1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. नवाचार में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस व मशीन लर्निंग की अपार संभावनाएं : Prof. Vineet Kansal

नवाचार में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस व मशीन लर्निंग की अपार संभावनाएं : Prof. Vineet Kansal

डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय लखनऊ (Dr. APJ Abdul Kalam Technical University Lucknow) के सेंटर फॉर एडवांस स्टडीज (Center for Advanced Studies) में सोमवार को विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. विनीत कंसल (Prof. Vineet Kansal) की अध्यक्षता में 'आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, मशीन लर्निंग व डीप लर्निंग' (Artificial Intelligence, Machine Learning and Deep Learning) विषय पर पांच दिवसीय ऑनलाइन कार्यशाला का शुभारम्भ हुआ।

By संतोष सिंह 
Updated Date

लखनऊ। डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय लखनऊ (Dr. APJ Abdul Kalam Technical University Lucknow) के सेंटर फॉर एडवांस स्टडीज (Center for Advanced Studies) में सोमवार को विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. विनीत कंसल (Prof. Vineet Kansal) की अध्यक्षता में ‘आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, मशीन लर्निंग व डीप लर्निंग’ (Artificial Intelligence, Machine Learning and Deep Learning) विषय पर पांच दिवसीय ऑनलाइन कार्यशाला का शुभारम्भ हुआ।

पढ़ें :- प्रो. प्रदीप कुमार मिश्र होंगे AKTU के नए कुलपति

इस अवसर पर सचिव, प्राविधिक शिक्षा आलोक कुमार ने बतौर मुख्य अतिथि प्रतिभाग किया। संस्थान के निदेशक प्रो. एमके दत्ता ने बताया कि इस पांच दिवसीय कार्यशाला में विश्वविद्यालय के प्रत्येक राजकीय एवं अनुदानित संस्थान से पांच पांच विद्यार्थी प्रतिभाग कर रहे हैं। इसके साथ ही एमएनएनआईटी, प्रयागराज, एचबीटीयू, कानपुर एवं एमएमएमयूटी, गोरखपुर के द्वारा भी इस कार्यशाला में प्रतिभाग किया जा रहा है।

विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. विनीत कंसल (Prof. Vineet Kansal)  ने कहा कि हर क्षेत्र में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस व मशीन लर्निंग का प्रभाव बढ़ रहा है। उन्होंने कहा कि नवाचार के लिए आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस व मशीन लर्निंग में बहुत संभावनाएं हैं। उन्होंने कहा कि विद्यार्थियों आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस व मशीन लर्निंग के क्षेत्र में नवाचारों के लिए प्रतिबद्धता से कार्य करने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि शोध व नवाचारों का परिणाम है कि 80 के दशक में हम आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और मशीन लर्निंग के वर्चुअल सत्य के विषय में चर्चाएं करते थे और वर्तमान में इसकी अवधारणाओं को मूर्तरूप देने में सफल हो सके हैं।

आलोक कुमार, सचिव, प्राविधिक शिक्षा ने कहा कि विवि के सेंटर फॉर एडवांस स्टडीज द्वारा आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस व मशीन लर्निंग (Artificial Intelligence, Machine Learning) के क्षेत्र में सराहनीय कार्य किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि विद्यार्थियों को कृषि के उत्थान एवं पुनर्वास में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के अनुप्रयोग के लिए नवाचार करने चाहिए| उन्होंने कहा कि विभिन्न क्षेत्र हैं। जहां आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के प्रयोग से सुविधाएँ विकसित की जा सकती हैं। इस अवसर पर संस्थान के समस्त शिक्षक, डीन एवं विद्यार्थी उपस्थित रहे। शुभारम्भ सत्र का सञ्चालन डॉ अनुज शर्मा ने किया।

पढ़ें :- AKTU ने परीक्षा फार्म शुल्क जमा जमा करने की अंतिम तिथि को 25 दिसम्बर तक बढ़ाया
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...