1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. West Bengal : जलपाईगुड़ी में मूर्ति विसर्जन के दौरान अचानक आई बाढ़, आठ की मौत, कई लोगों लापता

West Bengal : जलपाईगुड़ी में मूर्ति विसर्जन के दौरान अचानक आई बाढ़, आठ की मौत, कई लोगों लापता

उत्तरी पश्चिम बंगाल (North West Bengal) के जलपाईगुड़ी जिले (Jalpaiguri District) में बुधवार को विजयादशमी (Vijayadashmi)के दिन देवी दुर्गा की प्रतिमाओं के विसर्जन के दौरान एक बड़ा हादसा हो गया। एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि विजयदशमी (Vijayadashmi) के अवसर पर जलपाईगुड़ी जिले (Jalpaiguri District) के माल नदी में देवी दुर्गा की प्रतिमाओं के विसर्जन के दौरान अचानक आई बाढ़ में कम से कम आठ लोगों की डूबने से मौत हो गई है, जबकि कई अन्य लापता हैं। 13 लोगों को अस्पताल में भर्ती किया गया है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

जलपाईगुड़ी। उत्तरी पश्चिम बंगाल (North West Bengal) के जलपाईगुड़ी जिले (Jalpaiguri District) में बुधवार को विजयादशमी (Vijayadashmi)के दिन देवी दुर्गा की प्रतिमाओं के विसर्जन के दौरान एक बड़ा हादसा हो गया। एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि विजयदशमी (Vijayadashmi) के अवसर पर जलपाईगुड़ी जिले (Jalpaiguri District) के माल नदी में देवी दुर्गा की प्रतिमाओं के विसर्जन के दौरान अचानक आई बाढ़ में कम से कम आठ लोगों की डूबने से मौत हो गई है, जबकि कई अन्य लापता हैं। 13 लोगों को अस्पताल में भर्ती किया गया है।

पढ़ें :- माध्यमिक शिक्षा की मजबूती को मुख्यमंत्री देंगे 25 करोड़ रुपये का उपहार, 3 मार्च को साढ़े चार हजार विद्यार्थियों को मिलेगा स्मार्टफोन व टैबलेट

बता दें कि यह घटना बुधवार शाम के वक्त हुई जब विसर्जन समारोह में शामिल होने के लिए सैकड़ों की संख्या में लोग माल नदी के किनारे जमा हो गए। माल क्षेत्र के विधायक बुलु चिक बडाइक ने कहा कि पानी की धारा बहुत तेज थी लोग देखते ही देखते इसमें बहने लगे। उन्हें आशंका है कि इस घटना में और लोगों की जान गई है। नदी में पानी का बहाव कम होने पर रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया जा रहा है।

जलपाईगुड़ी जिले  (Jalpaiguri District) की जिलाधिकारी मौमिता गोदरा ने पीटीआई से कहा कि अचानक आई बाढ़ में लोग बह गए। अब तक आठ शव निकाले जा चुके हैं और हमने करीब 50 लोगों को सुरक्षित निकाला है। उन्होंने कहा कि खोज और बचाव अभियान जारी है। एनडीआरएफ, एसडीआरएफ, पुलिस और स्थानीय प्रशासन बचाव कार्य में जुटा हुआ है। माल क्षेत्र के विधायक बुलु चिक बडाइक ने कहा है कि पानी की धारा बहुत तेज थी लोग देखते ही देखते इसमें बहने लगे।  उन्हें आशंका है कि इस घटना में और लोगों की जान गई है। नदी में पानी का बहाव कम होने पर रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया जा रहा है।

कैसे आता है फ्लैश फ्लड?

जलपाईगुड़ी जिले  (Jalpaiguri District) पश्चिम बंगाल (West Bengal)के उत्तर में स्थित है। इस पहाड़ी जिले में चाय की बगानें हैं। पहाड़ी ढलान होने की वजह से बारिश के बाद पानी तेज धारा के साथ नीचे उतरती है और नदी में मिल जाती है। इस वजह से यहां माल नदी में अक्सर फ्लैश फ्लड आता रहता है। विशेषज्ञों के अनुसार जब एक सीमित इलाके में बहुत तेज वर्षा होती है, तो नदियों, डैम या झीलों में ओवर फ्लो हो जाता है। ये पानी जब प्रवाह रोकने के लिए बनाए गए किनारों को तोड़ कर तेजी से आगे बढ़ता है। फ्लैश हमेशा ऊपरी इलाके से नीचे की ओर तेजी से आता है। प्रचंड धारा होने की वजह से ये अपने मार्ग में आने वाले सभी चीजों को नष्ट कर डालता है। माल नदी में फ्लैश फ्लड आने की वजह किसी ऊपरी इलाके में मूसलाधार बारिश, झील या डैम के किनारों का नुकसान, बादल का फटना रहा होगा। इस वजह से शांत नदी में अचानक सैलाब आ गया।

पढ़ें :- KISS Humanitarian Award : KISS ह्यूमैनिटेरियन अवार्ड से सम्मानित किए गए माइक्रोसॉफ्ट के सह संस्थापक बिल गेट्स
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...