HBE Ads
  1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. चुनाव आयोग से बीजेपी को लगा बड़ा झटका, आपत्तिजनक विज्ञापन हटाने का दिया आदेश

चुनाव आयोग से बीजेपी को लगा बड़ा झटका, आपत्तिजनक विज्ञापन हटाने का दिया आदेश

लोकसभा चुनाव 2024 (Lok Sabha elections 2024) के बीच चुनाव आयोग (Election Commission) से भारतीय जनता पार्टी (BJP) को मंगलवार को बड़ा झटका लगा है। ईसी ने अपने फैसले में बीजेपी का विवादित विज्ञापन (BJP's Controversial Advertisement) हटाने के लिए कहा है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव 2024 (Lok Sabha elections 2024) के बीच चुनाव आयोग (Election Commission) से भारतीय जनता पार्टी (BJP) को मंगलवार को बड़ा झटका लगा है। ईसी ने अपने फैसले में बीजेपी का विवादित विज्ञापन (BJP’s Controversial Advertisement) हटाने के लिए कहा है। आयोग ने माइक्रोब्लॉगिंग वेबसाइट एक्स (Microblogging Website X) को निर्देश दिया कि कर्नाटक भाजपा (BJP) की ओर से पोस्ट आपत्तिजनक विज्ञापन (Controversial Advertisement) को हटाया जाए। बता दें कि कर्नाटक में विपक्षी दल ने राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी (State Chief Electoral Officer) के आदेश के बाद भी इसे नहीं हटाया था। आपत्तिजनक पोस्ट (Objectionable Post) को लेकर पहले ही FIR दर्ज की जा चुकी है। कांग्रेस की ओर से यह मामला जोरशोर से उठाया जा रहा था।

पढ़ें :- BJD के भ्रष्टाचार से बहुत बड़ा नुकसान हमारे नौजवानों का हो रहा है...ओडिशा के कटक में बोले पीएम मोदी

कांग्रेस ने कर्नाटक भाजपा प्रमुख बीवाई विजयेंद्र (Karnataka BJP chief BY Vijayendra) के खिलाफ चुनाव आयोग (Election Commission) से शिकायत की थी। इसमें उन पर अपमानजनक सामग्री पोस्ट करने का आरोप लगाया गया। साथ ही कहा गया कि इससे कानून और व्यवस्था की समस्या पैदा हो सकती है। वीडियो में कांग्रेस पर कटाक्ष करते हुए कुछ आरोप लगाए गए थे।

ऐसा कहा गया कि केंद्र में विपक्षी पार्टी आरक्षण और फंड आवंटन में पिछड़े वर्गों की तुलना में मुसलमानों का पक्ष लेती है। कर्नाटक प्रदेश कांग्रेस कमेटी (Karnataka Pradesh Congress Committee) ने इसे लेकर पुलिस और चुनाव आयोग (Election Commission) के समक्ष याचिका दायर कर दी। इसमें आरोप लगाया कि वीडियो में आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन(Violation of the model code of conduct) किया गया है, जिसमें कांग्रेस को आरक्षण और फंड आवंटन में पिछड़े वर्गों की तुलना में मुसलमानों का पक्ष लेते दिखाया गया है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...