HBE Ads
  1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. सीएम योगी ने विपक्षी दलों पर साधा निशाना, कहा-इंडिया गठबंधन सत्ता में आया तो फिर से माफिया व गुंडाराज लौट आएगा

सीएम योगी ने विपक्षी दलों पर साधा निशाना, कहा-इंडिया गठबंधन सत्ता में आया तो फिर से माफिया व गुंडाराज लौट आएगा

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शुक्रवार देवरिया में भाजपा प्रत्याशी शशांक मणि त्रिपाठी के समर्थन में चुनावी जनसभा को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने विपक्षी दलों पर जमकर निशाना साधते हुए उन्हें कानून व्यवस्था के मुद्दे पर घेरा। मुख्यमंत्री ने कहा कि, हमने माफियाओं का राम नाम सत्य किया है।

By शिव मौर्या 
Updated Date

देवरिया। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शुक्रवार देवरिया में भाजपा प्रत्याशी शशांक मणि त्रिपाठी के समर्थन में चुनावी जनसभा को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने विपक्षी दलों पर जमकर निशाना साधते हुए उन्हें कानून व्यवस्था के मुद्दे पर घेरा। मुख्यमंत्री ने कहा कि, हमने माफियाओं का राम नाम सत्य किया है। इस चुनाव में एक तरफ रामभक्तों की टीम है़, तो वहीं दूसरी तरफ राम भक्तों पर गोलियां चलाने वालों का गठबंधन है़। यदि इंडिया गठबंधन सत्ता में आया तो फिर से माफिया व गुंडाराज लौट आएगा।

पढ़ें :- भाजपा सरकार झूठी योजनाओं से जनता को बरगलाने का काम करती है: अखिलेश यादव

उन्होंने कहा कि, भाजपा का एनडीए गठबंधन है, जिसकी सरकार में माफियाराज और गुंडाराज समाप्त हुआ है। दूसरी तरफ सपा और कांग्रेस का गठबंधन है, जिनके समय आतंकवादी घटनाएं होती थीं। इन लोगों ने नाम तो नया बनाया है़, लेकिन माल वही पुराना है़। जब इनकी सरकार होती है़ तब अयोध्या में रामभक्तों पर गोलियां चलाई जाती हैं। वाराणसी के संकट मोचन मंदिर पर आतंकवादी हमला होता है़। जब हमारी सरकार आती है़ तो आतंकवादी या तो जेल में होते हैं या उनकी जगह कब्र में होती है़। सपा-कांग्रेस गठबंधन को आतंकवाद व नक्सलवाद खत्म करने की चिंता नहीं है़, इन लोगों को आतंकवादी घटना में शामिल लोगों के मुकदमे वापस करने की चिंता सताती है़।

मुख्यमंत्री ने कहा कि, हमारी ताकत तो आप लोग हैं। इसी ताकत के बल पर हम रामद्रोहियों को दरकिनार करते हुए रामभक्तों की आस को पूरा करने में अपनी पूरी ताकत लगा देते हैं। भारत रत्न’ बाबा साहब डॉ. भीमराव आंबेडकर के विरुद्ध जाकर कांग्रेस ने कश्मीर में धारा 370 लगाई और फिर भारत के संविधान का गला घोंटने के लिए 1975 में इमरजेंसी लागू कर दी।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...