1. हिन्दी समाचार
  2. दुनिया
  3. US Advisery on Terror : अमेरिका ने अपने नागरिकों को चेताया बोला-‘पाकिस्‍तान जाना खतरे से खाली नहीं…’

US Advisery on Terror : अमेरिका ने अपने नागरिकों को चेताया बोला-‘पाकिस्‍तान जाना खतरे से खाली नहीं…’

अमेरिका ने ट्रैवल एडवाइजरी (US Travel Advisory)जारी करते हुए अपने नागरिकों को चेताया है कि पाकिस्‍तान में हालात ठीक नहीं हैं। इसलिए वह पाकिस्‍तान की यात्रा करने से बचें। अपने चेतवानी में कहा है कि पाकिस्‍तान के कई क्षेत्रों में आतंकी संगठन सक्रिय हैं। भारत भी इस बात को कई वैश्विक मंचों पर साझा कर चुका है। अब अमेरिका ने भी अपने नागरिकों को चेताया है कि पाकिस्‍तान के कई क्षेत्रों में हालात बेहद खराब हैं।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। अमेरिका ने ट्रैवल एडवाइजरी (US Travel Advisory)जारी करते हुए अपने नागरिकों को चेताया है कि पाकिस्‍तान में हालात ठीक नहीं हैं। इसलिए वह पाकिस्‍तान की यात्रा करने से बचें। अपने चेतवानी में कहा है कि पाकिस्‍तान के कई क्षेत्रों में आतंकी संगठन सक्रिय हैं। भारत भी इस बात को कई वैश्विक मंचों पर साझा कर चुका है। अब अमेरिका ने भी अपने नागरिकों को चेताया है कि पाकिस्‍तान के कई क्षेत्रों में हालात बेहद खराब हैं।

पढ़ें :- शहबाज शरीफ का बड़ा कबूलनामा, बोले- पाकिस्तान की प्रमुख समस्याओं में से एक है आतंकवाद

अमेरिका कहा कि  पाकिस्‍तान में आतंकवाद और सांप्रदायिक हिंसा के कारण तनावग्रस्‍त क्षेत्रों में जाने बचना चाहिए। एडवाइजरी में कहा गया, ‘अमेरिका के नागरिकों को बलूचिस्‍तान और खैबर पख़्तूनख़्वा प्रांत के साथ पूर्ववर्ती संघीय प्रशासित कबायली क्षेत्रों (FATA) में नहीं जाना चाहिए। इन क्षत्रों में आतंकवादियों के सक्रिय होने के कारण अपहरण की भी संभावना है। कई क्षेत्रों में खतरा बहुत ज्‍यादा है।’ अमेरिका ने अपने नागरिकों के लिए ये लेवल-3 की एडवाइजरी जारी की है।

 लेवल-3 की अमेरिका ने जारी की एडवाइजरी

अमेरिका में लेवल-3 की एडवाइजरी को बेहद गंभीरता से लिया जाता है। ऐसी एडवाइजरी तब जारी की जाती है, जब किसी जगह पर जाने से यात्रियों और आगंतुकों को दीर्घकालिक या गंभीर स्थिति का सामना करना पड़ सकता है। इसलिए सलाह दी जाती है कि ऐसी जगह पर अगर जरूरी न हो, तो नहीं जाना चाहिए। बता दें कि पाकिस्‍तान में भी काफी अमेरिकी रह रहे हैं। ऐसे अमेरिकी नागरिकों को और संभल कर रहने की जरूरत है।

अमेरिका ने अपने नागरिकों को भारत और पाकिस्‍तान के बीच खिंची लाइन ऑफ कंट्रोल (LoC) की ओर जाने से भी बचने की सलाह दी है। एडवाइजरी में कहा गया है कि एलओसी पर आतंकवादियों के साथ-साथ सशस्‍त्र संघर्ष की संभावना है। ऐसे में लोग संकट में घिर सकते हैं। इस संकट से बचने के लिए अमेरिकी नागरिकों बेहद सतर्क रहने की जरूरत है।

पढ़ें :- Balochistan Terrorist Attack: पाकिस्तान के बलूचिस्तान में आतंकियों ने किया हमला, मुख्य न्यायाधीश की हत्या

एडवाइजरी के कहा गया है कि आतंकवादी बहुत तेजी से बिना किसी चेतावनी के हमला कर सकते हैं। आतंकवादी परिवहन केंद्रों, बाजारों, शॉपिंग मॉल, सैन्य प्रतिष्ठानों, हवाई अड्डों, विश्वविद्यालयों, पर्यटन स्थलों, स्कूलों, अस्पतालों, पूजा स्थलों और सरकारी सुविधाओं को निशाना बना सकते हैं। आतंकवादियों ने अतीत में अमेरिकी राजनयिकों और राजनयिक सुविधाओं को निशाना बनाया है। इसके मद्देनजर लोगों को सावधान रहना चाहिए।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...