1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. Hijab Controversy : गिरिराज सिंह बोले- देश तोड़ने का है प्रयास, अब ‘Uniform Civil Code’ जरूरी

Hijab Controversy : गिरिराज सिंह बोले- देश तोड़ने का है प्रयास, अब ‘Uniform Civil Code’ जरूरी

हिजाब विवाद (Hijab Controversy) पर जहां एक तरफ सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने तत्काल सुनवाई करने से इनकार कर दिया है, तो वहीं कर्नाटक से लेकर दिल्ली , महाराष्ट्र व देश के अन्य हिस्सों में इसको लेकर विरोध प्रदर्शन जारी है। इसके बीच केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह (Giriraj Singh) ने स्कूलों और कॉलेजों में हिजाब पहनने की छूट देने की मांग को देश तोड़ने का प्रयास बताया है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। हिजाब विवाद (Hijab Controversy) पर जहां एक तरफ सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने तत्काल सुनवाई करने से इनकार कर दिया है, तो वहीं कर्नाटक से लेकर दिल्ली , महाराष्ट्र व देश के अन्य हिस्सों में इसको लेकर विरोध प्रदर्शन जारी है।

पढ़ें :- फ्लोर टेस्ट के आदेश को उद्धव सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में दी चुनौती, सुनवाई आज शाम 5 बजे

इसके बीच केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह (Giriraj Singh) ने स्कूलों और कॉलेजों में हिजाब पहनने की छूट देने की मांग को देश तोड़ने का प्रयास बताया है। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि कुछ खास वर्ग के लोगों ने देश का कानून तय करना शुरू कर दिया है। गिरिराज सिंह (Giriraj Singh) ने शुक्रवार सुबह ट्वीट कर कहा कि प्रान्त और धर्म के नाम पर देश को कोने-कोने से तोड़ने का प्रयास प्रतिदिन किया जा रहा है।

पढ़ें :- कोर्ट के 'सुप्रीम' फैसले के बाद भाजपा का 'जोश हाई', सरकार बनाने की कवायद शुरू

इसके साथ ही उन्होंने समान नागरिक संहिता (Uniform Civil Code) को वक्त की जरूरत बताया है। उन्होंने लिखा कि हालात ऐसे बनाए जा रहे हैं कि समान नागरिक संहिता (uniform civil code) समय की मांग बन गई है। अब कुछ खास वर्ग के लोग ने देश का कानून तय करना शुरू कर दिया है। इससे पहले भी वह कई बार समान नागरिक संहिता (Uniform Civil Code)  की मांग उठा चुके हैं। बता दें कि केंद्र सरकार चला रही भाजपा पहले भी कई बार देश में समान नागरिक संहिता (Uniform Civil Code) की मांग कर चुकी है। गिरिराज सिंह (Giriraj Singh)  के इस बयान से साफ है कि आने वाले दिनों में हिजाब का मुद्दा तूल पकड़ सकता है।

इस बीच कर्नाटक कांग्रेस के नेता सीएम इब्राहिम ने एक मैगजीन से बातचीत में कहा कि यदि लड़कियां सिर ढक लेती हैं तो फिर परेशानी क्या है? आखिर सरकार यह क्यों चाहती है कि लड़कियां कपड़े कम पहनें? उन्होंने कहा कि आप राजस्थान के राजपूतों को देखें या फिरदक्षिण भारत में जाएं तो वहां देखेंगे कि महिलाएं सिर पर पल्लू डालती हैं। उन्होंने कहा कि यह विवाद गलत है और भाजपा (BJP) की ओर से शुरू किया गया है। कांग्रेस नेता ने कहा कि देवी लक्ष्मी के सिर पर भी पल्लू नजर आता है, लेकिन भाजपा (BJP) महिलाओं को अपने मुताबिक रखना चाहती है। उनकी आजादी पर हमला कर रही है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...