1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. हार्दिक पटेल का कांग्रेस से बड़ा सवाल, पूछा- आपकी भगवान राम से क्या दुश्मनी है…

हार्दिक पटेल का कांग्रेस से बड़ा सवाल, पूछा- आपकी भगवान राम से क्या दुश्मनी है…

पाटीदार नेता हार्दिक पटेल ने मंगलवार को ट्वीट कर एक बार फिर कांग्रेस पार्टी पर बड़ा निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी जनता की भावनाओं को ठेस पहुंचाने का काम करती है। वो हमेशा हिंदू धर्म की आस्था को नुकसान पहुंचाने का प्रयास करती हैं। इस दौरान उन्होंने दावा किया कि पूर्व केन्द्रीय मंत्री और गुजरात कांग्रेस नेता ने बयान दिया है की राम मंदिर की ईंटों पर कुत्ते पेशाब करते हैं। एक दूसरे ट्वीट में हार्दिक पटेल ने कांग्रेस पार्टी के नेताओं से सवाल करते हुए पूछा कि उनकी भगवान श्री राम से क्या दुश्मनी है?

By संतोष सिंह 
Updated Date

गुजरात। पाटीदार नेता हार्दिक पटेल ने मंगलवार को ट्वीट कर एक बार फिर कांग्रेस पार्टी पर बड़ा निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी जनता की भावनाओं को ठेस पहुंचाने का काम करती है। वो हमेशा हिंदू धर्म की आस्था को नुकसान पहुंचाने का प्रयास करती हैं। इस दौरान उन्होंने दावा किया कि पूर्व केन्द्रीय मंत्री और गुजरात कांग्रेस नेता ने बयान दिया है की राम मंदिर की ईंटों पर कुत्ते पेशाब करते हैं। एक दूसरे ट्वीट में हार्दिक पटेल ने कांग्रेस पार्टी के नेताओं से सवाल करते हुए पूछा कि उनकी भगवान श्री राम से क्या दुश्मनी है?

पढ़ें :- Sanjay Raut बोले- फिलहाल महाराष्ट्र में नहीं आने वाला है कोई राजनीतिक भूकंप

हार्दिक पटेल ने कांग्रेस पर क्या आरोप लगाए

पढ़ें :- अब MLC चुनाव में बड़ा झटका : संकट में उद्धव सरकार, शिवसेना के 13 विधायक गुजरात पहुंचे

कांग्रेस पार्टी देशहित और समाज हित के बिल्कुल विपरीत काम कर रही है। कांग्रेस पार्टी विरोध की राजनीति तक सीमत हो गई है। कांग्रेस राम मंदिर निर्माण, CAA-NRC, धारा 370, जीएसटी लागू करने में बाधा थी। जब देश संकट में था, तब हमारे नेता विदेश में थे।

बता दें कि हार्दिक पटेल को गुजरात कांग्रेस का कार्यकारी अध्यक्ष बनाया गया था, लेकिन बीते कुछ वक्त से वह कांग्रेस नेतृत्व से नाराज चल रहे हैं। कई बार वह अपनी नाराजगी खुलकर जता भी चुके थे। उन्होंने यहां तक कह दिया था कि कांग्रेस में उनकी हालत ऐसी हो गई है जैसे नए दूल्हे की नसबंदी करा दी हो। यहां वह कहना चाह रहे थे कि उनके पास पार्टी में फैसला लेने की कोई पावर नहीं है। हार्दिक पटेल ने कहा था कि उनकी नाराजगी राहुल गांधी, प्रियंका गांधी या सोनिया गांधी से नहीं है, बल्कि स्टेट लीडरशिप से है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...