1. हिन्दी समाचार
  2. सेहत
  3. दूध हल्दी पिने के 10 चमत्कारी फायदे जान कर पिने से खुद को रोक नहीं पाएंगे

दूध हल्दी पिने के 10 चमत्कारी फायदे जान कर पिने से खुद को रोक नहीं पाएंगे

हल्दी व दूध दोनों ही गुणकारी हैं। लेकिन अगर इन्हें एक साथ मिलाकर लिया जाए तो इनके फायदे दोगुना हो जाते हैं। इन्हें एक साथ पीने से यह कई स्वास्थ्य संबंधित समस्याएं दूर होती हैं। हल्दी का प्रयोग आमतौर पर खून के रिसाव को रोकने या चोट को ठीक करने के लिए किया जाता है। कई बार हाथ-पैरों में होने वाले दर्द से राहत पाने के लिए भी हल्दी वाले दूध का इस्तेमाल किया जाता है।

By प्रीति कुमारी 
Updated Date

आम तौर पर सर्दी होने या शा‍रीरिक पीड़ा होने पर घरेलू इलाज के रूप में हल्दी वाले दूध का इस्तेमाल किया जाता है। अधिकतर हल्दी का सेवन दूध में मिलाकर ही किया जाता है। हल्दी में एंटीसेप्टिक और एंटीबायोटिक गुण होते हैं। वहीं दूध में मौजूद कैल्शियम हल्दी के साथ मिलकर शरीर को फायदा पहुंचाता है लेकिन क्या आप जानते हैं। कि हल्दी वाले दूध के एक नहीं अनेक फायदे हैं। आयुर्वेद में हल्दी को सबसे बेहतरीन नेचुरल एंटीबायोटिक माना गया है। इसलिए यह स्किन, पेट और शरीर के कई रोगों में उपयोग की जाती है।

पढ़ें :- डेंगू: जानिए डेंगू से बचने के 5 घरेलू नुस्खे
Jai Ho India App Panchang

हडि्डयों को फायदा और गठिया दूर करने में सहायक

रोजाना हल्दी वाला दूध लेने से शरीर को पर्याप्त मात्रा में कैल्शियम मिलता है। हड्डियां स्वस्थ और मजबूत होती है। हल्दी वाले दूध को गठिया के निदान और रियूमेटॉइड गठिया के कारण सूजन के उपचार के लिए उपयोग किया जाता है। यह जोड़ो और पेशियों को लचीला बनाकर दर्द को कम करने में भी सहायक होता है। हल्दी अच्दी दर्द नाशक है. इसे चूने में मिलाकर गुम चोट में लगाने से यह दर्द को खींच लेती है। इसके अलावा दूध में हल्दी मिलाकर पीने से कान दर्द जैसी कई समस्याओं में आराम मिलता है। इससे शरीर का रक्त संचार बढ़ जाता है जिससे दर्द में तेजी से राहत मिलती है।सुडौल शरीर हर किसी का सपना होता है। हल्दी का सेवन शरीर को सुडौल बनाता है। प्रतिदिन एक गिलास दूध में सुबह के समय आधा चम्मच हल्दी मिलाकर पीने से शरीर सुडौल हो जाता है। गुनगुने दूध के साथ हल्दी के सेवन से शरीर में जमा अतिरिक्त फैट धीरे-धीरे कम होने लगता है। इसमें उपस्थित कैल्शियम और अन्य तत्व वजन कम करने में भी मददगार होते हैं।

यदि सांस संबंधी परेशानिया हमें परेशान कर रही है। तो हल्दी वाला दूध का सेवन करे हल्दी वाला दूध प्रतिजैविक होने के कारण जीवाणु और विषाणु के संक्रमण पर हमला करता है। इससे सांस सम्बन्धी बीमारियों के उपचार में लाभ मिलता है। यह मसाला आपके शरीर में गरमाहट लाता है और फेफड़े व साइनस में जकड़न से तुरंत राहत मिलती है।

कैंसर जलन और सूजन कम करने वाले गुणों के कारण यह स्तन, त्वचा, फेफड़े, प्रॉस्ट्रेट और बड़ी आंत के कैन्सर को रोकता है। यह कैंसर कोशिकाओं से डीएनए को होने वाले नुकसान को रोकता है। और कीमोथेरेपी के दुष्प्रभावों को कम करता है।

यदि आपको भी रात में नींद नहीं आने की समस्या है। और आप रात भर विचारों में खोए रहते हैं तो हल्दी वाला दूध आपके लिए अच्छी नींद में सहायक हो सकता है। रात का भोजन करने के बाद सोने से आधे घंटे पहले हल्दी वाला दूध पीएं फिर देखिए आपको रात में कैसी नींद आती है।हल्दी वाला गर्म दूध ट्रिप्टोफैन नामक अमीनोअम्ल बनाता है जो शान्तिपूर्वक और गहरी नींद में सहायक होता है।

पढ़ें :- विश्व अल्जाइमर दिवस 2021: यहां 5 जोखिम कारक हैं जो बीमारी को ट्रिगर कर सकते हैं

ब्लड शुगर में राहत

आज कल हर किसी को ब्लड शुगर की समस्या होती है जिससे काफी परेशानियों का सामना करना परता है। ब्लड शुगर ज्यादा होने पर मधुमेह रोग हो जाता है। खून में ब्लड शुगर बढ़ने पर हल्दी वाले दूध का सेवन फायदेमंद रहता है। दूध में हल्दी मिलाकर पीने से शुगर लेवल कम होता है। लेकिन याद रहे हल्दी का ज्यादा सेवन ब्लड शुगर की निर्धारित मात्रा को भी कम कर सकता हैं।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...