1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. यूपी में ट्रेस, टेस्ट, ट्रीट और टीकाकरण नीति से कोविड हुआ कंट्रोल : योगी

यूपी में ट्रेस, टेस्ट, ट्रीट और टीकाकरण नीति से कोविड हुआ कंट्रोल : योगी

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को कहा कि ट्रेस, टेस्ट, ट्रीट और टीकाकरण की नीति के प्रभावी क्रियान्वयन से राज्य में कोविड -19 (COVID-19) संक्रमण नियंत्रित स्थिति में है। उन्होंने कोरोना संक्रमण से बचाव और उपचार की व्यवस्थाओं को निरन्तर सुदृढ़ रखने के निर्देश दिया। कहा कि कोविड -19 प्रोटोकॉल का पूर्णतया पालन सुनिश्चित कराया जाए।

By संतोष सिंह 
Updated Date

लखनऊ। यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को कहा कि ट्रेस, टेस्ट, ट्रीट और टीकाकरण की नीति के प्रभावी क्रियान्वयन से राज्य में कोविड -19 (COVID-19) संक्रमण नियंत्रित स्थिति में है। उन्होंने कोरोना संक्रमण से बचाव और उपचार की व्यवस्थाओं को निरन्तर सुदृढ़ रखने के निर्देश दिया। कहा कि कोविड -19 प्रोटोकॉल का पूर्णतया पालन सुनिश्चित कराया जाए।

पढ़ें :- Covid 19 : डेढ़ साल के निचले स्तर पर नए केस, तेजी से भाग रहा कोरोना

मुख्यमंत्री रविवार को लोक भवन में आहूत एक उच्चस्तरीय बैठक में प्रदेश में कोविड-19 की स्थिति की समीक्षा कर रहे थे। बैठक में मुख्यमंत्री को अवगत कराया गया कि पिछले 24 घण्टों में राज्य में कोरोना संक्रमण के 10 नए मामले सामने आए हैं। इस अवधि में 08 व्यक्तियों को सफल उपचार के उपरान्त डिस्चार्ज किया गया। वर्तमान में प्रदेश में कोरोना के सक्रिय मामलों की संख्या 102 है।

मुख्यमंत्री को अवगत कराया गया कि जनपद अमेठी, अयोध्या, आजमगढ़, बदायूं, बागपत, बलरामपुर, बांदा, बाराबंकी, बस्ती, बहराइच, भदोही, बिजनौर, बुलन्दशहर, चंदौली, चित्रकूट, एटा, इटावा, फर्रुखाबाद, फतेहपुर, गोण्डा, हमीरपुर, हाथरस, जौनपुर, झांसी, कानपुर नगर, कासगंज, कौशाम्बी, कुशीनगर, महोबा, मैनपुरी, मऊ, मुरादाबाद, प्रतापगढ़, रामपुर, संतकबीरनगर, शामली, श्रावस्ती, सिद्धार्थनगर, सीतापुर, सोनभद्र तथा उन्नाव में कोविड का एक भी मरीज नहीं है। प्रदेश में कोरोना संक्रमण की रिकवरी दर 98.7 प्रतिशत है। पिछले 24 घण्टे में प्रदेश में 01 लाख 20 हजार 807 कोरोना टेस्ट किए गए। अब तक राज्य में 08 करोड़ 63 लाख 51 हजार 214 कोविड टेस्ट सम्पन्न हो चुके हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड टीकाकरण को और तेज करने के प्रभावी प्रयास किये जाएं। इसके लिए घर-घर जाकर सर्वेक्षण किया जाए। लक्षित आयु वर्ग के जिन लोगों ने अभी तक टीके की खुराक नहीं ली है, उन्हें वैक्सीनेशन के लिए प्रेरित और प्रोत्साहित किया जाए। उन्होंने कहा कि दिव्यांग, निराश्रित तथा वृद्धजनों से सम्पर्क कर उनका टीकाकरण कराएं। उन्होंने कहा कि इस कार्य के लिए मुख्य चिकित्सा अधिकारी, ग्राम प्रधानों व पार्षदों का सहयोग लें।

बैठक में मुख्यमंत्री को अवगत कराया गया कि राज्य में गत दिवस तक 14 करोड़ 79 लाख 86 हजार से अधिक कोरोना वैक्सीन की डोज लगाई जा चुकी हैं। 04 करोड़ 27 लाख 38 हजार से अधिक लोगों को टीके की दोनों डोज देकर कोविड सुरक्षा कवच प्रदान किया जा चुका है। 10 करोड़ 52 लाख 48 हजार से अधिक लोगों ने कोविड वैक्सीन की पहली डोज प्राप्त कर ली है। यह संख्या टीकाकरण के लिए पात्र प्रदेश की कुल आबादी की 71.39 प्रतिशत है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में अधिक से अधिक नए उद्योग स्थापित हो सकें। इसके लिए प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की एनओसी की प्रक्रिया का सरलीकरण किया जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी क्रय केन्द्रों पर पूरी पारदर्शिता के साथ धान खरीद की जाए। यह सुनिश्चित किया जाए कि किसान को अपनी उपज बेचने में कोई असुविधा न हो। अधिकारियों द्वारा धान खरीद प्रक्रिया की नियमित मॉनिटरिंग की जाए। जिलाधिकारी धान क्रय केन्द्रों का नियमित तौर पर निरीक्षण करें। किसानों को उनकी उपज का समय से भुगतान सुनिश्चित किया जाए।

पढ़ें :- Mafia Mukhtar Ansari पर योगी का बड़ा वार, डेढ़ करोड़ की संपत्ति कुर्क करेगी सरकार

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...