1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. यूपी में शोहदों के हौसले बुलंद, हाथरस के बाद अलीगढ़ में नाबालिग के साथ दुष्‍कर्म कर उतारा मौत के घाट

यूपी में शोहदों के हौसले बुलंद, हाथरस के बाद अलीगढ़ में नाबालिग के साथ दुष्‍कर्म कर उतारा मौत के घाट

By आराधना शर्मा 
Updated Date

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में महिलाओं बच्चियों पर अपराध का सिलसिला बढ़ता ही जा रहा है। बीते दिन हाथरस में जहां मनचलों ने बेटी को छिड़ने के बाद उसके पिता को गोलियों से भून डाला वहीं आज अलीगढ़ का एक ताजा मामला सामने आया है जिसने मानवता शर्मसर हो गई। दरअसल, अलीगढ़ के एक गांव में 17 साल की दलित लड़की का शव अर्ध-नग्न हालत में मिला। उसके शरीर पर यौन हमले और खेत में घसीटे जाने के निशान मिले हैं।

पढ़ें :- यूपी देश के टॉप-4 राज्यों में शामिल, 75 लाख से अधिक नल कनेक्शन देने का आंकड़ा किया पार

आपको बता दें, मामले को सुलझाने के लिए पांच टीमों का गठन करने वाली अलीगढ़ पुलिस ने मंगलवार को पूछताछ के लिए 12 संदिग्धों को हिरासत में लिया है। लड़की का शव रविवार रात अलीगढ़ के अकराबाद इलाके में एक खेत से मिला था।

गला घोटने से हुई मौत 

अलीगढ़ के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मुनिराज ने बताया, “पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मौत का कारण गला घोंटना और स्मदरिंग बताया गया है। पीड़िता के शरीर पर बाहरी चोट के निशान पाए गए हैं। नाबालिग़ की स्किन छील गई थी।  इतना ही नहीं उसके पूरे शरीर पर नाखून के निशान पाए गए, लेकिन पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टरों की एक टीम द्वारा प्रारंभिक जांच में कोई आंतरिक चोट नहीं पाई गई। फोरेंसिक रिपोर्ट से तस्वीर साफ हो जाएगी।”

शिकायत के अनुसार, लड़की सुबह 11 बजे घर से बकरियों के लिए चारा इकट्ठा करने के लिए निकली थी। जब वह सूर्यास्त के बाद वापस नहीं लौटी, तो उसके परिवार ने उसकी तलाश शुरू कर दी। बाद में एक स्थानीय व्यक्ति ने उसका शव गेहूं के खेत में देखा। उसके कपड़े चारों तरफ बिखरे हुए थे और ऐसा प्रतीत हुआ कि उसका यौन उत्पीड़न किया गया था।

पुलिस ने अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ आईपीसी की धारा 376 (दुष्कर्म), 302 (हत्या) और पोक्सो अधिनियम के तहत भी प्राथमिकी दर्ज की है। लड़की अपनी दादी के साथ रह रही थी और उनके साथ खेतों में जाती थी, लेकिन घटना वाले दिन वह अकेली बाहर गई थी।

पढ़ें :- Budget 2023: लोगों को बजट से क्या हैं उम्मीदें? किसानों के लिए किए जा सकते हैं खास ऐलान

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...