1. हिन्दी समाचार
  2. बिज़नेस
  3. अर्थव्यवस्था: आठ प्रमुख क्षेत्रों का उत्पादन जुलाई में 9.4% बढ़ा

अर्थव्यवस्था: आठ प्रमुख क्षेत्रों का उत्पादन जुलाई में 9.4% बढ़ा

वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक जुलाई में कोयला, प्राकृतिक गैस, रिफाइनरी उत्पाद, स्टील, सीमेंट और बिजली का उत्पादन क्रमश: 18.7 फीसदी, 18.9 फीसदी, 6.7 फीसदी, 9.3 फीसदी, 21.8 फीसदी और 9 फीसदी बढ़ा है।

By प्रीति कुमारी 
Updated Date

जुलाई में आठ प्रमुख क्षेत्रों का उत्पादन 9.4 प्रतिशत बढ़ा, मुख्य रूप से कम आधार प्रभाव और कोयला, प्राकृतिक गैस, स्टील, सीमेंट और बिजली के उत्पादन में वृद्धि के कारण, मंगलवार को आधिकारिक आंकड़ों से पता चला। कोयला, कच्चा तेल, प्राकृतिक गैस, रिफाइनरी उत्पाद, उर्वरक, स्टील, सीमेंट और बिजली के आठ बुनियादी ढांचा क्षेत्रों में जुलाई 2020 में COVID-19 के प्रसार को नियंत्रित करने के लिए लगाए गए देशव्यापी तालाबंदी के कारण 7.6 प्रतिशत की कमी आई थी।

पढ़ें :- Good News: रफ्तार पकड़ने लगी देश की इकनॉमी, पहली तिमाही में इतने फीसदी हुई GDP
Jai Ho India App Panchang

भारत की अर्थव्यवस्था के कई संकेतक आर्थिक स्थिति की बदहाली की ओर इशारा कर रहे हैं। कोयला, कच्चा तेल, प्राकृतिक गैस, इस्पात, सीमेंट और बिजली उद्योग जैसे सेक्टर के जून में कमजोर प्रदर्शन के चलते बुनियादी ढांचा क्षेत्र के आठ प्रमुख उद्योग या कोर सेक्टर का उत्पादन 15 फीसदी घटा है कोयला, कच्‍चा तेल, उर्वरक, स्‍टील, पेट्रो रिफाइनिंग, बिजली और नेचुरल गैस उद्योगों को किसी अर्थव्‍यवस्‍था की बुनियाद माना जाता है। यही आठ क्षेत्र कोर सेक्‍टर कहे जाते हैं इनकी विकास दर में कमी या वृद्धि बताती है कि किसी देश की अर्थव्‍यवस्‍था की बुनियाद की हालत क्‍या है।

केंद्र सरकार हर महीने कोर सेक्टर ग्रोथ के आंकड़े जारी करती है। यह आंकड़े इन आठ सेक्टर में उत्पादन की तस्वीर सामने रखते हैं. औद्योगिक उत्‍पादन मापने के सूचकांक आईआईपी में कोर सेक्टर की 38 फीसदी हिस्सेदारी है। वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक जुलाई में कोयला, प्राकृतिक गैस, रिफाइनरी उत्पाद, स्टील, सीमेंट और बिजली का उत्पादन क्रमश: 18.7 फीसदी, 18.9 फीसदी, 6.7 फीसदी, 9.3 फीसदी, 21.8 फीसदी और 9 फीसदी बढ़ा है।

समीक्षाधीन माह के दौरान कच्चे तेल का उत्पादन 3.2 प्रतिशत घटा। उर्वरक खंड में 0.5 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई। चालू वित्त वर्ष में अप्रैल-जुलाई के दौरान आठ क्षेत्रों में पिछले वर्ष की समान अवधि में 19.8 प्रतिशत की नकारात्मक वृद्धि के मुकाबले 21.2 प्रतिशत की वृद्धि हुई।

पढ़ें :- Oil and Natural Gas Corporation: भारत के कच्चे तेल के उत्पादन में गिरावट जारी, जुलाई में 3.2% गिरावट
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...