान सभा के सदस्य छठी बार निर्वाचित

राजनीति इतिहास…

करनैलगंज विधान सभा निर्वाचन क्षेत्र के बीजेपी विधायक कुंवर अजय प्रताप सिंह उर्फ लल्ला भैया ​को राजनीति विरासत में मिली है। इनके पिता स्व. कुंवर मदन मोहन सिंह 1967 में निर्दलीय चुनाव लड़े और अच्छे मतों से जीत दर्ज की। ठीक अपने पिता के नक्शे कदम पर चलते हुए लल्ला भैया ने भी पिता के तर्ज पर अपना राजनीतिक सफर निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में शुरू किया और सबसे कम उम्र के विधायक बने थे।

ये है पूरा सफरनामा

पढ़ें :- Praveen Kumar Singh jeevan parichay: प्रवीण ने इस सीट पर पहली बार खिलाया कमल, बने दूसरी बार विधायक

पिता का नाम—स्व. कुंवर मदन मोहन सिंह

जन्‍म तिथि—27 मार्च, 1964
जन्‍म स्थान— लखनऊ
धर्म— हिन्दू
जाति—क्षत्रिय (राजपूत)
शिक्षा—इण्टरमीडिएट
विवाह तिथि—12 जुलाई, 1987
पत्‍नी का नाम— ममता सिंह
सन्तान—चार पुत्र, दो पुत्रियां
व्‍यवसाय—कृषि
मुख्यावास—ग्राम व पोस्ट-बरगदी कोट, तहसील- करनैलगंज, जिला-गोण्डा

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...