1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. Rajbala Singh jeevan Parichay : राजबाला सिंह बीजेपी के टिकट पर पहली बार पहुंची विधानसभा

Rajbala Singh jeevan Parichay : राजबाला सिंह बीजेपी के टिकट पर पहली बार पहुंची विधानसभा

Rajbala Singh jeevan Parichay : यूपी (UP) में रामपुर जिले (Rampur District) के निर्वाचन क्षेत्र - 38, मिलक विधानसभा सीट (Constituency - 38, Milak Assembly seat) से राजबाला सिंह (Rajbala Singh) पहली भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party) के टिकट पर विधायक चुनी गई हैं। उत्तर प्रदेश की 17 वीं विधानसभा (17th Legislative Assembly of Uttar Pradesh) के लिए निकटम प्रतिद्वंदी समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के प्रत्याशी विजय सिंह को 16667 वोटों से हराया है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

Rajbala Singh jeevan Parichay : यूपी (UP) में रामपुर जिले (Rampur District) के निर्वाचन क्षेत्र – 38, मिलक विधानसभा सीट (Constituency – 38, Milak Assembly seat) से राजबाला सिंह (Rajbala Singh) पहली भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party) के टिकट पर विधायक चुनी गई हैं। उत्तर प्रदेश की 17 वीं विधानसभा (17th Legislative Assembly of Uttar Pradesh) के लिए निकटम प्रतिद्वंदी समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के प्रत्याशी विजय सिंह को 16667 वोटों से हराया है।

पढ़ें :- Anurag Singh jeevan parichay : अनुराग सिंह ने RSS स्वयं सेवक से बीजेपी विधायक बनने का ऐसे तय किया सफर

ये है पूरा राजनीति सफरनामा

नाम – राजबाला सिंह
निर्वाचन क्षेत्र – 38, मिलक, रामपुर
दल – भारतीय जनता पार्टी
पिता का नाम- गेन्दालाल
जन्‍म तिथि- 20 जून, 1982
जन्‍म स्थान- रामपुर
धर्म- हिन्दू
जाति- अनुसूचित जाति (जाटव)
शिक्षा- बीएड, स्नातकोत्तर
विवाह तिथि- 03 जुलाई, 2009
पति का नाम-  दिलीप सिंह
सन्तान- एक पुत्र, एक पुत्री
व्‍यवसाय- उद्योग
मुख्यावास: ग्राम- नानकार, तहसील- शाहबाद, जनपद- रामपुर

मुख्यमंत्री जी! रामपुर में चरम पर है भ्रष्टाचार

मिलक सुरक्षित सीट से विधायक राजबाला का 16 जनवरी 2020 मुख्यमंत्री को लिखा पत्र मीडिया की सुर्खियां बना था। उन्होंने पत्र में लिखा था कि मुख्यमंत्री जी जनता ने बड़े भरोसे से हमें विधायक चुना है। हमारी सरकार है, हमारे लिए बड़े गौरव की बात है कि हमें बेहद ईमानदार मुख्यमंत्री मिले हैं, लेकिन नौकरशाही में व्यवस्थाएं बदहाल हैं। हालत यह है कि आम आदमी का जायज काम भी बिना पैसे दिए हो रहा है। हमारे पास शिकायतें आती हैं। जिस पर हमने मुख्यमंत्री को अवगत कराने के लिए चिट्ठी लिखी है। मांग की है कि किसी एजेंसी से जांच कराकर दोषियों पर कार्रवाई की जाए।

पढ़ें :- Rajni Tiwari jeevan parichay : मोदी लहर में रजनी तिवारी ने इस सीट पर फहराया भाजपा का झंडा, मारी हैट्रिक

राजनीतिक योगदान

मार्च, 2017 सत्रहवीं विधान सभा के सदस्य प्रथम बार निर्वाचित

 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...