1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तराखंड
  3. ग्लेशियर हादसा: अभी भी लापता हैं 202 लोग, 19 शवों को किया गया बरामद

ग्लेशियर हादसा: अभी भी लापता हैं 202 लोग, 19 शवों को किया गया बरामद

By शिव मौर्या 
Updated Date

चमोली। उत्तराखंड के चमोली में ग्लेशियर टूटने के बाद मची तबाही में अभी तक 202 लोगों के गायब होने की सूचना है। इनकी खोजबीन के लिए कई टीमें काम कर रहीं हैं। वहीं, अभी तक 19 शवों को बरामद कर लिया गया है। इस आपदा से ऋषि गंगा पावर प्रोजेक्ट और एनटीपीसी प्रोजेक्ट को भारी नुकसान हुआ है। केंद्रीय मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक भी तपोवन पहुंच चुके हैं।

पढ़ें :- India and South Africa: साउथ अफ़्रीका को भारत ने 16 रनों से हराकर सीरीज पर किया कब्जा

तलाशी अभियान में खोजी कुत्तों को भी लगाया गया है। डीजीपी अशोक कुमार का कहना है कि चमोली हादसे में अभी तक लगभग 202 लोगों के लापता होने की सूचना है। वहीं 19 लोगों के शव अलग-अलग स्थानों से बरामद किए गए है। राहत-बचाव कार्य त्वरित रूप से जारी है। बता दें कि, रविवार को ग्लेशियर टूटने के कारण ऋषिगंगा पावर प्रोजेक्ट और तपोवन-विष्णुगाड़ जल विद्युत परियोजना ध्वस्त हो गई थी।

पढ़ें :- India and South Africa: सूर्यकुमार यादव ने खेली तूफानी पारी, भारत ने बनाए 237 रन

तपोवन-विष्णुगाड प्रोजेक्ट की दूसरी सुरंग में 30 से 35 व्यक्ति फंसे हैं। टनल में मलबा भरे होने के कारण उनके रेस्क्यू में दिक्कत आ रही हैं, ऋषिगंगा नदी और धौलीगंगा नदी के उफान में इन दोनों प्रोजेक्टों में काम करने वाले कई श्रमिक व स्थानीय लोग लापता है, जिनकी तलाश में एसडीआरएफ की 11 टीम जुटी हैं, दो टीम रैणी, चार टीम तपोवन, दो टीम जोशीमठ व तीन टीम श्रीनगर में तलाशी अभियान चला रही हैं। एयरफोर्स के चार हेलीकाप्टरों की भी मदद ली जा रही है।

 

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...