1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. भारत से नेपाल प्याज भेजने पर लगा प्रतिबंध,सोनौली सीमा से ट्रकों को किया गया वापस

भारत से नेपाल प्याज भेजने पर लगा प्रतिबंध,सोनौली सीमा से ट्रकों को किया गया वापस

भारत से नेपाल प्याज भेजने पर लगा प्रतिबंध, सोनौली सीमा से ट्रकों को किया गया वापस

By ब्यूरो महराजगंज 
Updated Date

पर्दाफाश न्यूज़ ब्यूरो महराजगंज :: भारत में तेजी से बढ़ते प्याज की कीमतों को देखते हुए सरकार ने नेपाल में प्याज निर्यात पर प्रतिबंध लगा दिया है। आदेश मिलते ही सोनौली सीमा पर प्याज लदे सात ट्रकों को रोक दिया गया। बार्डर से प्रत्येक दिन आलू, प्याज का कारोबार करोड़ों का होता है। इसके पहले नेपाल में आलू प्याज पर वैट लगने से नेपाली कारोबारियों ने भारतीय प्याज को मंगाना कम कर दिया है। तो इधर भारत सरकार ने निर्यात पर पाबंदी लगा दी है। वर्तमान में भारतीय क्षेत्र में प्याज का फुटकर भाव 50 रुपये प्रति किलो है। जबकि थोक में प्याज 40 रुपये प्रति किलो मिल रहा है।

पढ़ें :- जनविश्वास महारैली में अखिलेश यादव ने बीजेपी को हराने का दिया मंत्र, बोले- बिहार120 हटाओ, देश बचाओ...

सोनौली सीमा से नेपाल जाने वाले प्याज लदे ट्रक को सोनौली कस्टम के अधिकारियों ने रोक दिया। जिसके बाद सूचना देकर सीमा से ट्रक लौटा दिया गया। प्याज के बढ़ते दाम को देखते हुए भारत सरकार ने नेपाल में प्याज निर्यात पर प्रतिबंध लगा दिया है। केंद्रीय वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय के निर्देश पर डायरेक्टर जनरल आफ फॉरेन ट्रेड ने प्याज के निर्यात को पूर्ण रूप से प्रतिबंधित कर करते हुए प्याज की सभी किस्मों के निर्यात पर तत्काल प्रभाव से रोक लगा दी गई है।

कस्टम अधीक्षक एस.के पटेल ने बताया कि देश भर में प्याज की बढ़ती कीमतों पर अंकुश लगाने के लिए नेपाल सहित सभी देशों में निर्यात पर रोक लगा दी गई है। आदेश आने के बाद सोनौली सीमा पर प्याज लदे ट्रकों की इंट्री प्रतिबंधित कर दी गई है। प्याज लदे सात ट्रक सीमा पर पहुंच गए थे, उन्हें कस्टम विभाग द्वारा वापस किया गया। जिसमें नासिक, शाहजहांपुर, इंदौर, कानपुर से आने वाले प्याज से लदे ट्रकों को भी वापस कर दिया। इन दिनों भारत में प्याज महंगे दर पर बिक रही है। इस वजह से पहले देश में प्याज की जरूरतों को पूरा करने के बाद ही कहीं बाहर भेजा जाएगा। सूचना जारी होने के बाद सोनौली बॉर्डर पर कस्टम सतर्क है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...