HBE Ads
  1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. UP News : PDM Alliance ने सात उम्मीदवारों की सूची जारी की, रायबरेली से हाफिज मोहम्मद मोबीन और बरेली से सुभाष पटेल को उतारा

UP News : PDM Alliance ने सात उम्मीदवारों की सूची जारी की, रायबरेली से हाफिज मोहम्मद मोबीन और बरेली से सुभाष पटेल को उतारा

अपना दल कमेरावादी (Apna Dal Kamerawadi)  ने शनिवार को सात लोकसभा सीटों पर अपने प्रत्याशियों के नामों का ऐलान कर दिया है। लखनऊ में डॉ. पल्लवी पटेल (Dr. Pallavi Patel) के उपस्थति में कल देर शाम तक चली बैठक के बाद पिछड़ा, दलित, मुस्लिम (PDM) गठबंधन के प्रत्याशियों की पहली सूची आज सुबह जारी की गई है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

लखनऊ। अपना दल कमेरावादी (Apna Dal Kamerawadi)  ने शनिवार को सात लोकसभा सीटों पर अपने प्रत्याशियों के नामों का ऐलान कर दिया है। लखनऊ में डॉ. पल्लवी पटेल (Dr. Pallavi Patel) के उपस्थति में कल देर शाम तक चली बैठक के बाद पिछड़ा, दलित, मुस्लिम (PDM) गठबंधन के प्रत्याशियों की पहली सूची आज सुबह जारी की गई है।

पढ़ें :- Lok Sabha Election 2024 Phase 5: यूपी में पांचवें चरण की 14 सीटों पर मतदान खत्म, 55 प्रतिशत से ज्यादा हुई वोटिंग

राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य अजय पटेल (National Executive Member Ajay Patel) ने कहा कि पीडीएम (PDM) उत्तर प्रदेश मजबूती से चुनाव लड़ेगी। शेष अन्य सीटों पर शीघ्र ही प्रत्याशियों की घोषणा की जाएगी। पीडीएम (PDM)  ने रायबरेली से हाफिज मोहम्मद मोबीन और बरेली से सुभाष पटेल को चुनाव मैदान में उतारा है। वहीं, हाथरस से डॉ. जयवीर सिंह धनगर, फिरोजाबाद से प्रेमदत्त बघेल, फतेहपुर से रामकिशन पाल, भदोही से प्रेमचंद बिन्द, चंदौली से जवाहर बिन्द को उम्मीदवार बनाया है।

बता दें कि अखिलेश यादव के पीडीए (PDA) के जवाब में अपना दल कमेरावादी (Apna Dal Kamerawadi) ने तीन और पार्टियों के साथ मिलकर पीडीएम न्याय मोर्चा (PDM Justice Morcha) का गठन किया है। इस गठबंधन में अपना दल कमेरावादी, ए.आई.एम.आई.एम., राष्ट्र उदय पार्टी एवं प्रगतिशील मानव समाज पार्टी शामिल हैं। यह गठबंधन यूपी की कई सीटों पर अपने प्रत्याशी उतारेगा।

डॉ. पल्लवी पटेल (Dr. Pallavi Patel)  ने इस गठबंधन को लेकर कहा था कि नए राजनीतिक परिस्थितियों में विभिन्न सामाजिक समूहों खासकर अन्य पिछड़ा वर्ग की अनेक जातियों, दलित एवं मुसलमान का दमन उत्पीड़न एवं अन्याय बढ़ा है। सरकार की कार्यशैली एवं मुख्य विपक्ष का इन सवालों पर पीछे हटना नए राजनीतिक विकल्प की मांग करता है। इसलिए हम पीडीएम के नारे के साथ पिछड़ा दलित, मुसलमान की भागीदारी के सवाल पर और दमन, उत्पीड़न एवं अन्याय के खिलाफ नए राजनीतिक विकल्प की ओर आगे बढ़ रहे हैं।

यहां देखें पूरी सूची-

पढ़ें :- Lok Sabha Election 2024 Phase 5: यूपी में दोपहर तीन बजे तक 47.55 प्रतिशत हुआ मतदान

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...