1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. सुशासन बाबू के राज में इस यूनिवर्सिटी का बड़ा खेल, पूर्णांक 100 अंक की जगह दे दिया 555 अंक

सुशासन बाबू के राज में इस यूनिवर्सिटी का बड़ा खेल, पूर्णांक 100 अंक की जगह दे दिया 555 अंक

बिहार की नीतीश कुमार की सरकार (सुशासन बाबू के राज ) में बड़े-बड़े कारनामे आए दिन उजागर होते रहते हैं। इसी क्रम में बिहार की मुंगेर यूनिवर्सिटी (Munger University) में बड़ा खेल उजागर हुआ है।  सत्र 2018-21 स्नातक (बीए) पार्ट-3 का परीक्षा परिणाम जारी कर दिया है, लेकिन इसमें यूनिवर्सिटी के परीक्षा विभाग की बड़ी लापरवाही सामने आई है। मुंगेर यूनिवर्सिटी (Munger University) ने एक छात्र को स्नातक के तीनों पार्ट को मिलाकर कुल 800 की जगह 868 अंक दे दिए गए है। इसके साथ ही, विद्यार्थियों को पार्ट-3 के ऑनर्स विषय के पेपर-5 में कुल 100 अंक के बदले 555 अंक दिया गया है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

मुंगेर। बिहार की नीतीश कुमार की सरकार (सुशासन बाबू के राज ) में बड़े-बड़े कारनामे आए दिन उजागर होते रहते हैं। इसी क्रम में बिहार की मुंगेर यूनिवर्सिटी (Munger University) में बड़ा खेल उजागर हुआ है।  सत्र 2018-21 स्नातक (BA) पार्ट-3 का परीक्षा परिणाम जारी कर दिया है, लेकिन इसमें यूनिवर्सिटी के परीक्षा विभाग की बड़ी लापरवाही सामने आई है। मुंगेर यूनिवर्सिटी (Munger University) ने एक छात्र को स्नातक के तीनों पार्ट को मिलाकर कुल 800 की जगह 868 अंक दे दिए गए है। इसके साथ ही, विद्यार्थियों को पार्ट-3 के ऑनर्स विषय के पेपर-5 में कुल 100 अंक के बदले 555 अंक दिया गया है।

पढ़ें :- Adani Group News: हिंडनबर्ग-अडानी ग्रुप मामले में सेबी का आया बयान, कहीं ये बाते

वही इतना ही नहीं, छात्रों को कुल 108.5 प्रतिशत अंक दिया गया। बताते चलें कि विश्वविद्यालय ने स्नातक पार्ट-3 के कला संकाय का परिणाम जिसके टीआर के वेबकॉपी को विश्वविद्यालय के आधिकारिक पोर्टल पर भी अपलोड कर दिया गया है। इस परिणाम में केकेएम कॉलेज, जमुई के इतिहास ऑनर्स के एक विद्यार्थी दिलीप कुमार साह (जिसका रोल नंबर 118040073) को उसके पार्ट-3 के पेपर-5 विषय में कुल 100 अंकों में 555 अंक दिया गया। इसकी वजह से ही उसका कुल प्राप्तांक भी 1,130 हो चुका है। सबसे चौंकाने वाली बात ये है कि उसे कुल 108.5 प्रतिशत प्राप्त हुए हैं।

बता दें कि कई तकनीकी वजहों तथा सही से रिजल्ट प्रकाशन को लेकर ही परीक्षा विभाग अपने दो बार परिणाम प्रकाशित करने के दावे की दिनांक पर इसे प्रकाशित नहीं कर पाया था। मुंगेर यूनिवर्सिटी (Munger University) ने जो रिजल्ट जारी किया गया है, उसे चेकर, मेकर के अतिरिक्त परीक्षा नियंत्रक (Examination Controller)  से लेकर कुलपति व प्रतिकुलपति ने भी अनुमोदित किया गया है। वहीं, अब इस मामले में परीक्षा नियंत्रक (Examination Controller) से पूछा जाएगा।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...