1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. डीएम नेहा शर्मा की पहल, अब तैयार होगी जनपद की कॉफी टेबल बुक

डीएम नेहा शर्मा की पहल, अब तैयार होगी जनपद की कॉफी टेबल बुक

जिलाधिकारी नेहा शर्मा ने जनपद के गौरवशाली अतीत, बदलते वर्तमान और सुनहरे भविष्य की रूपरेखा को एक सूत्र में पिरोने के लिए अनूठी पहल की है। जिलाधिकारी के प्रयासों से जनपद की कॉफी टेबल बुक तैयार की जा रही है। इस कॉफी टेबल बुक में जनपद के गौरवशाली अतीत की झलक के साथ भविष्य का भी एक विजन प्रस्तुत किया गया।

By संतोष सिंह 
Updated Date

गोंडा । जिलाधिकारी नेहा शर्मा ने जनपद के गौरवशाली अतीत, बदलते वर्तमान और सुनहरे भविष्य की रूपरेखा को एक सूत्र में पिरोने के लिए अनूठी पहल की है। जिलाधिकारी के प्रयासों से जनपद की कॉफी टेबल बुक तैयार की जा रही है। इस कॉफी टेबल बुक में जनपद के गौरवशाली अतीत की झलक के साथ भविष्य का भी एक विजन प्रस्तुत किया गया।

पढ़ें :- Major Dhyan Chand Mission : राजकीय महाविद्यालयों में खेल इंफ्रास्ट्रक्चर तैयार कर खिलाड़ियों को प्रोत्साहित करेगी योगी सरकार

खास बात यह है कि यह पहली कॉफी टेबल बुक होगी जिसमें आम जनता भी सीधे तौर पर जुड़कर अपनी सहभागिता सुनिश्चित करने का अवसर दिया गया है।

इस पहल को देश और दुनिया में जनपद की तस्वीर को बेहतर बनाने की दिशा में एक अहम कदम माना जा रहा है। उम्मीद जताई जा रही है कि जनवरी 2024 में इस कॉफी टेबल बुक को जनपद वासियों को समर्पित किया जाएगा।

जिलाधिकारी नेहा शर्मा ने बताया कि जनपद गोंडा अपनी सांस्कृतिक एवं ऐतिहासिक विरासत के चलते प्रदेश में एक अलग स्थान रखता है। जनपद की समृद्ध विरासत को देश और दुनिया के सामने रखने का प्रयास इस कॉफी टेबल बुक के माध्यम से किया जा रहा है।

यह विषयवस्तु की गई है शामिल

पढ़ें :- Rajya Sabha Election: अखिलेश यादव बोले-हमारी राज्यसभा की तीसरी सीट सच्चे साथियों की पहचान करने की परीक्षा थी

इस कॉफी टेबल बुक में गोंडा के अतीत, वर्तमान और भविष्य तीनों को एक सूत्र में पिरोने का प्रयास किया गया है। जहां शुरुआत जनपद के गौरवशाली अतीत के साथ की गई है, वहीं अंत में भविष्य का एक खाका भी प्रस्तुत करने का प्रयास किया गया। कॉफी टेबल बुक में जनपद की संस्कृति, साहित्य, ऐतिहासिक धरोहरों, जनपद के राजघरानों से लेकर देश दुनिया में जनपद का नाम रोशन करने वाली 30 दिग्गजों को भी शामिल किया गया है।

ऐसे हो सकते हैं शामिल

इस कॉफी टेबल बुक को और भी समृद्ध बनाने के लिए जनता को सीधे तौर पर जोड़ने का फैसला लिया गया है। आप जनपद के इतिहास, साहित्य, संस्कृति से संबंधित कोई तथ्य, फोटो या लेख ई-मेल dmgonda01@gmail.com के माध्यम से उपलब्ध करा सकते हैं। आपके द्वारा उपलब्ध कराए जाने वाले कंटेंट का परीक्षण ऐडिटोरियल टीम करेगी। ऐडिटोरियल टीम के निर्णय के आधार पर प्रकाशन किया जाएगा।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...