1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. UP Election 2022: यूपी में 37 सालों से क्लीनशेव वाले नेता ही बन रहे हैं मुख्यमंत्री, संयोग या फिर कुछ और?

UP Election 2022: यूपी में 37 सालों से क्लीनशेव वाले नेता ही बन रहे हैं मुख्यमंत्री, संयोग या फिर कुछ और?

UP Election 2022: उत्तर प्रदेश की सियासत में बिना मूंछ वाले नेताओं की बड़ी शान रही है। सत्ता के शीर्ष पर इन नेताओं की बहुत ही डिमांड रही और इन्होंने प्रदेश की बागडोर भी संभाली है। बीते 37 सालों के इतिहास को देखें तो यूपी में बिना मूंछ वाले नेता ही मुख्यमंत्री की कुर्सी पर बैठे। इसमें दलित, ओबीसी से लेकर सवर्ण नेता भी शामिल हैं। आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि 37 साल से प्रदेश में कौन—कौन ऐसे क्लीनेशेव वाले नेता रहे, जिनके हाथों में प्रदेश की बागडोर रही।

By शिव मौर्या 
Updated Date

UP Election 2022: उत्तर प्रदेश की सियासत में बिना मूंछ वाले नेताओं की बड़ी शान रही है। सत्ता के शीर्ष पर इन नेताओं की बहुत ही डिमांड रही और इन्होंने प्रदेश की बागडोर भी संभाली है। बीते 37 सालों के इतिहास को देखें तो यूपी में बिना मूंछ वाले नेता ही मुख्यमंत्री की कुर्सी पर बैठे। इसमें दलित, ओबीसी से लेकर सवर्ण नेता भी शामिल हैं। आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि 37 साल से प्रदेश में कौन—कौन ऐसे क्लीनेशेव वाले नेता रहे, जिनके हाथों में प्रदेश की बागडोर रही।

पढ़ें :- Gyanvapi Survey : जज पर भड़के मुनव्वर राना,कहा कि मैं देश का पीएम होता तो उन्हें अरेस्ट करवा देता...

वीर बहादुर सिंह
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे वीर बहादुर सिंह भी मूंछ नहीं रखते थे। 24 सितंबर 1985 से 24 जून 1988 तक वो मुख्यमंत्री थे। इनसे पहले बाबू बनारसी दास, त्रिभूवन नारायण सिंह और चंद्र भानु गुप्ता भी बिना मूंछ वाले सीएम बने थे।

एनडी तिवारी
उत्तर प्रदेश की राजनीति में एनडी तिवारी का बड़ा नाम रहा है। 25 जून 1988 से दिसंबर 1989 तक प्रदेश के मुख्यमंत्री बने रहे। एनडी तिवारी भी मूंछ नहीं रखते थे।

पढ़ें :- राज ठाकरे का अयोध्या दौरा : बीजेपी दो फाड़, बृजभूषण दे रहे हैं चुनौती, तो लल्लू व कटियार समर्थन में कूदे

मुलायम सिंह यादव
देश और उत्तर प्रदेश की राजनीति में मुलायम सिंह यादव का बड़ा नाम है। अपनी सियासी अंदाज के लिए मुलायम हमेशा से जाने जाते हैं। हालांकि, शुरूआत के दिना में मुलायम सिंह यादव की मूंछे रहीं लेकिन बाद में वो क्लीनशेव रहने लगे। मुलायम सिंह यादव प्रदेश में 1989 से 2007 के बीच तीन बाद प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे।

कल्याण सिंह
उत्तर प्रदेश की राजनीति में कल्याण सिंह का बड़ा नाम था। 1991 से 1991 के बीच वो प्रदेश में दो बार मुख्यमंत्री बने। कल्याण सिंह भी अक्सर क्लीनशेव ही रहते थे।

पढ़ें :- Lucknow : मोदी-योगी का डिनर लोकसभा चुनाव 2024 में हैट्रिक जमाने की तैयार करेगा पिच

राम प्रकाश गुप्ता
राम प्रकाश गुप्ता 12 नवंबर से 28 अक्टूबर 2000 के बीच तक मुख्यमंत्री रहे। ये भी क्लीनेशव में रहते थे।

राजनाथ सिंह
देश के मौजूदा रक्षामंत्री राजनाथ सिंह भी यूपी में अक्टूबर 2000 से मार्च 2000 तक यूपी में मुख्यमंत्री रहे। राजनाथ सिंह भी क्लीनसेव भी रहते हैं।

अखिलेश यादव
सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव 2012 से 2017 तक यूपी के मुख्यमंत्री रहे। अखिलेश भी क्लीनसेव रहते हैं।

पढ़ें :- Weather Alert : यूपी समेत इन राज्यों 17 मई को होगी बारिश, भीषण गर्मी और लू से मिलेगी राहत

योगी आदित्यनाथ
प्रदेश के मौजूदा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 2017 में प्रदेश की कमान संभाली थी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी क्लीनशेव में रहते हैं।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...