1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. No Confidence Motion : सुप्रिया का BJP पर वार, मोदी सरकार ने नौ सालों में अलोकतांत्रिक रूप से 9 राज्यों की गैर भाजपाई सरकारों को गिराया

No Confidence Motion : सुप्रिया का BJP पर वार, मोदी सरकार ने नौ सालों में अलोकतांत्रिक रूप से 9 राज्यों की गैर भाजपाई सरकारों को गिराया

No Confidence Motion Debate : संसद में सरकार के खिलाफ विपक्ष द्वारा लाए गए अविश्वास प्रस्ताव (No Confidence) पर चर्चा हो रही है। इस चर्चा में एनसीपी की नेता सुप्रिया सुले ने भी हिस्सा लिया। उन्होंने मणिपुर (Manipur) के सीएम को तत्काल प्रभाव से हटाने की मांग की है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

No Confidence Motion Debate : संसद में सरकार के खिलाफ विपक्ष द्वारा लाए गए अविश्वास प्रस्ताव (No Confidence) पर चर्चा हो रही है। इस चर्चा में एनसीपी की नेता सुप्रिया सुले (NCP leader Supriya Sule) ने भी हिस्सा लिया। उन्होंने मणिपुर (Manipur) के सीएम को तत्काल प्रभाव से हटाने की मांग की है। सुले ने इस दौरान बीजेपी (BJP) पर हमला करते हुए कहा कि इसने केंद्र में अपने नौ वर्षों के कार्यकाल में नौ राज्यों की सरकारें गिराई हैं।

पढ़ें :- मोदी की गारंटी का लक्ष्य समाज के अंतिम पायदान पर खड़े देशवासी का भी जीवन बदलना है: पीएम

बारामती से सांसद सुप्रिया सुले (Baramati MP Supriya Sule) ने सत्तारूढ़ बीजेपी की सरकार के व्यवहार को अक्खड़ बताया है। सुले ने कहा कि जैसे नौ रत्न हैं। इनको बोलने का शौक है। नौ रत्न नौ साल, ये बड़ा अभियान चला रहे हैं, इनके सभी मंत्री पूरे देश में जाकर नौ मुद्दे पर बात कर रहे हैं। इन नौ साल में इनकी क्या उपलब्धि रही है। इस पर मैं संक्षेप में बात करूंगी। सुले ने आगे बीजेपी पर तंज कसते हुए कहा कि राज्य सरकारों को गिराया गया, यह फेयर लोकतंत्र था। महंगाई की मार बहुत हो गई…. अबकी बार…. शायद सबको याद होगा। एलपीजी की प्राइस बढ़ी। कर्नाटक ने दिखा दिया कि एलपीजी का प्राइस क्या होता है? कई संस्थानों को तोड़ा गया। जुमले पर जुमला बोलते हैं। सही बोलते थे गडकरी साहब (नितिन गडकरी) कि यह जुमला गले की हड्डी हो गया है। न नीचे जा रहा है न बाहर आ रही है।

पढ़ें :- पूर्व गवर्नर सच बोलें तो उनके घर CBI भेज दो-ये है मदर ऑफ डेमोक्रेसी? राहुल गांधी का सरकार पर निशाना

सुप्रिया सुले ने गिनाए इन राज्यों के नाम

सुप्रिया सुले ने आगे कहा कि इंडेक्स दिखा रहा है कि भारत वैश्विक रूप से नीचे आ रहा है। को-ऑपरेटिव फेडरलिज्म का तो हमलोग बोल-बोल के थक गए। मणिपुर, जम्मू-कश्मीर और हरियाणा में कानून-व्यवस्था चिंताजनक है। नौ सालों में बीजेपी ने नौ सरकारें गिराई हैं। उत्तराखंड, जम्मू-कश्मीर,अरुणचाल, कर्नाटक, गोवा, एमपी, पुड्डीचेरी, मेघालय और महाराष्ट्र में तो दो बार सरकार गिराई गई। मणिपुर के सीएम का इस्तीफा मांगते हुए सुप्रिया सुले ने कहा कि ‘दंगा, हत्या और रेप के 10 हजार मामले आए हैं। क्या हम असंवेदनशील हो गए हैं? यह सरकार के साथ समस्या है।’

2014 के लोकसभा चुनाव से पहले के बीजेपी के नारे याद दिलाए और मणिपुर घटना को लेकर भी केंद्र सरकार को घेरा

उन्होंने 2014 के लोकसभा चुनाव से पहले के बीजेपी के नारे याद दिलाए और मणिपुर में महिलाओं के साथ हुई घटना को लेकर भी केंद्र सरकार को घेरा। सुप्रिया सुले ने मणिपुर की घटना को लेकर कहा कि ये उनके और हमारे बीच की बात नहीं है। ये महिलाओं की डिग्निटी की बात है। उन्होंने कहा कि वो किसी की बहन, किसी की बेटी, किसी की पत्नी हैं। किसी की इज्जत उछालोगे और सरकार चुप रहेगी? इस पर ट्रेजरी बेंच की ओर से राजस्थान में महिलाओं के साथ आपराधिक घटनाओं को लेकर किसी सदस्य ने कुछ कहा। जवाब में सुप्रिया सुले ने कहा कि राजस्थान में हो या महाराष्ट्र में, वह देश की बेटी है। सुप्रिया सुले ने केंद्र सरकार को फेल बताया और ये भी कहा कि मैं इंडिया के लिए बोलने को खड़ी हुई हूं।

वंदे भारत ट्रेन के मुद्दे पर भी उन्होंने सरकार को घेरा। सुप्रिया सुले ने कहा कि ये ट्रेन गरीबों की नहीं। गरीबों के लिए गरीब रथ है। यूपीए सरकार के समय कई ट्रेन हमारे इलाके से चलती थीं और आज वो ट्रेन रुकती भी नहीं, दनदनाते हुए निकल जाती हैं। उन्होंने टमाटर और प्याज की कीमतों के साथ ही महंगाई के मुद्दे पर भी सरकार को जमकर घेरा।

पढ़ें :- यूपी का 69,000 शिक्षक भर्ती भाजपा की आरक्षण विरोधी मानसिकता का सबूत है: राहुल गांधी

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...