1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. Qutub Minar Excavation: कुतुब मीनार परिसर की खुदाई मामले में केंद्रीय मंत्री जी किशन रेड्डी ने दिया ये बयान

Qutub Minar Excavation: कुतुब मीनार परिसर की खुदाई मामले में केंद्रीय मंत्री जी किशन रेड्डी ने दिया ये बयान

Qutub Minar complex: कुतुब मीनार परिसर (Qutub Minar complex) की खुदाई मामले में केंद्रीय संस्कृति मंत्री जी किशन रेड्डी (G Kishan Reddy) ने मीडिया से बात की है। उन्होंने बताया कि फिलहाल भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (ASI) द्वारा अभी तक ऐसा कोई निर्णय नहीं लिया गया है कि कुतुब मीनार परिसर की खुदाई की जाए। उन्होंने बताया सोशल मीडिया पर आई ये जानकारी कोरी अफवाह है। अभी तक कुतुब मीनार परिसर की खुदाई से जुड़ा फैसला नहीं लिया गया है। उन्होंने कहा कि फिलहाल अभी ऐसा कोई फैसला नहीं लिया गया है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

Qutub Minar complex: कुतुब मीनार परिसर (Qutub Minar complex) की खुदाई मामले में केंद्रीय संस्कृति मंत्री जी किशन रेड्डी (G Kishan Reddy) ने मीडिया से बात की है। उन्होंने बताया कि फिलहाल भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (ASI) द्वारा अभी तक ऐसा कोई निर्णय नहीं लिया गया है कि कुतुब मीनार परिसर की खुदाई की जाए। उन्होंने बताया सोशल मीडिया पर आई ये जानकारी कोरी अफवाह है। अभी तक कुतुब मीनार परिसर की खुदाई से जुड़ा फैसला नहीं लिया गया है। उन्होंने कहा कि फिलहाल अभी ऐसा कोई फैसला नहीं लिया गया है।

पढ़ें :- माध्यमिक शिक्षा की मजबूती को मुख्यमंत्री देंगे 25 करोड़ रुपये का उपहार, 3 मार्च को साढ़े चार हजार विद्यार्थियों को मिलेगा स्मार्टफोन व टैबलेट

मीडिया की कुछ रिपोर्ट में रविवार को दावा किया गया कि संस्कृति मंत्रालय के आदेश पर कुतुब मीनार (Qutub Minar) में मूर्तियों की Iconography कराई जाएगी। हालांकि अब केंद्रीय मंत्री ने इन दावों को एक सिरे से नकार दिया है। रिपोर्ट में कुतुब मीनार परिसर (Qutub Minar complex) में खुदाई की बात भी कही गई थी। मीडिया रिपोर्ट में इस बात का दावा भी किया गया था कि खुदाई का फैसला लेने से पहले संस्कृति सचिव गोविंद मोहन ने एक टीम के साथ कुतुब मीनार कैंपस का निरीक्षण भी कर लिया है।

मीडिया में आईं थी कुतुब मीनार की खुदाई की खबरें

वहीं मीडिया पर आईं इन खबरों में इस बात का भी दावा किया गया था कि निरीक्षण करने पहुंची टीम में ASI के 4 अधिकारी, 3 इतिहासकार और रिसर्चर भी मौजूद थे। ASI के अधिकारियों ने बताया कि कुतुब मीनार में वर्ष 1991 के बाद से खुदाई नहीं हुई है। इस बात का भी मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया गया था कि अभी कई रिसर्च भी पेंडिंग हैं, जिसकी वजह से ये फैसला लिया गया है।

रेड्डी के बयान के बाद सारी अफवाहें धरी की धरी रह गईं

पढ़ें :- हाई कोर्ट की ​हरियाणा सरकार पर सख्त टिप्पणी, कहा- बिना पूछे न दी जाए राम रहीम को पैरोल, 10 मार्च को करे सरेंडर

बता दें कि इसके पहले पूरे देश में जगह-जगह मंदिर और मस्जिद का विवाद छिड़ा हुआ है। राजधानी दिल्ली में स्थित कुतुब मीनार भी इस विवाद से अछूती नहीं रही है। रविवार को ही सोशल मीडिया में इस बात की अफवाह उड़ी थी कि अब कुतुब मीनार (Qutub Minar) की भी खुदाई की जाएगी। इस ऐतिहासिक इमारत की खुदाई के बाद यहां की मूर्तियों की आइकोनोग्राफी (Iconography ) करवाई जाएगी। सोशल मीडिया में इस बात का भी दावा किया गया था कि खुदाई से पहले संस्कृति सचिव ने एक टीम के साथ परिसर का मुआयना भी किया है, लेकिन केंद्रीय मंत्री जी किशन रेड्डी (G Kishan Reddy) के इस बयान के बाद सारी बातें धरी की धरी रह गईं।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...