1. हिन्दी समाचार
  2. खेल
  3. फ्लाइंग सिख मिल्खा सिंह के नाम पर स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी पटियाला में बनेगी चेयर, कैप्टन अमरिंदर का बड़ा एलान

फ्लाइंग सिख मिल्खा सिंह के नाम पर स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी पटियाला में बनेगी चेयर, कैप्टन अमरिंदर का बड़ा एलान

देश के पूर्व ओलंपियन पद्मश्री मिल्खा सिंह का शुक्रवार देर रात पीजीआई चंडीगढ़ में निधन हो गया है। फ्लाइंग सिख के नाम से दुनिया भर मे मशहूर मिल्खा सिंह 19 मई को कोरोना संक्रमित मिले थे। मिल्खा सिंह का पार्थिव शरीर अंतिम यात्रा पर रवाना हो गया है। उनका राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया जाएगा।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। देश के पूर्व ओलंपियन पद्मश्री मिल्खा सिंह का शुक्रवार देर रात पीजीआई चंडीगढ़ में निधन हो गया है। फ्लाइंग सिख के नाम से दुनिया भर मे मशहूर मिल्खा सिंह 19 मई को कोरोना संक्रमित मिले थे। मिल्खा सिंह का पार्थिव शरीर अंतिम यात्रा पर रवाना हो गया है। उनका राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया जाएगा। मिल्खा सिंह की याद में पंजाब में एक दिन का राजकीय शोक घोषित किया गया है। शनिवार को कई प्रमुख लोगों ने उन्हें अंतिम श्रद्धांजलि दी।

पढ़ें :- फ्लाइंग सिख मिल्खा सिंह पंचतत्व में विलीन, नम आंखों से प्रशंसकों ने दी देश के हीरो को अंतिम विदाई
Jai Ho India App Panchang

पाकिस्तान के गोविंदपुरा में जन्मे फ्लाइंग सिख मिल्खा सिंह शनिवार को अपनी अनंत यात्रा पर रवाना हो गए है। बता दें कि जीवन में हर कठिनाई को पार कर मिल्खा सिंह ने वो पहचान बनाई और पूरी दुनिया उनकी मुरीद बन गई, लेकिन कोरोना जैसी नामुराद बीमारी ने उनका जीवन बेशक छीन लिया लेकिन वे दिलों में हमेशा जिंदा रहेंगे। चंडीगढ़ में शनिवार शाम जब उनकी अंतिम यात्रा शुरू हुई तो पूरा चंडीगढ़ अपने प्रिय हीरो को सलामी देने उमड़ पड़ा है।

फ्लाइंग सिख के अंतिम दर्शन करने पहुंचे पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह सेक्टर-8 स्थित मिल्खा सिंह के आवास पर पत्रकारों से बातचीत की। इसके बाद उन्होंने एक दिन के राजकीय शोक और स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी पटियाला में मिल्खा सिंह के नाम पर एक चेयर स्थापित करने का ऐलान किया है।

पंजाब के राज्यपाल और चंडीगढ़ के प्रशासक वीपी सिंह बदनौर ने मिल्खा सिंह के निधन पर शोक व्यक्त किया है। उन्होंने लिखा है कि कोरोना वायरस से देश ने एक और महान इंसान को खो दिया है। बदनौर ने अपने शोक संदेश में कहा है कि मिल्खा सिंह द्वारा खेल क्षेत्र में दिए गए योगदान को कभी भुलाया नहीं जा सकता है। चंडीगढ़ के डीसी मनदीप सिंह बराड़ मिल्खा सिंह के घर पहुंचे।शिरोमणि अकाली दल (संयुक्त) के प्रधान सुखदेव सिंह ढींढसा मिल्खा सिंह को श्रद्धांजलि देने उनके निवास स्थल पर पहुंचे।

बीमारी के दौरान ही दिए गए अपने आखिरी इंटरव्यू में उन्होंने वादा किया था। वह तीन-चार दिन में ठीक होकर वापस आ जाएंगे। कोरोना संक्रमण का पता चलने के बाद समाचार एजेंसी पीटीआई से बातचीत में महान फर्राटा धावक मिल्खा सिंह ने कहा था कि वह जल्दी ठीक हो जाएंगे और उन्हें यकीन था कि अपनी स्वस्थ जीवन शैली और नियमित व्यायाम के दम पर वह वायरस को हरा देंगे।

पढ़ें :- मिल्खा सिंह का 'फ्लाइंग सिख' नाम कैसे पड़ा, जानिए इसके पीछे की पूरी कहानी...

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...