1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. खतरा : कोरोना का नया वैरिएंट भारत और यूके में एक जैसा, स्टडी में खुलासा

खतरा : कोरोना का नया वैरिएंट भारत और यूके में एक जैसा, स्टडी में खुलासा

कोरोना महामारी की दूसरी लहर का कहर बढ़ता ही जा रहा है। पिछले कुछ दिनों से रोजाना भारत में कोरोना संक्रमण के करीब चार लाख मामले दर्ज किए जा रहे हैं। वहीं हर रोज औसतन 3700 से ज्यादा लोगों की मौत हो रही है। देश में महामारी की दूसरी लहर में वायरस का नया वैरिएंट उम्मीद से कहीं ज़्यादा घातक साबित हो रहा है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। कोरोना महामारी की दूसरी लहर का कहर बढ़ता ही जा रहा है। पिछले कुछ दिनों से रोजाना भारत में कोरोना संक्रमण के करीब चार लाख मामले दर्ज किए जा रहे हैं। वहीं हर रोज औसतन 3700 से ज्यादा लोगों की मौत हो रही है। देश में महामारी की दूसरी लहर में वायरस का नया वैरिएंट उम्मीद से कहीं ज़्यादा घातक साबित हो रहा है। एक अध्ययन में खुलासा हुआ है कि कोरोना का नया वैरिएंट भारत और यूके में एक जैसा है।

पढ़ें :- Tokyo Olympics 2020 : ड्रैगन ने भारत के प्रदर्शन पर कसा तंज, दी ये बड़ी नसीहत

ब्रिटेन के स्वास्थ्य विभाग की कार्यकारी एजेंसी रिपब्लिक हेल्थ इंग्लैंड ने बताया कि  कोरोनोवायरस का इंडियन डबल वैरिएंट  B.1.617.2  यूके के B.1.1.7 के बराबर है।  B.1.617.2 म्यूटेंट ब्रिटेन के अलावा भारत के महाराष्ट्र  समेत कई हिस्सों में पाया गया है। हालांकि तेलंगाना और आंध्र प्रदेश में इसकी अभी पहचान नहीं हो पायी है, हालांकि इसका पहला वैरिएंट B.1.617 दक्षिण भारत के कुछ हिस्सों में पाया गया है। विशेषज्ञों की टीम वैरिएंट की जांच करने में जुटे हुए हैं।

पिछले दिनों कनाडा के विशेषज्ञों ने कोरोना वैरिएंट B.1.1.7 की पहली मॉलिक्यूलर तस्वीर जारी की थी। इसी स्ट्रेन से दुनिया के कई देशों में कोरोना वायरस की दूसरी लहर फैली है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...