1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. योगी ने ली चुटकी, बोले- ‘इत्र वाले’ के ‘मित्र’ अपनी जेब में ‘स्वीडिश ब्रैंड’ की बोतल ले कर रहे हैं नौटंकी

योगी ने ली चुटकी, बोले- ‘इत्र वाले’ के ‘मित्र’ अपनी जेब में ‘स्वीडिश ब्रैंड’ की बोतल ले कर रहे हैं नौटंकी

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव सोमवार को राजधानी लखनऊ स्थित जय प्रकाश नारायण इंटरनेशनल सेंटर (JPNIC) का निरीक्षण करने पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल से JPNIC की कुछ तस्वीरें शेयर की हैं। इन तस्वीरों में अखिलेश यादव हाथ में कुल्हड़ पकड़े हुए दिखाई दे रहे हैं। तो वहीं एक तस्वीर में अखिलेश यादव की ब्लैक जैकेट दाहिनी जेब से 'बोतल' झांक रही है। जिसको लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रतापगढ़ में एक रैली को संबोधित करते हुए 'बोतल' के लिए सपा अध्यक्ष की चुटकी ले ली।

By संतोष सिंह 
Updated Date

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव सोमवार को राजधानी लखनऊ स्थित जय प्रकाश नारायण इंटरनेशनल सेंटर (JPNIC) का निरीक्षण करने पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल से JPNIC की कुछ तस्वीरें शेयर की हैं। इन तस्वीरों में अखिलेश यादव हाथ में कुल्हड़ पकड़े हुए दिखाई दे रहे हैं। तो वहीं एक तस्वीर में अखिलेश यादव की ब्लैक जैकेट दाहिनी जेब से ‘बोतल’ झांक रही है। जिसको लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रतापगढ़ में एक रैली को संबोधित करते हुए ‘बोतल’ के लिए सपा अध्यक्ष की चुटकी ले ली।

पढ़ें :- UP News: अखिलेश यादव बोले-BJP के लोग कागज लेकर घूम रहे, टाई-सूट पहने लोगों से कर लेते हैं एमओयू

सीतापुर में यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने सोमवार को इत्र कारोबारी के यहां करोड़ों का कैश मिलने पर सपा मुखिया अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) पर जमकर निशाना साधा है।  योगी ने कहा कि ‘मैंने आज तक सुना और धार्मिक ग्रंथों में ये बात देखता था कि देवी लक्ष्मी दीपावली के दिन दीपोत्सव के साथ आती हैं, लेकिन इन पापियों ने उन्हें दीवारों में बंद करके रखा है। अब सपा नेताओं के घरों की दीवारों से भी देवी लक्ष्मी निकलने लगी  हैं। सीएम योगी (CM Yogi) ने यहां 116 करोड़ रुपए लागत की 83 विकास परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया।

 

योगी ने ट्वीट कर लिखा कि ‘आज पैसा दीवारों से निकल रहा है, कमरे नोटों से भरे पड़े हैं। उन्होंने कहा कि अब जनता को समझ में आ रहा होगा कि बबुआ नोटबंदी का विरोध क्यों करता था? आज गरीबों के मकान बन रहे हैं। योगी ने कहा कि पहले यह पैसा कहां चला जाता था? यह गरीबों का ही पैसा है, जो सपा, बसपा और कांग्रेस के नेता लूटकर अपने घरों को बनाते थे।’ योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath)  ने कहा कि बबुआ को इससे चिढ़ हो गई है कि UP के नौजवानों को स्मार्टफोन और टैबलेट क्यों मिल रहे हैं? ये स्मार्टफोन गरीब, प्रदेश की बेटियों के हाथ में आए, टैबलेट का लाभ ऑनलाइन शिक्षा के लिए हमारे नौजवान को मिले ये समाजवादी खानदान कैसे बर्दाश्त कर सकता है?

योगी आदित्यनाथ ने कारोबारी पीयूष जैन के कानपुर और कन्नौत स्थित ठिकानों पर DGGI की रेड में मिले कई सौ करोड़ के कैश, सोने और चांदी को लेकर समाजवादी पार्टी पर तंज कसा है।  उन्होंने कहा कि देखा आपने समाजवादी पार्टी के बबुआ अपनी जेब में बोतल लेकरके फिर रहे हैं। अब उनको जनता के सामने जब अपना असली चेहरा नहीं दिखाई दे रहा है तो स्वीडन में बनी बोतल को अपनी जेब में रख करके एक नई नौटंकी करते दिखाई पड़ रहे हैं।

योगी ने कहा कि ‘लंबे समय तक शासन करने वाली कांग्रेस, सपा और बसपा की विकासपरक सोच नहीं थी। कांग्रेस से पूछा  कि उसने प्रदेश और देश में साढ़े 5 दशक तक शासन किया फिर प्रतापगढ़ में मेडिकल कॉलेज क्यों नहीं बन पाया? विकास, सुशासन और राष्ट्रवाद के मुद्दों पर केवल भारतीय जनता पार्टी ही कार्य कर सकती है और भारतीय जनता पार्टी ने यह कार्य करके दिखाया भी है।

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि देख लीजिए, कानपुर और कन्नौज में क्या हो रहा है, गरीबों की कमाई का पैसा दीवारों से निकल रहा है। पहले की सरकारों में गरीबों की कमाई पर माफिया राज करते थे। गरीबों की जमीनों पर जबरन कब्जा किया जाता था। व्यापारियों का शोषण होता था। अब ऐसा नहीं होगा। अंतर आपको दिख रहा होगा। सरकारी जमीनों और गरीबों-दलितों की भूमि को माफिया के कब्जे से मुक्त कराया जा रहा है। भय मुक्त समाज की परिकल्पना साकार की जा रही है, अवैध कमाई की इमारतों पर बुलडोजर चल रहा है।

 

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...