1. हिन्दी समाचार
  2. खेल
  3. FIFA World Cup 2022 : फीफा पर पुर्तगाल ने लगाया ‘बेईमानी’ का आरोप, बोले- अर्जेंटीना को ही दे दो ट्रॉफी

FIFA World Cup 2022 : फीफा पर पुर्तगाल ने लगाया ‘बेईमानी’ का आरोप, बोले- अर्जेंटीना को ही दे दो ट्रॉफी

FIFA World Cup 2022 : फुटबॉल विश्व कप में शनिवार को पुर्तगाल की टीम क्वार्टर फाइनल में हारकर बाहर हो गई है। अल थुमामा स्टेडियम (Al Thumama Stadium) में मोरक्को ने 1-0 से हरा दिया। इस जीत के साथ ही मोरक्को (Morocco)अंतिम-4 में पहुंचने वाली पहली टीम भी बन गई है। इस हार से निराश पुर्तगाल (Portugal) के खिलाड़ियों ने रेफरी को लेकर फीफा की आलोचना भी की है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

FIFA World Cup 2022 : फुटबॉल विश्व कप में शनिवार को पुर्तगाल की टीम क्वार्टर फाइनल में हारकर बाहर हो गई है। अल थुमामा स्टेडियम (Al Thumama Stadium) में मोरक्को ने 1-0 से हरा दिया। इस जीत के साथ ही मोरक्को (Morocco)अंतिम-4 में पहुंचने वाली पहली टीम भी बन गई है। इस हार से निराश पुर्तगाल (Portugal) के खिलाड़ियों ने रेफरी को लेकर फीफा की आलोचना भी की है।

पढ़ें :- बीजेपी सरकार से हट जाए, तीन महीने में जातीय जनगणना करके दिखाएं समाजवादी लोग : अखिलेश यादव

अनुभवी डिफेंडर पेपे (Experienced defender Pepe) और मिडफील्डर ब्रूनो फर्नांडीस (Bruno Fernandes) ने मैच में अर्जेंटीना (Argentina) के रेफरी को बहाल करने पर सवाल उठाया है। दोनों ने कहा कि विश्व कप में अर्जेंटीना को चैंपियन बनाने की साजिश हो रही है। पेपे (Pepe) ने पुर्तगाली टेलीविजन पर कहा कि अर्जेंटीना के रेफरी का हमारे मैच में होना अस्वीकार्य है। पेपे (Pepe) ने अर्जेंटीना (Argentina)  और नीदरलैंड के बीच हुए मैच का हवाला दिया। लियोनल मेसी (Lionel Messi) ने मैच के बाद रेफरी की आलोचना की थी।

जानें क्या कहा पेपे ने?

पेपे (Pepe) ने कहा कि हमने दूसरे हाफ में क्या खेला? उनका गोलकीपर जमीन पर गिर गया। सिर्फ आठ मिनट का इंजरी टाइम दिया गया। हमने कड़ी मेहनत की और रेफरी ने केवल आठ मिनट जोड़ा। इस मैच में रेफरी की भूमिका निभाने वाले फेसुंडो टेल्लो अर्जेंटीना के रहने वाले हैं। उनके पास कोपा लिबर्टाडोरेस, अर्जेंटीना प्रीमियर डिवीजन, कॉनमेबोल प्री-ओलंपिक क्वालीफायर और फीफा विश्व कप दक्षिण अमेरिकी क्वालीफायर के मैचों में रेफरी की भूमिका निभाने का अनुभव है।

पुर्तगाल का कोई रेफरी नहीं

पढ़ें :- सपा ने राष्ट्रीय कार्यकारिणी की संशोधित सूची जारी की,सवर्णों को भी मिली जगह

फेसुंडो टेल्लो (Fesundo Tello) का यह पहला विश्व कप है। उन्हें 2019 में फीफा रेफरी पैनल में शामिल किया गया था। कतर में टेलो ने दो मैचों में रेफरी की भूमिका निभाई है। ब्रूनो फर्नांडीस (Bruno Fernandes)  ने फीफा की आलोचना करते हुए कहा कि हमें पहले से ही पता है कि यहां किस तरह काम हो रहा है। मैच से पहले ही हमें इस बात का अंदाजा था कि किस तरह के रेफरी का सामना करना पड़ेगा। दुर्भाग्य से इस प्रतियोगिता में पुर्तगाल का कोई रेफरी नहीं है। यहां उन देशों के रेफरी हैं जो अभी भी टूर्नामेंट में बनी हुई हैं। सभी अर्जेंटीना को ही ट्रॉफी देना चाहते हैं। अगर ऐसा है तो उन्हें पहले ही ट्रॉफी दे देनी चाहिए।

जानें मैच में क्या हुआ?

मोरक्को (Morocco) की टीम ने इतिहास रच दिया। वह सेमीफाइनल में पहुंचने वाली पहली अफ्रीकी टीम बन गई है। इससे पहले कोई भी अफ्रीकी देश फीफा वर्ल्ड कप (FIFA World Cup) के सेमीफाइनल में नहीं पहुंच पाया था। मोरक्को ने पुर्तगाल को 1-0 से हरा दिया। इस हार के साथ ही पुर्तगाल और क्रिस्टियानो रोनाल्डो (Cristiano Ronaldo) का विश्व कप में अभियान समाप्त हो गया। रोनाल्डो मैच के बाद रोते हुए दिखे और स्टेडियम से बाहर गए।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...