1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. शराब माफिया के घर को बीडीए के बुलडोजर ने किया ध्वस्त

शराब माफिया के घर को बीडीए के बुलडोजर ने किया ध्वस्त

प्रदेश सरकार के इतने सख्त होने के बाद भी अपराधियों के हौसलें लगातार बुलंद होते जा रहे हैं। ऐसे में आप को बता दें कि बरेली में अवैध डाउनटाउन बार को बीडीए के बुलडोजर ने ध्वस्त कर दिया है। बता दें कि एक हफ्ते पहले इसको सील कर दिया गया था लेकिन इसके बाद भी बिना खौफ के इसे चलाया जा रहा था।

By प्रिया सिंह 
Updated Date

बरेली। प्रदेश सरकार के इतने सख्त होने के बाद भी अपराधियों के हौसले लगातार बुलंद होते जा रहे हैं। ऐसे में आप को बता दें कि बरेली में अवैध डाउनटाउन बार को बीडीए के बुलडोजर ने ध्वस्त कर दिया है। एक हफ्ते पहले पुलिस ने इसको सील कर दिया गया था। लेकिन इसके बाद भी इसका मालिक मनोज जायसवाल बिना खौफ के इसे चला रहा था।

पढ़ें :- पत्रकार सुलभ श्रीवास्तव की मौत: मायावती बोलीं-यूपी में शराब माफियाओं का आतंक किसी से छुपा नहीं है, हत्या की हो निष्पक्ष जांच

गौरतलब है कि बरेली के बरादरी थाने में आवासीय घर में रेस्टोरेंट और बार चलाने के आरोप में शराब माफिया मनोज जायसवाल के 100 करोड़ की टैक्स चोरी के मुकदमे दर्ज हैं।  मनोज जायसवाल का जिले में 58 शराब और बियर की दुकानें हैं। इसके बाद भी वह अपने आवासी घर में धड़ल्ले से बार चला रहा था। पुलिस ने एक हफ्ते पहले इस बार को सील कर दिया था। लेकिन  मनोज जायसवाल ने बार को बंद नही किया। जिसके बाद बीडीए के बुलडोजर ने अवैध डाउनटाउन बार को ध्वस्त कर दिया।

इस मामले में मनोज जायसवाल की पत्नी अनुप्रिया जायसवाल बुधवार को बीडीए ऑफिस गई थी। वह वहां काफी रोईं और गिड़गिड़ाई कि मेरा डाउन टाउन मत तोड़िये। गुरुवार को भी वह बीडीए आफिस एक इंजीनियर से मिलने गई थी।

आबकारी नियमों के मुताबिक किसी भी एक व्यक्ति को उसकी हैसियत, लाइसेंस फीस और डीएम से जारी चरित्र प्रमाणपत्र देखकर शराब की दुकान का लाइसेंस दिया जाता है। इसमें एक व्यक्ति के नाम पर दो से ज्यादा शराब की दुकानें नहीं हो सकती हैं। लेकिन मनोज जायसवाल की जिले में 58 शराब और बियर की दुकानें हैं।

 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...