1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. Yogi government बदलेगी सुल्तानपुर जिले का नाम , कैबिनेट की जल्द लग सकती है मुहर

Yogi government बदलेगी सुल्तानपुर जिले का नाम , कैबिनेट की जल्द लग सकती है मुहर

यूपी के अलीगढ़, फिरोजाबाद और देवबंद गाजीपुर, मिर्जापुर और बस्ती के बाद अब सुल्तानपुर (Sultanpur) जिले के नाम बदलकर कुश भवनपुर (Kush Bhawanpur) करने जा रही है। बता दें कि भगवान श्रीराम (Lord Ram) के पुत्र कुश के नाम पर जिले का नाम रखने का फैसला किया गया है। जानकारी के अनुसार, राजस्व परिषद (Revenue Council) ने इस प्रस्ताव की संस्तुति शासन को भेज दी है। नाम बदलने को लेकर योगी सरकार (Yogi government) की कैबिनेट अंतिम फैसला करेगी।

By संतोष सिंह 
Updated Date

लखनऊ। यूपी के अलीगढ़, फिरोजाबाद और देवबंद गाजीपुर, मिर्जापुर और बस्ती के बाद अब सुल्तानपुर (Sultanpur) जिले के नाम बदलकर कुश भवनपुर (Kush Bhawanpur) करने जा रही है। बता दें कि भगवान श्रीराम (Lord Ram) के पुत्र कुश के नाम पर जिले का नाम रखने का फैसला किया गया है। जानकारी के अनुसार, राजस्व परिषद (Revenue Council) ने इस प्रस्ताव की संस्तुति शासन को भेज दी है। नाम बदलने को लेकर योगी सरकार (Yogi government) की कैबिनेट अंतिम फैसला करेगी।

पढ़ें :- यूपी में योगी सरकार के विकास संबंधी दावे सिर्फ जुमला : मायावती
Jai Ho India App Panchang

बता दें किब बीते दिनों विधानसभा के मानसून सत्र में लंभुआ से बीजेपी विधायक देवमणि द्विवेदी (BJP MLA Devmani Dwivedi) ने जिले के नाम बदले जाने का मुद्दा उठाया था। इसके बाद राजस्व परिषद ने यह प्रस्ताव दिया है। बता दें कि इससे पहले अलीगढ़, फिरोजाबाद, देवबंद, गाजीपुर, मिर्जापुर और बस्ती का नाम भी बदलने की मांग सामने आ चुकी है।

सुल्तानपुर (Sultanpur) जिले का नाम बदलने के प्रस्ताव में कहा गया है कि त्रेता युग में भगवान राम के पुत्र कुश की राजधानी कुश भवनपुर हुआ करती थी। कुश के आगे की पीढ़ियों ने द्वापर तक यहां राज किया। कौरव सेना की ओर से लड़ते हुए वीरगति को प्राप्त हुए। इसके बाद में कुश भवनपुर को सुल्तानपुर कहा जाने लगा। जनभावनाओं और ऐतिहासिक तथ्यों को देखते हुए जिले का नाम बदलने की सिफारिश की गई है।

इनके बदले जा चुके हैं नाम

बता दें कि साल 2017 में सत्ता में आने के बाद से योगी सरकार (Yogi government)  कई जिलों, रेलवे स्टेशनों का नाम बदल चुकी है। इनमें इलाहाबाद (प्रयागराज) और फैजाबाद (अयोध्या) जिला शामिल है। वहीं, मुगलसराय रेलवे जंक्शन अब पंडित दीनदयाल उपाध्याय नगर (Pandit Deendayal Upadhyay Nagar) हो गया है। इसी तरह इलाहाबाद जंक्शन अब प्रयागराज जंक्शन, (Prayagraj Junction) इलाहाबाद सिटी स्टेशन प्रयागराज रामबाग, इलाहाबाद छिवकी प्रयागराज छिवकी और प्रयागराज घाट का नाम प्रयागराज संगम किया जा चुका है।

पढ़ें :- Mahant Narendra Giri Death : योगी सरकार गृह मंत्रालय से कर सकती है CBI जांच की सिफारिश

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...