1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. मोबाइल की बैटरी फटने से गई बच्चे की जान, हांथ में लेकर चार्ज करने की कर रहा था कोशिश

मोबाइल की बैटरी फटने से गई बच्चे की जान, हांथ में लेकर चार्ज करने की कर रहा था कोशिश

उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर जिले से दिल को दहला देने वाली खबर आई है। हुआ यू हैं कि एक बच्चे की जान मोबाइल की बैटरी फटने से चली गई है। बैटरी के धमाके से बच्चे का चेहरा बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया। बताया जा रहा है कि जिस समय पर मोबाइल ब्लास्ट हुआ बच्चा उस दौरान मोबाइल को हांथ में लेकर के चार्ज करने की कोशिश कर रहा था। अक्सर ऐसी घटनाओं से हम रुबरु होते रहते हैं।

By शिव मौर्या 
Updated Date

मिर्जापुर। उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर जिले से दिल को दहला देने वाली खबर आई है। हुआ यू हैं कि एक बच्चे की जान मोबाइल की बैटरी फटने से चली गई है। बैटरी के धमाके से बच्चे का चेहरा बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया। बताया जा रहा है कि जिस समय पर मोबाइल ब्लास्ट हुआ बच्चा उस दौरान मोबाइल को हांथ में लेकर के चार्ज करने की कोशिश कर रहा था।

पढ़ें :- बीजेपी सरकार से हट जाए, तीन महीने में जातीय जनगणना करके दिखाएं समाजवादी लोग : अखिलेश यादव

अक्सर ऐसी घटनाओं से हम रुबरु होते रहते हैं। लेकिन फिर भी हम ऐसी घटनाओं से बचने का या ये जानने का कि ये क्यों हो गया इसका हम प्रयास नहीं करते हैं। हम आपको बतायेंगे कि ऐसी घटनाओं से कैसे बचा जा सकता है।

1- ओवरहीटिंग से हमेशा बचें। अगर आपका फोन गर्म हो रहा है तो अच्छा होगा कि इसे कुछ देर के लिए इसका इस्तेमाल न करें।
2- फोन को अपने पास रखकर सोने से भी बचें। इसे थोड़ी दूर रखकर ही सोएं।
3- फोन को पूरी रात चार्जिंग पर रखकर न छोड़ें। कई बार ओवर चार्जिंग से समस्या हो सकती है।
4- ऐसे ऐप्स का इस्तेमाल न करें जो ज्यादा बैटरी खर्च करते हों।
5- कभी भी फोन में लोकल बैटरी का इस्तमाल न करें। इसमें ब्लास्ट जैसी समस्याएं देखने को मिलती हैं।

 

पढ़ें :- सपा ने राष्ट्रीय कार्यकारिणी की संशोधित सूची जारी की,सवर्णों को भी मिली जगह
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...