1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. मैं आजीवन PM मोदी के साथ खड़ा रहूंगा, क्या भगवान राम का नाम लेना पार्टी विरोधी है…कांग्रेस से निष्कासित होने के बाद बोले आचार्य प्रमोद कृष्णम

मैं आजीवन PM मोदी के साथ खड़ा रहूंगा, क्या भगवान राम का नाम लेना पार्टी विरोधी है…कांग्रेस से निष्कासित होने के बाद बोले आचार्य प्रमोद कृष्णम

कांग्रेस नेता आचार्य प्रमोद कृष्णम को पार्टी से निष्कासित कर दिया गया है। इस पर आचार्य प्रमोद कृष्णम की प्रतिक्रिया आई है। उन्होनें कहा कि, मुझे कल रात न्यूज चैनलों के जरिए ये जानकारी मिली की कांग्रेस पार्टी ने एक चिट्ठी जारी की है, जिसमें कहा गया कि पार्टी विरोधी गतिविधियों के कारण आचार्य प्रमोद कृष्णम को 6 साल के लिए पार्टी से निष्काषित कर दिया गया है।

By शिव मौर्या 
Updated Date

संभल। कांग्रेस नेता आचार्य प्रमोद कृष्णम को पार्टी से निष्कासित कर दिया गया है। इस पर आचार्य प्रमोद कृष्णम की प्रतिक्रिया आई है। उन्होनें कहा कि, मुझे कल रात न्यूज चैनलों के जरिए ये जानकारी मिली की कांग्रेस पार्टी ने एक चिट्ठी जारी की है, जिसमें कहा गया कि पार्टी विरोधी गतिविधियों के कारण आचार्य प्रमोद कृष्णम को 6 साल के लिए पार्टी से निष्काषित कर दिया गया है। सबसे पहले मैं कांग्रेस पार्टी के नेतृत्व का आभार व्यक्त करता हूं कि उन्होंने मुझे कांग्रेस से मुक्ति देने का फरमान जारी किया।

पढ़ें :- 'अगर BJP दोबारा आयी तो पहले इलाज मेरा और तुम्हारा होगा,' इमरान मसूद के भड़काऊ बयान पर EC में शिकायत

उन्होंने कहा कि, केसी वेणुगोपाल या मल्लिकार्जुन खरगे ये बताएं कि ऐसी कौन सी गतिविधिया हैं जो पार्टी के विरोध में थीं, क्या भगवान राम का नाम लेना पार्टी विरोधी है? उन्होंने कहा कि, सवाल इस बात का है कि वो कांग्रेस जो महात्मा गांधी की कांग्रेस थी, आज उस कांग्रेस को किस रास्ते पर लाकर खड़ा किया गया है। क्या कांग्रेस में सिर्फ वो रह सकते हैं जो सनातन को मिटाने की बात करें? मैं ये साफ कर देना चाहता हूं कि ‘राम और राष्ट्र‘ पर समझौता नहीं किया जा सकता है। निष्कासन बहुत छोटी चीज है।

इसके साथ ही उन्होंने कहा, 16-17 साल की उम्र में मैंने जो वचन राजीव गांधी को दिया था वो आज तक निभाया है और आज इस उम्र में एक संकल्प ले रहा हूं कि मैं आजीवन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ खड़ा रहूंगा। आचार्य प्रमोद कृष्णम ने कहा, सचिन पायलट का बहुत अपमान हुआ है लेकिन वे भगवान शिव की तरह जहर पिये जा रहे हैं। उसी तरह प्रियंका गांधी की भी बहुत तौहीन हो रही है, देश की आज़ादी के बाद किसी भी पदाधिकारी के सामने ऐसा नहीं लिखा गया, जो प्रियंका गांधी के सामने लिखा गया।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...