HBE Ads
  1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. Lucknow News : वंदे भारत एक्सप्रेस पर मल्हौर रेलवे स्टेशन से गुजरते समय हुआ पथराव, दो माह के अंदर चौथी घटना

Lucknow News : वंदे भारत एक्सप्रेस पर मल्हौर रेलवे स्टेशन से गुजरते समय हुआ पथराव, दो माह के अंदर चौथी घटना

गोरखपुर से लखनऊ (Gorakhpur to Lucknow) आ रही वंदे भारत एक्सप्रेस (Vande Bharat Express)  पर शुक्रवार सुबह मल्हौर रेलवे स्टेशन (Malhaur Railway Station) से गुजरते समय पथराव हुआ। इस वजह से ट्रेन की चेयरकार बोगी सी-3 का शीशा क्षतिग्रस्त हो गया है। बता दें कि पथराव के कारण यात्रियों में अफरा-तफरी मच गई।

By संतोष सिंह 
Updated Date

लखनऊ। गोरखपुर से लखनऊ (Gorakhpur to Lucknow) आ रही वंदे भारत एक्सप्रेस (Vande Bharat Express)  पर शुक्रवार सुबह मल्हौर रेलवे स्टेशन (Malhaur Railway Station) से गुजरते समय पथराव हुआ। इस वजह से ट्रेन की चेयरकार बोगी सी-3 का शीशा क्षतिग्रस्त हो गया है। बता दें कि पथराव के कारण यात्रियों में अफरा-तफरी मच गई। ट्रेन में गस्त कर रही आरपीएफ (RPF) ने पथराव करने वालों की तलाशी के लिए सीसीटीवी कैमरा चेक करवा रही है।

पढ़ें :- जिस सोसाइटी में सर्वाधिक मतदान, उनके आरडब्ल्यूए को किया जाएगा सम्मानित : मण्डलायुक्त डाॅ. रोशन जैकब

बता दें कि इससे पहले बीते सात अगस्त को सफेदाबाद रेलवे स्टेशन (Safedabad Railway Station) के पास ट्रेन पर पथराव किया गया था, जिससे कोच का शीशा टूट गया था। अराजक तत्वों के पत्थर चलाने से कोच नंबर सी-2 के सीट नंबर 3 और 4 के पास वाली खिड़की का शीशा टूटा था। नौ जुलाई से वंदे भारत एक्सप्रेस (Vande Bharat Express)  की शुरूआत हुई थी, जिसके बाद बीते दो माह में चार बार वंदे भारत एक्सप्रेस (Vande Bharat Express)   पर पथराव हो चुका है, जिसके मामले आरपीएफ (RPF) ने दर्ज किये हैं। बाराबंकी में पथराव के मामले में तीन लोगों पर ही कार्रवाई हो सकी।

बकरी कटने का लिया था बदला

पिछली बार जब वंदे भारत एक्सप्रेस (Vande Bharat Express)   में पथराव हुआ। तब उसकी वजह अजीब निकली थी। जांच में पता चला था कि स्थानीय गांव के निवासियों की कुछ बकरियां ट्रेन से कट गईं थीं। इसी का बदला लेने के लिए ट्रेन पर पत्थर चलाए गए थे। गनीमत यह थी कि इस पथराव से किसी यात्री को चोट नहीं पहुंची थी।

पढ़ें :- गौमाता व जन-जन की आराध्य मां यमुना की स्थिति पर व्यक्त की चिंता : अविमुक्तेश्वरानंद सरस्वती
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...