1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. Former IPS Amitabh Thakur गिरफ्तार, रेप पीड़िता आत्महत्या के मामले में UP Police की बड़ी कार्रवाई

Former IPS Amitabh Thakur गिरफ्तार, रेप पीड़िता आत्महत्या के मामले में UP Police की बड़ी कार्रवाई

यूपी पुलिस (UP Police) ने प्रदेश के पूर्व आईपीएस अमिताभ ठाकुर (Former IPS Amitabh Thakur) को गिरफ्तार (Arrested) कर लिया है। पुलिस ने अमिताभ ठाकुर पर रेप पीड़िता की आत्महत्या के मामले (Rape Victim Suicide Case) में कार्रवाई की है। पूर्व आईपीएस अमिताभ ठाकुर (Former IPS Amitabh Thakur) ट्वीट कर कहा कि पुलिस ने बिना कारण बताये और एफ.आई.आर. की कॉपी दिए जबरन हजरतगंज थाने (Hazratganj Police Station) ले जाया जा रहा है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

लखनऊ। यूपी पुलिस (UP Police) ने प्रदेश के पूर्व आईपीएस अमिताभ ठाकुर (Former IPS Amitabh Thakur) को गिरफ्तार (Arrested) कर लिया है। पुलिस ने अमिताभ ठाकुर पर रेप पीड़िता की आत्महत्या के मामले (Rape Victim Suicide Case) में कार्रवाई की है। पूर्व आईपीएस अमिताभ ठाकुर (Former IPS Amitabh Thakur) ट्वीट कर कहा कि पुलिस ने बिना कारण बताये और एफ.आई.आर. की कॉपी दिए जबरन हजरतगंज थाने (Hazratganj Police Station) ले जाया जा रहा है।

पढ़ें :- CM Yogi को बम से उड़ाने की धमकी, मुकदमा दर्ज, आरोपी की तलाश में जुटी पुलिस

पढ़ें :- UP IPS Transfer: योगी आदित्यनाथ का बड़ा एक्शन, लखनऊ और कानपुर के पुलिस कमिश्नर हटाए गया, इन्हें मिला नया चार्ज

बता दें कि योगी सरकार (Yogi Government) की तरफ से जबरन रिटायर किए गए पूर्व आईपीएस अमिताभ ठाकुर (Former IPS Amitabh Thakur ) ने शुक्रवार को ही नई राजनीतिक पार्टी (New Political Party) बनाने का ऐलान कर दिया है। इस संबंध में उन्होंने ट्वीट कर सहयोगियों के साथ मिलकर पार्टी गठन की कवायद शुरू कर रहे हैं। पार्टी का नाम क्या हो? उसका उद्देश्य और स्वरूप तय करने के लिए उन्होंने लोगों से सुझाव मांगे हैं। नई पार्टी के संबंध में अमिताभ ठाकुर ने दो ट्वीट करने के बाद एक और ट्वीट किया, जिसमें उन्होंने लिखा है कि मेरे अयोध्या और गोरखपुर यात्रा के निकट आने और नई राजनीतिक पार्टी बनाने की घोषणा करते ही मुझे फिर से नजरबंद कर दिया गया है।

अमिताभ ठाकुर ने ट्वीट कर कहा कि तमाम सहयोगियों, शुभेक्षु और जानकार लोगों द्वारा लगातार दिए गए परामर्श, राय, मंतव्य और उनके साथ विचार-विमर्श के बाद हमने साथियों संग मिलकर नई राजनीतिक पार्टी का गठन करने का निर्णय लिया है. सहयोगियों के साथ मिलकर पार्टी गठन की कवायद प्रारंभ की जा रही है। उन्होंने आगे लिखा है, ‘सभी साथियों से विनम्र अनुरोध- यह कोई अधिरोपित पार्टी नहीं, बल्कि आपकी अपनी पार्टी है. अपनी इस पार्टी का नाम, उद्देश्य, स्वरूप तय करें. कृपया अपने सुझाव, राय, मंतव्य व्हाट्सएप नं० 9453537746 (विक्रांत पाण्डेय)/ 8546004154 (लक्ष्मीकांत सिंह)/ 7905120351 (नीरज यादव) पर अविलम्ब भेजें।

इसके बाद उन्होंने एक ट्वीट किया कि मेरे अयोध्या गोरखपुर यात्रा के निकट आने व नई राजनीतिक पार्टी की घोषणा करते ही फिर से नज़रबंद। अजीबोगरीब स्थिति! मानो कानून का नहीं व्यक्ति विशेष का राज हो! इतना डर क्यों है सरकार?

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...