1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. योगी जी के राज में शिकायत के बाद भी सुशील सिंह मांग रहे रंगदारी, नहीं तो अंजाम भुगतने की दे रहे धमकी!

योगी जी के राज में शिकायत के बाद भी सुशील सिंह मांग रहे रंगदारी, नहीं तो अंजाम भुगतने की दे रहे धमकी!

उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार अपराधियों और बदमाशों पर ताबड़तोड़ कार्रवाई का डांका पीट रही है लेकिन कुछ सत्ताधारी विधायक मुख्यमंत्री के इस मंसूबे पर पानी फेर रहे हैं। मुख्यमंत्री की कानून व्यवस्था की जीरो टॉलरेंस नीति को सत्ता का संरक्षण देकर ये कानून व्यवस्था का माखौल उड़ा रहे हैं।

By टीम पर्दाफाश 
Updated Date

UP News: उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार अपराधियों और बदमाशों पर ताबड़तोड़ कार्रवाई का डंका पीट रही है लेकिन कुछ सत्ताधारी विधायक मुख्यमंत्री के इस मंसूबे पर पानी फेर रहे हैं। मुख्यमंत्री की कानून व्यवस्था की जीरो टॉलरेंस नीति को सत्ता का संरक्षण देकर ये कानून व्यवस्था का माखौल उड़ा रहे हैं।

पढ़ें :- रामनगरी में द‍िव्‍य शालिग्राम की श‍िलाओं का भव्‍य पूजन, भक्‍त बोले- लगा मां सीता-श्रीराम के हुए दर्शन

दरअसल, मामला चंदौली जिले के मुगलसराय का है, जहां ‘जल जीवन मिशन’ में काम कर रही कंपनी के कर्मचारियों को धमकाया जा रहा है। रंगदारी वसूली के लिए उन्हें लगातार फोन आ रहे हैं। यही नहीं सत्ताधारी ​विधायक सुशील सिंह का करीबी बताकर ये लगातार रंगदारी नहीं देने पर अंजाम भुगतने का धमकी दे रहे हैं।

सूत्रों की माने तो हाल में ही सत्ताधारी विधायक सुशील सिंह के करीबियों ने जल जीवन मिशन’ में काम कर रही कंपनी ‘आयन एक्सचेंज इंडिया लिमिटेड’ के कर्मचारियों को बुलाया भी था और उनसे मीटिंग कर धमकी दी थी। उनका कहना था कि बिना रंगदारी दिए यहां पर काम करना मुश्किल कर देंगे। सूत्रों की माने तो उन्होंने कंपनी के लोगों से कहा था कि किसी से शिकायत भी काम नहीं आयेगी। अगर आगे शिकायत की तो अंजाम बुरा होगा।

बता दें कि, पिछली बार भी इस कंपनी के लोगों पर हमला किया था, जिसके बाद कंपनी ने इसकी शिकायत प्रमुख सचिव गृह संजय प्रसाद, पूर्व प्रमुख सचिव गृह अवनीश अवस्थी, प्रमुख सचिव जल ​जीवन मिशन, डीएम चंदौली, एसपी चंदौली समेत अन्य उच्च अधिकारियों से की थी। अधिकारियों ने कार्रवाई का आश्वासन दिया था। बावजूद इसके ये अपराधी रंगदारी के लिए लगातार इन्हें धमका रहे हैं।

कंपनी के लोगों को दी गई थी सुरक्षा
पिछली बार कंपनी के लोगों पर बदमाशें ने हमला किया था। उनके खिलाफ एफआईआर भी लिखी गई थी। यही नहीं कंपनी के लोगों को पुलिस की सुरक्षा भी दी गई है। बावजूद इसके सत्ताधारी ​विधायक का करीबि बताकर ये बदमाश कंपनी के लोगों से रंगदारी की मांग कर रहे हैं। रंगदारी नहीं देने पर अंजाम भुगतने की धमकी भी दे रहे हैं।

पढ़ें :- Adani Group को किस बैंक ने दिया कितना कर्ज? RBI ने मांगी डिटेल, सेबी भी एक्शन में, संसद में हंगामा जारी

लखनऊ में शिकायत करने से कोई फायदा नहीं
सूत्रों की माने तो सत्ताधारी विधायक का नाम लेकर ये बदमाश कंपनी के कर्मचारियों के काम में हर दिन दखल डाल रहे हैं। आए दिन कह रहे हैं लखनऊ से किसी से भी शिकायत करने का कोई भी फायदा नहीं है। बता दें कि, बीते दिनों इसी कंपनी के कर्मचारियों पर हमला किया गया था। इसके बाद भी पुलिस कोई कार्रवाई नहीं कर पा रही है और ये बदमाश लगातार परेशान कर रहे हैं।

विधायक लिखी गाड़ी से आए थे पिछली बार बदमाश
बता दें कि, इस कंपनी के कर्मचारियों पर बीते महीने हमला हुआ था। इस दौरान बदमाश विधायक लिखी गाड़ी से आए थे। कहा जा रहा था कि ये लोग खुद को ​विधायक सुशील सिंह का करीबी बता रहे थे। पिछले कुछ दिनों से लोग लगातार कंपनी पर वसूली का दबाव बना रहे थे। रुपये नहीं देने पर काम रूकवाने की धमकी दे रहे थे।

 

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...