HBE Ads
  1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. Share Market Crash : निवेशकों के 5 लाख करोड़ डूबे, जानें क्यों आई शेयर बाजार में गिरावट?

Share Market Crash : निवेशकों के 5 लाख करोड़ डूबे, जानें क्यों आई शेयर बाजार में गिरावट?

Share Market Crash : शेयर बाजार क्रैश (Stock Market Crash) बुधवार को हो गया है। जहां सेंसेक्स (Sensex) में 1000 हजार अंकों की गिरावट देखने को मिली, वहीं दूसरी ओर निफ्टी (Nifty) में करीब 300 अंकों की गिरावट देखने को मिल रही है। दोपहर 2 बजकर 41 मिनट में सेंसेक्स (Sensex) 65,566.52 अंकों पर कारोबार कर रहा है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

Share Market Crash : शेयर बाजार क्रैश (Stock Market Crash) बुधवार को हो गया है। जहां सेंसेक्स (Sensex) में 1000 हजार अंकों की गिरावट देखने को मिली, वहीं दूसरी ओर निफ्टी (Nifty) में करीब 300 अंकों की गिरावट देखने को मिल रही है। दोपहर 2 बजकर 41 मिनट में सेंसेक्स (Sensex) 65,566.52 अंकों पर कारोबार कर रहा है। वहीं दूसरी ओर निफ्टी (Nifty) 19,434.20 अंकों पर कारोबार कर रहा है। इस गिरावट की वजह से निवेशकों के 5 लाख करोड़ रुपये हवा हो गए। 20 जुलाई को सेंसेक्स (Sensex) लाइफ टाइम हाई पर पहुंचा था। वहां से सेंसेक्स 2300 अंकों की गिरावट आ चुकी है और निफ्टी  (Nifty)  550 अंकों की गिरावट आ चुकी है।

पढ़ें :- Sensex Opening Bell : शेयर बाजार में मजबूती लौटी, पहली बार 80 हजार के पार पहुंचा सेंसेक्स, निफ्टी 24300 के करीब

शेयर बाजार धड़ाम

शेयर बाजार (Stock Market) में भारी गिरावट देखने को मिल रही है। बांबे स्टॉक एक्सचेंज (BSE) का प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स करीब 1000 अंकों की गिरावट देखने को मिल रही है। दोपहर को 2 बजकर 50 मिनट पर सेंसेक्स 65,597.70 अंकों पर कारोबार कर रहा है। वैसे कारोबारी सत्र के दौरान सेंसेक्स 65431.68 अंकों तक लुढ़क गया। आंकड़ों की मानें तो 20 जुलाई के लाइफ टाइम हाई से सेंसेक्स करीब 2200 अंकों तक नीचे आ चुका है। 20 जुलाई को सेंसेक्स 67619.17 अंकों पर पहुंच गया था। वहीं दूसरी ओर नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का प्रमुख सूचकांक निफ्टी में भी करीब 300 अंकों की गिरावट देखने को मिल सकती है और 19,434.20 अंकों पर कारोबार कर रहा है। जबकि 20 जुलाई के बाद से निफ्टी में 550 अंकों से ज्यादा की गिरावट आ चुकी है। 20 जुलाई को निफ्टी 19,991.85 अंकों के साथ लाइफ टाइम हाई पर पहुंच गया था।

किन शेयरों में आई आफत?

अगर बात कंपनियों की करें तो नेशनल स्टॉक एक्सचेंज पर ऑटो कंपनियों के शेयरों में बड़ी गिरावट देखने को मिली। हीरो मोटर्स के शेयर 4 फीसदी से ज्यादा टूटते हुए दिखाई दिए। टाटा स्टील के शेयरों में 3.77 फीसदी की गिरावट देखने को मिल रही है। टाटा मोटर्स के शेयर्स में भी साढ़े तीन फीसदी से ज्यादा की गिरावट देखने को मिली है। आयशर मोटर्स के शेयर्स में भी साढ़े तीन फीसदी की गिरावट देखने को मिल रही और एनटीसी के शेयर 3 फीसदी से ज्यादा की ​गिरावट के साथ कारोबार कर रहा है।

पढ़ें :- Reliance Infra Share :  अनिल अंबानी की कंपनी के शेयर ने लगाई छलांग,  बाजार खुलते ही 12 फीसदी उछल गया

20 दिनों में निवेशकों को मोटा नुकसान

वहीं दूसरी ओर 20 दिनों में निवेशकों को मोटा नुकसान हो चुका है। 20 जुलाई को जब सेंसेक्स लाइफ टाइम हाई पर पहुंचा था तो बीएसई का मार्केट कैप 3,11,63,553.00 करोड़ रुपये पर पहुंच गया था। जबकि आज बीएसई आज लोअर लेवल पहुंच तो मार्केट कैप 3,01,55,407.52 लाख करोड़ रुपये पर आ गया। इसका मतलब है कि बीएसई का मार्केट कैप में 10,08,145.48 करोड़ रुपये का नुकसान हो चुके हैं। यही निवेशकों का नुकसान है।

क्यों आई शेयर बाजार में गिरावट?

वास्तव में इंटरनेशनल रेटिंग एजेंसी फिच ने अमेरिका की रेटिंग को गिराकर ट्रिपल ए से घटाकर डबल ए2 कर दिया है। इसका मतलब है कि फिच ने अमेरिका की सॉवरेन् क्रेडिट ग्रोथ को कम कर दिया है। जिसका असर भारतीय शेयर बाजार निवेशकों के सेंटीमेंट्स में देखने को मिला है। वास्तव में भारतीय निवेशकों को डर है कि अमेरिकी इंवेस्टर्स भारत से बिकवाली शुरू कर देंगे जिसका असर बाजार पर देखने को मिलेगा। इसी वजह से निवेशकों की ओर मुनाफा वसूली की गई है।

पढ़ें :- Stock Market Crash : मतगणना रुझान से शेयर बाजार ने लगाया गोता, सेंसेक्स 2700 अंक टूटा
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...