1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. क्या “एक देश में दो क़ानून” नहीं हैं? ओवैसी बोले-सड़क पर नमाज़ अदा करो तो FIR लेकिन…

क्या “एक देश में दो क़ानून” नहीं हैं? ओवैसी बोले-सड़क पर नमाज़ अदा करो तो FIR लेकिन…

असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने ट्वीट कर लिखा है कि, सड़क पर नमाज़ अदा करो तो FIR हो जाता है, लेकिन कांवड़ यात्रा के लिए गोश्त की दुकानें ढका कर बंद करवा दी जा रहीं हैं। “धार्मिक भावनाओं” के नाम पर रोज़गार का हक़ छीन लेना शर्मनाक बात है। इसके साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तंज कसते हुए कहा कि, क्या “एक देश में दो क़ानून” नहीं हैं? आपकी “समान नागरिकता” की बातें ढोंग हैं।

By शिव मौर्या 
Updated Date

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के कई इलाकों में कांवड़ यात्रा के कारण मीट की दुकानों को बंद करा दिया गया है। इसको लेकर एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi)  ने सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि, धार्मिक भावनाओं के नाम पर रोज़गार का हक़ छीन लेना शर्मनाक बात है।

पढ़ें :- 10 साल में डॉलर और सोना की बढ़ती गई चमक, मोदी राज में लगातार कमजोर होता गया रुपया... कौन देगा जवाब?

बुधवार केा असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने ट्वीट कर लिखा है कि, सड़क पर नमाज़ अदा करो तो FIR हो जाता है, लेकिन कांवड़ यात्रा के लिए गोश्त की दुकानें ढका कर बंद करवा दी जा रहीं हैं। “धार्मिक भावनाओं” के नाम पर रोज़गार का हक़ छीन लेना शर्मनाक बात है। इसके साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तंज कसते हुए कहा कि, क्या “एक देश में दो क़ानून” नहीं हैं? आपकी “समान नागरिकता” की बातें ढोंग हैं।

पढ़ें :- Lok Sabha Elections 2024: पीएम मोदी बोले-कांग्रेस हर उस काम का विरोध करती है, जो देशहित में होता है

ओवैसी (Asaduddin Owaisi)  ने अपने ट्वीट में एक न्यूज आर्टिकल का लिंक भी शेयर किया है। इसमें मीट की दुकानों को ढका हुआ दिखाया गया है। न्यूज आर्टिकल की हेडलाइन में लिखा है, “उत्तर प्रदेश में कावड़ यात्रा के चलते मीट की दुकान बंद। हिंदू तीर्थयात्री की भावनाओं को ध्यान में रखते हुए यह फैसला लिया गया है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...