1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. मां भारती की बेटियां Tokyo Olympic में मैच हारी, लेकिन मन जीता, उनका हार्दिक अभिनंदन : सीएम योगी

मां भारती की बेटियां Tokyo Olympic में मैच हारी, लेकिन मन जीता, उनका हार्दिक अभिनंदन : सीएम योगी

यूपी (UP) के सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympic) में ऐतिहासिक प्रदर्शन करने वाली भारतीय महिला हॉकी टीम (India women's hockey team) की प्रशंसा की है। सीएम योगी ने शुक्रवार इंग्लैंड के खिलाफ कांस्य पदक( Bronze Medal) के मुकाबले में हारने वाली टीम इंडिया के लिए लिखा है कि मैच हारा, लेकिन मन जीता…टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympics 2020)  में इतिहास रचने वाली मां भारती की बेटियों का हार्दिक अभिनंदन, जय हिंद!

By संतोष सिंह 
Updated Date

लखनऊ। यूपी (UP) के सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympic) में ऐतिहासिक प्रदर्शन करने वाली भारतीय महिला हॉकी टीम (India women’s hockey team) की प्रशंसा की है। सीएम योगी ने शुक्रवार इंग्लैंड के खिलाफ कांस्य पदक( Bronze Medal) के मुकाबले में हारने वाली टीम इंडिया के लिए लिखा है कि मैच हारा, लेकिन मन जीता…टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympics 2020)  में इतिहास रचने वाली मां भारती की बेटियों का हार्दिक अभिनंदन, जय हिंद!

पढ़ें :- पीएम मोदी 25 अक्टूबर को सिद्धार्थनगर को देंगे मेडिकल कॉलेज का तोहफा, सीएम योगी ने किया निरीक्षण

भारत की महिला हॉकी टीम का ओलंपिक में पहली बार शुक्रवार को पदक जीतने का सपना चकनाचूर हो गया है।  ब्रॉन्ज मेडल मुकाबले में भारत को रियो ओलंपिक की गोल्ड मेडलिस्ट ग्रेट ब्रिटेन ने 4-3 से मात दी। भारत के लिए गुरजीत कौर ने सबसे ज्यादा दो गोल किए। गुरजीत (25वें एवं 26वें मिनट) के अलावा वंदना कटारिया ने 29वें मिनट में स्कोर किया। ग्रेट ब्रिटेन (Great Britain) के लिए इलेना रायर ने 16वें, सारा रॉबर्टसन ने 24वें, होली पियरने वेब ने 35वें और ग्रेस बाल्सडन ने 48वें मिनट में गोल दागे।

भारतीय महिला हॉकी टीम कप्तान रानी रामपाल (Captain Rani Rampal) की टीम ने वह कर दिखाया है जो इससे पहले ओलंपिक के इतिहास में कभी नहीं हुआ था। भारतीय टीम ओलंपिक इतिहास में पहली बार चौथे स्थान पर जगह बनाने में कामयाब रहीं। उसने क्वार्टरफाइनल में ओलंपिक में तीन गोल्ड जीतने वाली ऑस्ट्रेलियाई टीम (Australian Team) को हराया। सेमीफाइनल में चार बार की ओलंपिक मेडलिस्ट अर्जेंटीना को कड़ी टक्कर दी और आज ब्रिटेन से भी आखिरी सेकेंड तक लड़ती रही।  भारतीय टीम की हार में भी एक जीत है और सुनहरे भविष्य की आस है। यही कारण है कि पदक से चूकने के बावजूद देश उन पर गर्वान्वित है और उनकी हौसलाफजाई कर रहा है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...